भविष्य में बढ़ने वाले शेयर 2025 | 2025 के लिए कौन सा शेयर खरीदें?

भविष्य में बढ़ने वाले शेयर 2025: शेयर मार्केट से बड़ा पैसा कमाने के लिए लोंग टर्म इन्वेस्टमेंट एक अच्छा तरीका है. आप भविष्य में बढ़ने वाले शेयर में पैसा लगाकर अच्छा खासा वेल्थ क्रिएट कर सकते हैं क्योंकि लोंग टर्म इन्वेस्टमेंट ही वह जरिया है जिससे बड़े-बड़े investors ने पैसा कमाया है और अमीर बने हैं।

लेकिन भविष्य में कब और किस इंडस्ट्री में slowdown आ जाए, सरकार के द्वारा उस सेक्टर पर प्रतिबंध लगा दिया जाए या फिर कोई नई कंपनी आ कर बिजनेस चौपट कर जाए यह कोई नहीं बता सकता और इसीलिए future के लिए long term stocks ढूंढना बहुत मुश्किल है।

इसलिए आपको लंबी अवधि के लिए ऐसे शेयर खरीदना चाहिए जिनका बिजनेस भविष्य में सालों साल चलने वाला है और उन कंपनियों के प्रोडक्ट और सर्विसेस की डिमांड भविष्य में बढ़ने वाली है।

आज हम आपके लिए भविष्य में बढ़ने वाले शेयर 2025 की लिस्ट लेकर आए हैं जिसमें हमने केवल उन्हीं शेयरों को सिलेक्ट किया है जो 2024 या 2025 तक निवेशकों को शानदार रिटर्न दे सकते हैं।

आइए जानते हैं 2025 तक बढ़ने वाले शानदार शेयरों के बारे में–

भविष्य में बढ़ने वाले शेयर 2025

भविष्य में बढ़ने वाले शेयर 2025

आज मैं आपको जो शेयर बताने वाला हूं उनका शेयर प्राइस 2025 तक कई गुना बढने वाला है क्योंकि इन सभी कंपनियों का बिजनेस बहुत मजबूत है और फ्यूचर में ग्रोथ की संभावना बहुत ज्यादा है।

अगर आप 2024 या 2025 के लिए बढ़िया शेयर ढूंढ रहे हैं तो आप नीचे दी गई कंपनियों पर विचार कर सकते हैं–

1. Happiest Minds Technologies

भविष्य में बढ़ने वाले शेयर 2025 के लिए सबसे पहला शेयर है Happiest Minds. यह आईटी सेक्टर में काम करने वाली एक हाई ग्रोथ कंपनी है। मिडकैप कंपनी होने के बावजूद इसके फंडामेंटल काफी मजबूत है और भविष्य में इसका शेयर प्राइस तेजी से बढ़ने की संभावना है।

लेकिन किसी भी शेयर में पैसा लगाने से पहले उसके बिजनेस मॉडल के बारे में जानना बहुत जरूरी होता है। तो आइए हैपिएस्ट माइंड के बिजनेस पर एक नजर डालते हैं–

2011 में स्थापित हुई हैपिएस्ट माइंड कंपनी का व्यापार नीचे दिए गए तकनीकी क्षेत्रों में है:

  1. ब्लॉकचेन
  2. क्लाउड
  3. आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI)
  4. डिजिटल प्रोसेस ऑटोमेशन
  5. इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT)
  6. रोबोटिक्स / ड्रोन
  7. ऑगमेंटेड रियलिटी

हैपिएस्ट माइंड का शेयर भविष्य में क्यों बढ़ने वाला है?

नीचे दिए गए पॉइंट्स भविष्य में हैपिएस्ट माइंड शेयर के बढ़ने की संभावना को दर्शाते हैं–

Rating:

  • हैपिएस्ट माइंड कंपनी की Glassdoor rating (4.2) बहुत अच्छी है जोकि आईटी सेक्टर में नंबर 2 है।
  • Glassdoor एक ऐसी वेबसाइट है जिस पर केवल कंपनियों में काम करने वाले emplyees ही रेटिंग दे सकते हैं ताकि यह पता चल सके कि वह अपनी जॉब से कितना खुश है।
  • हैपिएस्ट माइंड रेटिंग इतना अच्छा होने का मतलब है कि कंपनी के employees अपनी जॉब से बहुत खुश हैं जोकि किसी भी कंपनी की ग्रोथ का एक सीधा फैक्टर है क्योंकि वो employees ही होते हैं जो कंपनियों की ग्रोथ को ड्राइव करते हैं।

