मोबाइल ट्रेडिंग क्या है और मोबाइल से ट्रेडिंग कैसे करें?

मोबाइल से ट्रेडिंग कैसे करें, मोबाइल से ट्रेडिंग करने का तरीका, क्या मोबाइल से ट्रेडिंग करना सम्भव है,जानिए मोबाइल से ऑनलाइन ट्रेडिंग कैसे करते हैं, How to do mobile trading in hindi

आजकल बहुत सारे ट्रेडर्स अपने मोबाइल फोन से ही ट्रेडिंग करना चाहते हैं क्योंकि कुछ लोगों के पास डेक्सटॉप या लैपटॉप नहीं है इसलिए वह जानना चाहते हैं कि आखिर Mobile se trading kaise kare?

इसके अलावा कुछ निवेशक इसलिए मोबाइल से ट्रेडिंग करना सीखना चाहते हैं क्योंकि मोबाइल से ट्रेडिंग करने के लिए, आपको डेस्कटॉप या लैपटॉप के सामने बैठने की जरूरत नहीं होती है मतलब आप अपने मोबाइल को कहीं पर भी आसानी से ले जा सकते हैं और ट्रेडिंग करना शुरू कर सकते हैं।

आजकल मार्केट में बहुत सारी ट्रेडिंग एप्स (tradingview, upstox, zerodha) आ गई है जिनके द्वारा आप सिर्फ अपने फोन से ऑनलाइन ट्रेडिंग कर सकते हैं।

शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करने के साथ ही आप स्टॉक, करेंसी, कमोडिटीज आदि financial instruments में बड़ी आसानी से अपने मोबाइल फोन पर ट्रेडिंग कर सकते हैं।

इसके अलावा आप अपने मोबाइल फोन से ही अपने ट्रेडिंग अकाउंट की परफॉर्मेंस और पोर्टफोलियो को ट्रैक कर सकते हैं, और मार्केट ट्रेंड्स और न्यूज को भी फॉलो कर सकते हैं। इसलिए, मोबाइल से ट्रेडिंग का कॉन्सेप्ट इन्वेस्टर्स के लिए बहुत ही मददगार और टाइम सेविंग है।

अगर आपको मोबाइल ट्रेडिंग क्या है और मोबाइल से ट्रेडिंग कैसे करें, इस विषय पर जानकारी चाहिए, तो आप बिल्कुल सही जगह आए हैं। क्योंकि इस पोस्ट में हम आपको मोबाइल से ट्रेडिंग करने के बारे में step by step बताने वाले हैं।

चलिए अब जानते हैं कि मोबाइल से ट्रेडिंग कैसे करते हैं

इस पोस्ट में आप जानेंगे-

मोबाइल से ट्रेडिंग कैसे करें (Mobile se trading kaise kare)

मोबाइल से ट्रेडिंग कैसे करें, mobile se trading kaise kare

🔥 Whatsapp Group👉 अभी जुड़ें
🔥 Telegram Group👉 अभी जुड़ें

वैसे मोबाइल से ट्रेडिंग करने में निवेशकों को बहुत सारी प्रॉब्लम आती है क्योंकि फोन की स्क्रीन बहुत छोटी होती है। इसी कारण आप इंडिकेटर्स, वॉल्यूम और स्टॉक के चार्ट को उतने अच्छे से analyse नहीं कर पाते जितने अच्छे से लैपटॉप पर कर लेते हैं

लेकिन आजकल मार्केट में स्मार्टफोन से ट्रेडिंग करने के लिए बहुत ही बढ़िया ट्रेडिंग एप्स आ गए हैं जिनका इंटरफेस बहुत ही सिंपल और mobile trading के लिए ही बनाया गया है। इन मोबाइल ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म्स के जरिए आप बड़ी ही आसानी से अपने मोबाइल फोन से ट्रेडिंग कर सकते हैं।

अगर मैं short में कहूं तो–

मोबाइल से ट्रेडिंग करने के लिए आपको अपने फोन में ऑनलाइन डीमैट अकाउंट खोलना होगा. इसके बाद अपने बैंक खाते से ट्रेडिंग अकाउंट में पैसा ऐड करें। अब आपको सही स्टॉक सिलेक्ट करना है उसके बाद आप शेयर को ट्रेड (buy और sell) कर सकते हैं।

आइए अब मोबाइल फोन से ट्रेडिंग करने के सभी स्टेप्स एक-एक करके जान लेते हैं–

1. मोबाइल में ऑनलाइन डीमैट खाता खोलें

मोबाइल से ट्रेडिंग करने का सबसे पहला स्टेप है ऑनलाइन डिमैट अकाउंट खोलना. सबसे पहले आपको किसी भरोसेमंद ब्रोकर के पास डीमैट अकाउंट खोलना होगा ताकि उसमें आप अपने मोबाइल फोन से शेयर खरीद और बेच सकें यानी ट्रेड कर सकें।