Management:

  • बेशक employees सिर्फ काम करते हैं लेकिन कंपनी का long term vision और उसकी ग्रोथ मैनेजमेंट ही देखता है।
  • ‘अशोक सूता’ हैपिएस्ट माइंड कंपनी के फाउंडर हैं जो पहले आईटी सेक्टर की एक अन्य मजबूत कंपनी Mindtree के MD और चेयरमैन भी रह चुके हैं.
  • इसके अलावा उन्हें Wipro के आईटी बिजनेस में काम करने का 15 साल का अनुभव है।
  • अब आप सोच ही सकते हैं कि मैनेजमेंट को इतने सालों का अनुभव कंपनी की ग्रोथ के लिए कितना अच्छा है।

Expert suggestion:

  • बड़े-बड़े आईटी दिग्गज का कहना है कि फ्यूचर में यह कंपनी अगला इंफोसिस बन सकता है।

Strong Share price returns:

  • 2020 में ही कंपनी का IPO आया था मतलब कंपनी 166 रुपये/ शेयर पर शेयर बाजार में लिस्ट हुई थी.
  • तब से लेकर अब तक सिर्फ 2 सालों में ही कंपनी अपने निवेशकों को लगभग 200% रिटर्न दे चुकी है।

ग्रोथ की संभावना:

  • अभी कंपनी का कुल market cap सिर्फ 15000 करोड़ के आसपास है जबकि सबसे बड़ा आईटी लीडर कंपनी TCS का मार्केट कैप 11 लाख करोड़ और No. 2 आईटी कंपनी इंफोसिस का 6 लाख करोड़ है
  • इसका मतलब है कि हैपिएस्ट माइंड में ग्रोथ की संभावना बहुत ज्यादा है। मतलब अगर कंपनी का मार्केट कैप 10 गुना बढ़ता है तो आपका निवेश भी 10 गुना हो जाएगा।

Profit growth:

  • कंपनी का प्रॉफिट पिछले 5 सालों में एवरेज 112% CAGR की दर से बढ़ा है।

Return on Equity:

पिछले 3 सालों में रिटर्न ऑन इक्विटी 38.9% रहा है जो कि बहुत शानदार माना जाता है।

इनके अलावा भी बहुत सारे फैक्टर हैं जो इस कंपनी को भविष्य में बढ़ने वाले शेयर 2025 की लिस्ट में शामिल करते हैं।

2. Polycab india Ltd.

2025 तक भविष्य में बढ़ने वाला दूसरा शेयर है Polycab India Ltd. यह cables, wires यानी तार और allied प्रोडक्ट्स बनाने वाली इंडिया की लीडिंग कंपनी है। अभी हाल ही में कंपनी ने कंजूमर इलेक्ट्रिक प्रोडक्ट की एक बड़ी रेंज लांच की है जिनमें पंखे, स्विच, LED लाइट, सोलर मोटर और पंप आदि प्रोडक्ट आते हैं।

पॉलीकैब इंडिया का शेयर भविष्य में क्यों बढ़ने वाला है?

नीचे दिए गए पॉइंट्स भविष्य में Polycab India शेयर के बढ़ने की संभावना को दर्शाते हैं–

ग्रोथ की संभावना:

  • सबको पता है भविष्य में इंडिया में इंफ्रास्ट्रक्चर और इलेक्ट्रिसिटी की डिमांड बढ़ने वाली है जिसको पूरा करने के लिए Polycab India जैसी कंपनियों के प्रोडक्ट की मांग भी बढ़ेगी.
  • इस प्रकार जैसे-जैसे मार्केट साइज बड़ा होता जाएगा तो कंपनी का कारोबार भी बढ़ता जाएगा।

बैकवर्ड इंटीग्रेशन:

  • कंपनियां दो तरीके से अपने बिजनेस को बढ़ाती है फॉरवर्ड इंटीग्रेशन या बैकवर्ड इंटीग्रेशन करके.
  • फॉरवर्ड इंटीग्रेशन का मतलब होता है कि कंपनी अपना तैयार किया हुआ माल खुद ही सस्ते दामों पर बेचने लगती है या फिर जो कंपनियां तैयार माल बेचते हैं उन्हें खरीद लेती है।
  • जबकि बैकवर्ड इंटीग्रेशन इसका उल्टा है मतलब कंपनी अपना प्रोडक्ट तैयार करने के लिए जिस अन्य कंपनी से कच्चा माल खरीदते हैं जब वह उन कंपनियों को ही पूरा खरीद लेती हैं तो ऐसे बैकवर्ड इंटीग्रेशन कहते हैं.
  • पॉलिकैब इंडिया बहुत तेजी से बैकवर्ड इंटीग्रेशन की ओर अग्रसर है इसीलिए इसका कारोबार भविष्य में बहुत तेजी से बढ़ने की उम्मीद है।

FMEG से फायदा:

  • FMEG मतलब फास्ट मूविंग इलेक्ट्रिक गुड्स जिसके अंतर्गत बिजली के लगभग सभी सामान आते हैं.
  • पॉलिकैब इंडिया का रिवेन्यू बहुत तेजी से FMEG सेगमेंट में बढ़ रहा है क्योंकि कंपनी एक के बाद एक कंजूमर इलेक्ट्रिक प्रोडक्ट लॉन्च करती जा रही है।
  • आपको बता दें कि अभी कंपनी का 84% रिवेन्यू सिर्फ wires और cables के जरिया ही आता है और मात्र 9% ही FMEG सेगमेंट के जरिए आता है मतलब इस सेगमेंट में अभी बहुत सारा ग्रोथ पोटेंशियल बाकी है।
  • अब आप खुद सोच सकते हैं कि फ्यूचर में पॉलिकैब इंडिया का शेयर कितनी तेजी से बढ़ सकता है।

High Margin business:

  • आपको बता दें कि कंजूमर इलेक्ट्रिक प्रोडक्ट्स का margin बहुत ही Hign होता है जिससे कंपनियों को मुनाफा भी ज्यादा होता है।
  • जैसा कि मैंने बताया भविष्य में जैसे जैसे पॉलिकेब इंडिया अपनी प्रोडक्ट रेंज बढ़ाएगा तो इनका बिजनेस और प्रॉफिट मार्जिन दोनों ही फ्यूचर में बढ़ने वाले हैं।

यही कुछ कारण है जिनकी वजह से मुझे लगता है कि Polycab इंडिया का शेयर भविष्य में बढ़ने वाले शेयर 2025 की लिस्ट में एक मजबूत शेयर साबित हो सकता है।

3. Tata power

2025 तक बढ़ने वाले शेयर में ‘टाटा पावर’ एक मजबूत शेयर है. बेशक भविष्य में पावर की रिमांड बहुत तेजी से बढ़ने वाली है जिसको टाटा ग्रुप का यह मजबूत कंपनी पूरा कर सकता है।

टाटा पावर का बिजनेस भविष्य में रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर में बहुत तेजी से बढ़ने वाला है। जो देश में कार्बन एमिशन को कम करेगा और प्रदूषण मुक्त ग्रीन एनर्जी को बढ़ावा देगा।

टाटा पावर शेयर को लेकर लोगों के मन में कुछ doubts होते हैं जैसे;

1. अदानी पावर और टाटा पावर में से कौन सा शेयर खरीदें?

बहुत सारे लोग अदानी पावर और टाटा पावर की आपस में तुलना करते हैं लेकिन मैं आपको बता दूं कि अगर आप रिन्यूएबल एनर्जी को लेकर बुलिश हैं तो आपको टाटा पावर का शेयर ही पसंद आएगा।

ऐसा मैं इसलिए बोल रहा हूं क्योंकि अदानी पावर का अधिकतर बिजनेस थर्मल पावर यानी कोयला जलाकर बिजली उत्पादन करने से आता है जो पर्यावरण के लिए प्रदूषण का कारण बनता है।

2. क्या टाटा पावर के बजाय अदानीग्रीन के शेयर खरीदना अच्छा निवेश है?

हो सकता है कि कुछ लोग Adani green के शेयर पर bullish होंगे क्योंकि अदानी ग्रीन कंपनी रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर में एक लीडिंग कंपनी है.

लेकिन दिक्कत यह है कि इस पर कर्ज (debt) बहुत ज्यादा है।

कर्ज के अलावा कंपनी का शेयर 700 के पीई रेश्यो पर ट्रेड कर रहा है और इतना महंगा वैल्यूएशन अदानी ग्रीन कंपनी के लिए होना अच्छा नहीं है।

यही कारण है कि निवेशक अदानी ग्रीन शेयर की वजह टाटा पावर को ही खरीदना पसंद करते हैं।

टाटा पावर का शेयर प्राइस 2025 तक कितना बढ़ सकता है?