मैं आपको upstox पर डिमैट अकाउंट खोलने की सलाह देता हूं क्योंकि upstox इंडिया का सबसे भरोसेमंद ब्रोकर है जिस पर आप फ्री में अपना डीमैट खाता खोल सकते हैं।

अपस्टोक्स की मोबाइल ऐप के द्वारा अपने आसानी से अपने मोबाइल फोन से–

  • स्टॉक के चार्ट देख सकते हैं,
  • उस chart पर ट्रेंडलाइन, सपोर्ट, रेजिस्टेंस, मूविंग
  • एवरेज और इंडिकेटर्स आदि लगा सकते हैं,
  • अपने पसंदीदा स्टॉक्स की वॉचलिस्ट क्रिएट कर सकते हैं,
  • Stop loss और GTT order लगा सकते हैं जिसके जरिए आपको किस प्राइस पर buy और किस प्राइस पर sell करना है यह एक ही बार में बता सकते हैं मतलब आपको बार-बार स्टॉक का प्राइस देखने की जरूरत नहीं होगी।

इसके अलावा भी upstox app में मोबाइल रिपेयरिंग करने के लिए बहुत सारे उपयोगी फीचर्स हैं जिनके जरिये आप बड़ी आसानी से सिर्फ अपने फोन से अपस्टॉक्स ऐप के जरिए करना शुरू कर सकते हैं।

2. अब अपने मोबाइल फोन में ट्रेडिंग एप इंस्टॉल करें

मोबाइल से ट्रेडिंग करने के लिए आपको Upstox app को अपने फोन में इंस्टॉल करके लॉगिन होगा।

अगर आपने पहली बार अपस्टॉक्स app को इंस्टॉल किया है और आपने पहले कभी भी upstox पर डिमैट अकाउंट नहीं खोला है तो यह आपसे login करने के लिए यूजर आईडी और पासवर्ड मांगेगा

(ये ID और password आपको डिमैट अकाउंट खोलने के बाद प्राप्त होती है)

  • इसलिए upstox mobile app को इंस्टॉल करने के बाद डिमैट अकाउंट खोलने के लिए साइन अप करके अपनी सारी डिटेल्स सबमिट करना होगा पैन कार्ड, आधार कार्ड, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, बैंक अकाउंट नंबर, अपने फोन से खींची गई सेल्फी आदि।
  • सभी डिटेल्स भरने के बाद आपका डिमैट अकाउंट खुल जाएगा और 48 घण्टे के अंदर आपकी ईमेल आईडी पर यूजर आईडी और पासवर्ड भेज दिया जाएगा जिसको upstox app में डालकर आप बड़ी आसानी से लॉगिन कर सकते हैं।

3. अपने बैंक से ट्रेडिंग अकाउंट में पैसा ऐड करें

डिमैट खाता खोलने के बाद अब आपको अपने बैंक अकाउंट से ट्रेडिंग अकाउंट में पैसा ट्रांसफर करना होगा ताकि आप स्टॉक को buy और sell कर सकें।

ध्यान रखिए– आपने जिस बैंक अकाउंट से पैसा ट्रांसफर किया है उसमें वही मोबाइल नंबर लिंक होना चाहिए जिसके द्वारा आपने डिमैट अकाउंट खोला है।

एक बार जब आप अपने ट्रेडिंग अकाउंट में अपने बैंक खाते या डेबिट कार्ड या फिर UPI के द्वारा पैसा ऐड कर लेते हैं तो अब आप मोबाइल से ट्रेडिंग करना शुरू कर सकते हैं।

4. मोबाइल ट्रेडिंग एप में स्टॉक सिलेक्ट करें

मोबाइल से ट्रेडिंग करने के लिए अब आपको स्टॉक सिलेक्ट करना होगा जिसे आप खरीदना या बेचना चाहते हैं। अगर आपको लगता है कि किसी शेयर का प्राइस बढ़ने वाला है तो आप उसे खरीद सकते हैं।

लेकिन अगर आपको लगता है कि किसी शेयर का प्राइस घटने वाला है तो आप उसे short sell कर सकते हैं जिसमें आप शेयर को पहले ही बेच सकते हैं। इसके अलावा आप ऑप्शन ट्रेडिंग के जरिए put option भी खरीद सकते हैं।

सही स्टॉक सिलेक्ट करने के लिए आपको उस स्टॉक वॉल्यूम, मोमेंटम, तकनीकी इंडिकेटर, प्राइस एक्शन और चार्ट देखना होगा.