आगे कुछ पॉइंट के जरिये समझते हैं कि टाटा पावर का शेयर 2024 -25 तक कितना ऊपर जा सकता है–

इलेक्ट्रिक व्हीकल इकोसिस्टम:

  • आपको पता होगा इंडिया में इलेक्ट्रिक वाहनों की डिमांड बहुत तेजी से बढ़ने वाली है।
  • इस इलेक्ट्रिक व्हीकल की डिमांड को पूरा करने के लिए टाटा ग्रुप की सारी कंपनियां मिलजुल कर योगदान देंगी जिसमें टाटा पावर चार्जिंग स्टेशन बनाएगा जिसका काम बहुत तेजी से चालू हो चुका है।
  • टाटा पावर का लक्ष्य है 2025 तक भारत में 1 लाख चार्जिंग स्टेशंस तैयार करना ताकि भारत की EV इंडस्ट्री को बढ़ावा मिल सके।

रिन्यूएबल एनर्जी की ओर अग्रसर:

  • कंपनी का कहना है कि 2025 तक वह अपना ग्रीन एनर्जी शेयर 60% तक बढ़ाने वाले हैं.
  • और 2030 तक इसी capacity को ये 80% increase करना चाहते हैं।
  • 2050 तक कंपनी का लक्ष्य है कि वह कार्बन न्यूट्रल बन जाएंगे मतलब कंपनी जितना भी बिजली उत्पादन करेगी वह अक्षय ऊर्जा यानी रिन्यूएबल एनर्जी पर आधारित होगा.

High Capex Investment:

  • कंपनी की अभी कैपेसिटी अपनी 13.5 GW (गीगावाट) है जिसे वह 2027 तक बढ़ाकर 30 GW करने वाले हैं और इसी रिन्यूएबल एनर्जी कैपेसिटी को बढ़ाने के लिए कंपनी अगले 5 सालों में 75000 करोड़ capex इन्वेस्ट करने वाली है।

टाटा पावर के मैनेजमेंट का का इतना strong vision होने के कारण experts भी मानते हैं कि टाटा पावर का शेयर भविष्य में मल्टीबैगर स्टॉक बनने वाला है। इन्हीं सब कारणों के चलते भविष्य में बढने वाले शेयर 2025 की इस सूची में टाटा पावर को स्थान दिया गया है।

4. Tata motors

Best future stocks 2025 की सूची में टाटा मोटर्स एक शानदार कंपनी है। राकेश झुनझुनवाला जैसे बड़े इन्वेस्टर ने इस कंपनी के शेयर को खरीदा है। भविष्य के इलेक्ट्रिक व्हीकल के लिए अगर कोई कंपनी बड़े पैमाने पर काम कर रही है तो वह है ‘टाटा मोटर्स’

भले ही अभी कंपनी पर कर्ज बहुत ज्यादा है इलेक्ट्रिक व्हीकल के रास्ते खुलने से कंपनी अपना सारा कर्ज चुकाने में सक्षम हो जाएगी।

भविष्य में टाटा मोटर्स का शेयर कब बढ़ेगा?

नीचे कुछ कारण दिए गए हैं जिनकी वजह से टाटा मोटर्स का शेयर प्राइस भविष्य में बढ़ सकता है―

मल्टीबैगर शेयर बनने की संभावना:

  • सरकार का लक्ष्य है कि 2030 तक 80% गाड़ियां electric vehicle होनी चाहिए क्योंकि 2050 तक भारत सरकार अपने जीरो कार्बन एमिशन के लक्ष्य को पाना चाहती है।
  • अभी अगर देखें तो पूरे EV मार्केट में टाटा मोटर्स सबसे मजबूत कंपनी है और इलेक्ट्रिक व्हीकल में सबसे आगे हैं क्योंकि उनके पास टाटा ग्रुप का पूरा इकोसिस्टम है.
  • पेट्रोल डीजल वाहनों से वातावरण में कार्बन एमिशन होता है और इसीलिए कार्बन न्यूट्रल अर्थात प्रदूषण मुक्त बनने के लिए सरकार 2030 तक लगभग सभी गाड़ियों को इलेक्ट्रिक व्हीकल से रिप्लेस करना चाहती है।
  • इसका सबसे ज्यादा फायदा टाटा मोटर्स को होगा इस प्रकार कंपनी का शेयर भविष्य में मल्टीबैगर बन सकता है।

रेवेन्यू में बढ़ोतरी:

  • कंपनी बहुत तेजी से अपने रेवेन्यू में बढ़ोतरी कर रही है और आने वाले समय में भी इसी तरह करती रहेगी।
  • इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि 2021 में 13700 इलेक्ट्रिक व्हीकल गाड़ियां बिकी थी जिसमें से 11600 गाड़ियां टाटा मोटर्स की थी।
  • साथ ही इनकी Tata Nexon जैसी इलेक्ट्रिक व्हीकल मार्केट में खूब धूम मचा रही है और कंपनी बहुत तेजी से एक के बाद एक इलेक्ट्रिक व्हीकल लांच करती जा रही है जिससे लगता है कि भविष्य में कंपनी का रिवेन्यू कई गुना बढ़ सकता है।

टाटा इकोसिस्टम का फायदा:

  • टाटा मोटर्स को इलेक्ट्रिक गाड़ियां बनाने के लिए पूरे टाटा इकोसिस्टम का फायदा मिलेगा मतलब टाटा ग्रुप की अन्य कंपनियां इसे मदद करेंगी।
  • टाटा पावर चार्जिंग स्टेशंस बनाएगा,
    TCS और टाटा एलेक्सी इलेक्ट्रिक गाड़ियों में नई टेक्नोलॉजी और सॉफ्टवेयर सॉल्यूशन प्रदान करेंगे,
    Tata croma कंपनी EV के डिजिटल एक्सपीरियंस में मदद करेगी,
    इसके बाद आपको पता है गाड़ी खरीदने के लिए लोन की जरूरत पड़ती है तो उसके लिए टाटा कैपिटल (Tata Finance) मदद करेगा.

EV इंडस्ट्री में मोनोपोली:

  • आज EV में टाटा मोटर्स का 80% market share है और आज देश में हर पांचवीं गाड़ी टाटा की बिकती है।
  • EV मार्केट में 80% मार्केट शेयर होने का सबसे बड़ा कारण टाटा इकोसिस्टम ही है।
  • इलेक्ट्रिक व्हीकल बनाने के लिए बैटरी बनाने से लेकर चार्जिंग स्टेशंस तक सब काम खुद ही करने पड़ते हैं लेकिन टाटा मोटर्स अपने कंपटीशन से हमेशा आगे रहेगा क्योंकि इनके पास टाटा का मजबूत इकोसिस्टम है.
  • इस प्रकार अगर देखा जाए तो पूरे इलेक्ट्रिक व्हीकल मार्केट में टाटा मोटर्स की monopoly होने वाली है।

अगर आप 2025 के लिए कोई बढ़िया शेयर खरीदना चाहते हैं तो टाटा मोटर्स पर विचार कर सकते हैं। बड़े-बड़े शेयर मार्केट विशेषज्ञ मानते हैं कि टाटा मोटर्स का शेयर भविष्य में सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाला शेयर भी बन सकता है।

5. HDFC Bank

भविष्य में बढ़ने वाले शेयर में HDFC Bank का नाम जरूर आता है जिसके शेयर की कीमत 2025 तक बहुत तेजी से बढ़ सकती है। Nifty50 में यह बैंकिंग सेक्टर का नंबर 1 स्टॉक है। अगर बैंकिंग सेक्टर बढ़ेगा तो सबसे तेज ग्रोथ एचडीएफसी बैंक में आने वाली है।

बैंकिंग सेक्टर का यह स्टॉक पहले ही मल्टीबैगर बन चुका है और भविष्य में भी मल्टीबैगर रिटर्न्स देने की पूरी क्षमता रखता है।

क्या एचडीएफसी बैंक का शेयर प्राइस भविष्य में बढ़ने वाला है?