इसके बाद आपको पता लगाना होगा कि वह स्टॉक किस दिशा में जाने का संकेत दे रहा है। अगर वह ऊपर जाने का संकेत दे रहा है तो call option खरीद लीजिए और अगर नीचे जाने का संकेत दे रहा है तो put option खरीदकर प्रॉफिट कमा सकते हैं।

5. अब शेयर मार्केट में स्टॉक का चार्ट देखें

मोबाइल से ट्रेडिंग करते समय स्टॉक का चार्ट एनालिसिस करना बहुत जरूरी होता है। क्योंकि जब आप किसी शेयर का चार्ट देते हैं तो आपको पता चलता है कि–

  1. उसके सपोर्ट और रेजिस्टेंस लेवल क्या हैं,
  2. स्टॉक का वॉल्यूम कितना है और नेगेटिव है या पॉजिटिव,
  3. मार्केट का ट्रेंड किस ओर है,
  4. कैंडलेस्टिक पेटर्न क्या संकेत दे रहे हैं,
  5. चार्ट पर ट्रेड करने के लिए कौन सा पैटर्न बन रहा है,
  6. स्टॉक के चार्ट पर किस लेवल पर ब्रेकआउट आ सकता है।

यह सभी चीजें आपको केवल तभी पता चलेंगे जब आप चार्ट देखेंगे लेकिन आपको चार्ट एनालिसिस करना भी आना चाहिए।

6. टेक्निकल एनालिसिस और टाइम फ्रेम सिलेक्ट करें

मोबाइल से ट्रेडिंग करते वक्त जब आप चार्ट देखते हैं तो उस समय टेक्निकल एनालिसिस का बहुत ही इंपॉर्टेंट रोल होता है। टेक्निकल एनालिसिस का मतलब है शेयर का एनालिसिस करके यह पता लगाना कि कहां पर entry और exit करना है।

शेयर मार्केट में चाहे आप इंट्राडे ट्रेडिंग करें या ऑप्शन ट्रेडिंग, चाहे आप बैंक निफ्टी में ट्रेडिंग करें या निफ्टी में, इक्विटी में ट्रेडिंग करें या फ्यूचर एंड ऑप्शन्स (F&O) में सभी जगह आपको टेक्निकल एनालिसिस करना आना ही चाहिए।

  • जब आप मोबाइल से ट्रेडिंग करते हैं तो आपको अपनी ट्रेडिंग एप में जाकर चार्ट पर कुछ ट्रेंडलाइन बनाना पड़ती है जिसे बनाने के लिए चार्ट पर ऊपर की ओर ऊपर सभी ट्रेडिंग टूल्स मौजूद होते हैं।
  • ट्रेडिंग टूल्स की मदद से आप पता लगा सकते हैं कि स्टॉक का सपोर्ट और रेजिस्टेंस प्राइस क्या है, मूविंग एवरेज क्या बता रहा है और इंडिकेटर्स क्या संकेत दे रहे हैं और उसी के आधार पर आप अपनी ट्रेडिंग स्ट्रेटजी तैयार कर सकते हैं।

अगर हम बात करें टाइम फ्रेम की, तो अगर आप मोबाइल से ट्रेडिंग करते हैं तो आपको 5 मिनट या 15 मिनट का टाइम फ्रेम सिलेक्ट करना चाहिए, इक्विटी या स्टॉक में ट्रेडिंग करते समय 1 hour टाइम फ्रेम और ऑप्शन ट्रेडिंग करते समय 15 मिनट टाइम फ्रेम चार्ट पर ट्रेडिंग करना बेस्ट होता है।

7. फाइनली शेयर को ट्रेड करें यानी खरीदे या बेचे

जब आप सही स्टॉक सिलेक्ट कर लें, उसका चार्ट एनालिसिस कर लें और उस शेयर की टेक्निकल एनालिसिस कर लें तो अब बारी आती है कि स्टॉक को किस प्राइस पर खरीदना और बेचना है?

इसका निर्णय लेने के लिए आपको अपनी चार्ट एनालिसिस या टेक्निकल एनालिसिस में यह देखना होगा कि किस लेवल से प्राइस ऊपर जा सकता है और किस लेवल से प्राइस नीचे जा सकता है।

अगर आप ऑप्शन ट्रेडिंग करते हैं तो जिस प्राइस से स्टॉक ऊपर जाएगा वहां पर आप कॉल ऑप्शन खरीद लीजिए और अगर आपकी एनालिसिस के अनुसार मुताबिक शेयर ऊपर जाता है तो आपको फायदा होगा।

लेकिन अगर आपको लगता है कि यहां से शेयर का प्राइस गिर सकता है तो आप पुट ऑप्शन खरीद सकते हैं और अगर शेयर प्राइस गिरता है तो आपको प्रॉफिट होगा।

तो इस प्रकार से आप आसानी से अपने मोबाइल से ऑनलाइन ट्रेडिंग कर सकते हैं। उम्मीद करता हूं अब आप समझ गए होंगे कि आखिर मोबाइल से ट्रेडिंग कैसे करें।

FAQ’s (Mobile se trading kaise kare)

मोबाइल ट्रेडिंग क्या है?