नीचे दिए गए कारण बताते हैं कि एचडीएफसी बैंक का शेयर भविष्य के लिए क्यों एक अच्छा निवेश हो सकता है–

पेमेंट बिजनेस में लीडर–

  • इंडिया के payment इकोसिस्टम में एचडीएफसी एक लीडिंग बैंक है.
  • एचडीएफसी बैंक के द्वारा लगभग 3 करोड़ से ज्यादा डेबिट कार्ड और 1 करोड़ से ज्यादा क्रेडिट कार्ड इश्यू किए गए हैं.
  • एक रिपोर्ट के अनुसार, कार्ड इस्तेमाल करने वाला हर तीसरा व्यक्ति एचडीएफसी के कार्ड से ही पेमेंट करता है.
  • इंडिया में 17 लाख से भी ज्यादा इनके merchant point हैं।
  • इलेक्ट्रॉनिक कार्ड का लगभग 50% वॉल्यूम market share अकेला एचडीएफसी बैंक के पास ही है।

बैंकिंग सेक्टर में लीडर–

  • एचडीएफसी बैंक डायरेक्ट टैक्स collect करने वाला दूसरा सबसे बड़ा बैंक है।
  • 7 करोड़ से ज्यादा कस्टमर बेस है।
  • देश भर में 6000 से ज्यादा ब्रांचेस और 13000 से ज्यादा outlates स्थापित हैं।
  • इंडिया जैसे बड़े मार्केट में यह एकलौता प्राइवेट सेक्टर का No. 1 बैंक है जिसके पास 60% मार्केट शेयर है.
  • Semi- Urban ओर Rural क्षेत्रों में इसका सबसे बड़ा नेटवर्क है.
  • Auto loan सेगमेंट में एचडीएफसी मोनोपोली रखता है जिसमें यह पैसेंजर व्हीकल, कमर्शियल व्हीकल और टू व्हीलर को फाइनेंसिंग प्रदान करता है।
  • देखा जाए तो एचडीएफसी लगभग सभी assets कैटेगरी में मार्केट लीडर पोजीशन रखता है।

अगर आप बैंकिंग सेक्टर पर बुलिश हैं तो बैंकिंग सेक्टर के नंबर 1 स्टॉक HDFC Bank पर विचार कर सकते हैं। ऊपर दिए गए कारणों से यह पता चलता है कि भविष्य में एचडीएफसी बैंक का कारोबार तेजी से बढ़ने वाला है जिस कारण इस समय शेयर में निवेश करना अच्छा इन्वेस्टमेंट हो सकता है।

6. APL Apollo Tubes

भविष्य में बढ़ने वाले शेयर 2025 की लिस्ट में आखिरी शेयर है APL Apollo Tubes. यह कंपनी स्टील पाइप और ट्यूब बनाती है जो बिल्डिंग इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने के लिए जरूरी है। कंपनी का बिजनेस काफी मजबूत है और भविष्य में इंफ्रास्ट्रक्चर में ग्रोथ आने से शेयर प्राइस बढ़ने वाला है।

क्या एपीएल अपोलो ट्यूब्स के शेयर खरीदना चाहिए?

नीचे दिए गए कुछ पॉइंट के जरिए आप समझ सकते हैं कि एपीएल अपोलो ट्यूब्स में भविष्य के लिए निवेश करना क्यों अच्छा है?

इंफ्रास्ट्रक्चर ग्रोथ से फायदा:

  • हम सभी जानते हैं कि किसी भी देश के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर कितना जरूरी होता है। ट्रांसपोर्टेशन सिस्टम्स, कम्युनिकेशन नेटवर्क, सड़के, बिल्डिंग, इलेक्ट्रिक सिस्टम्स आदि सभी इंफ्रास्ट्रक्चर के उदाहरण हैं।
  • देश के इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट में जितनी तेजी से ग्रोथ आएगी उसका फायदा एपीएल अपोलो ट्यूब्स को मिलने वाला है क्योंकि यह जो steel tubes और pipes बनाते हैं वह बिल्डिंग इंफ्रास्ट्रक्चर में बहुत जरूरी होते हैं।

एपीएल अपोलो ट्यूब्स कंपनी इंडिया में galvanized pipes का सबसे बड़ा सप्लायर है जिसका इस्तेमाल लेने निम्न चीजों में किया जाता है–

  • Fencing,
  • Cabling and Ducting,
  • Automotive (Bus Body),
  • Greenhouse Structures,
  • Gates and Grills,
  • Electrical Conduit
  • Scaffolding

इसके अलावा कंपनी ब्लैक पाइप भी बनाती है जिसका इस्तेमाल water transmission में किया जाता है मतलब पानी को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने में ब्लैक पाइप का उपयोग बहुत ज्यादा use होता है।

  • स्टील कंस्ट्रक्शन पाइप में कंपनी का 50% मार्केट शेयर है। इस सेगमेंट में इनका मार्केट शेयर 2016 में 27% था जो अब बढ़कर 50% हो चुका है और भविष्य में बहुत तेजी से बढ़ने वाला है।
  • भविष्य में skyscrapers, infrastructure, airports और warehousing ये चारों क्षेत्र कंपनी के लिए growth drivers हो सकते हैं।
  • इन सभी क्षेत्रों में कंपनी अपना कारोबार बढ़ाने के लिए मौकों की तलाश कर रही है।
  • देशभर में इनके 800 से ज्यादा डिस्ट्रीब्यूटर्स और 50,000 से ज्यादा रिटेलर हैं जो कंपनी को अच्छा खासा रेवेन्यू लाकर देते हैं।
  • पिछले कुछ सालों में कंपनी ने लगातार बहुत अच्छी सेल्स और प्रॉफिट ग्रोथ दिखाई है।
  • पिछले 5 सालों में एपीएल अपोलो ट्यूब्स का शेयर निवेशकों को 450% ज्यादा रिटर्न दे चुका है।

बहुत सारे एक्सपर्ट्स मानते हैं कि भविष्य में एपीएल अपोलो ट्यूब्स का शेयर शानदार रिटर्न दे सकता है।  भविष्य में इंफ्रास्ट्रक्चर निर्माण बढ़ने से इस कंपनी को फायदा होगा और इसीलिए हमने 2025 तक बढ़ने वाले शेयर की सूची में एपीएल अपोलो ट्यूब्स को रखा है।

भविष्य में बढ़ने वाले शेयर 2025 की लिस्ट

No.शेयर का नामशेयर प्राइस
1.Happiest Minds1000 Rs
2.Polycab India2637 Rs
3.Tata power220 Rs
4.Tata Motors410 Rs
5.HDFC Bank1456 Rs
6.APL Apollo Tubes1100 Rs

FAQ’s related best future stocks in India

भविष्य में बढ़ने वाले कौन से शेयर हैं जो 2025 तक शानदार रिटर्न दे सकते हैं?

हैपिएस्ट माइंड, एचडीएफसी बैंक, एपीएल अपोलो ट्यूब्स और पॉलिकैब इंडिया को कुछ ऐसे शेयर हैं जिनका शेयर प्राइस भविष्य में बढ़ने वाला है।

2024 तक कौन से शेयर बढ़ने वाले हैं?

ऊपर इस लिस्ट में बताए गए सभी शेयर 2024 तक बढ़ने वाले हैं.

लंबी अवधि के लिए कौन से शेयर खरीदे?

लंबी अवधि के निवेश के लिए उन कंपनियों के शेयर खरीदे जिनके प्रोडक्ट की डिमांड भविष्य में बढ़ने वाली है।

अमीर बनने के लिए किस कंपनी के शेयर खरीदना चाहिए?

अमीर बनने के लिए ऐसे शेयर खरीदना चाहिए जिसके फंडामेंटल मजबूत हो, बिजनेस मॉडल स्ट्रांग हो, कंपनी के पास कंपटीशन एडवांटेज हो, प्रोडक्ट या सर्विस की डिमांड भविष्य में बढ़ने वाली हो और कंपनी नए-नए इनोवेशन करती हो।

भविष्य में बढ़ने वाले शेयर 2025 – निष्कर्ष

मैं उम्मीद करता हूं आपको यह पोस्ट भविष्य में बढ़ने वाले शेयर 2025 के बारे में पसंद आई होगी।

इस लिस्ट में मैंने आपको केवल वही शेयर बताए हैं जिनका बिजनेस भविष्य में बढ़ सकता है और कंपनी स्ट्रांग sales और profit growth दिखा सकती है।

नीचे कमेंट करके बताइए ऊपर दी गई लिस्ट में से आपको कौन सा शेयर पसंद आया?

साथ ही इस लिस्ट में हमें और कौन सा शेयर ऐड करना चाहिए वो भी आप कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं.

ये भी पढ़े,

4.4/5 - (82 votes)
Deepak SenAbout Author
मेरा नाम दीपक सेन है और मैं इस ब्लॉग का Founder हूं। यहां पर मैं अपने पाठकों के लिए नियमित रूप से शेयर मार्केट, निवेश और फाइनेंस से संबंधित उपयोगी जानकारी शेयर करता हूं। ❤️

Leave a Comment