मोबाइल ट्रेडिंग का अर्थ है अपने फोन से ऑनलाइन ट्रेडिंग करना. मतलब आप केवल अपने मोबाइल से ऑनलाइन शेयर मार्केट में स्टॉक ट्रेडिंग कर सकते हैं. इसके अलावा आप चाहे तो निफ़्टी, बैंक निफ़्टी, इंट्राडे, ऑप्शन या फिर करेंसी और कमोडिटी में भी मोबाइल से ट्रेडिंग कर सकते हैं।

क्या मोबाइल से ट्रेडिंग करना संभव है?

जी हां, मोबाइल से ट्रेडिंग करना बिल्कुल संभव है। आजकल, बहुत से ब्रोकर्स और ऑनलाइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म मोबाइल ऐप प्रदान करते हैं, जिन्हें डाउनलोड करके आप अपने मोबाइल फोन से ट्रेडिंग कर सकते हैं।

इन मोबाइल trading apps की मदद से आप स्टॉक, कमोडिटीज, करेंसीज और अन्य financial instruments को खरीद या बेच सकते हैं, और अपने ट्रेडिंग अकाउंट की परफॉर्मेंस को ट्रैक कर सकते हैं।

मोबाइल ट्रेडिंग ऐप भी डेस्कटॉप ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के जैसी ही functionality प्रदान करते हैं, जिससे आप अपने मोबाइल फोन से ट्रेडिंग करने के साथ-साथ मार्केट ट्रेंड को भी ट्रैक कर सकते हैं।

मोबाइल ट्रेडिंग ऐप्स के इस्तेमाल से आप अपनी ट्रेडिंग एक्सपीरियंस को फ्लेक्सिबल और सुविधाजनक बना सकते हैं, क्योंकि आपको ट्रेडिंग करने के लिए अपने डेस्कटॉप या लैपटॉप के सामने बैठने की जरूरत नहीं पड़ेगी। आप अपने मोबाइल फोन को कहीं भी लेकर ट्रेडिंग कर सकते हैं, चाहे आप घर पर हों या बाहर।

मोबाइल से ट्रेडिंग करने के क्या फायदे हैं?

मोबाइल ट्रेडिंग का उपयोग करने के बहुत सारे फायदे हैं। इसमें से सबसे बड़ा फायदा है कि आप अपने मोबाइल फोन से ही स्टॉक, करेंसी, कमोडिटीज और अन्य वित्तीय साधनों को खरीद सकते हैं और बेच सकते हैं, जो आपकी ट्रेडिंग की accessibility और सुविधा को बहुत बेहतर करता है।

मोबाइल से ट्रेडिंग करने से आपको डेस्कटॉप या लैपटॉप के सामने बैठने की जरूरत नहीं है और आप कहीं भी अपना ट्रेडिंग अकाउंट की परफॉर्मेंस और पोर्टफोलियो को ट्रैक कर सकते हैं। इसके अलावा, मोबाइल ट्रेडिंग ऐप आपको रियल-टाइम मार्केट अपडेट और न्यूज प्रदान करते हैं, जिससे आप बेहतर तरीके से ट्रेडिंग स्ट्रैटेजी बना सकते हैं।

एक अच्छा मोबाइल ट्रेडिंग एप कैसे चुनें?

अगर आप मोबाइल ट्रेडिंग एप सेलेक्ट करने के बारे में सोच रहे हैं, तो आपको अपनी जरूरत और पसंद को ध्यान में रखना चाहिए। आपको एक user-friendly और सहज इंटरफ़ेस वाला ऐप चुनना चाहिए, जो आपके ट्रेडिंग अनुभव को बेहतर करे।

इसके अलावा, आपको ऐप की विश्वसनीयता और सुरक्षा को भी ध्यान में रखना चाहिए। आपको ऐप के फीचर्स और फंक्शनलिटी पर भी विचार करना चाहिए, जैसे रियल टाइम मार्केट अपडेट्स, टेक्निकल एनालिसिस टूल्स, और ट्रेड एक्जीक्यूशन ऑप्शंस आदि।

निष्कर्ष (मोबाइल से ट्रेडिंग कैसे करें)

इस आर्टिकल में आपने जाना कि मोबाइल से ट्रेडिंग कैसे करते हैं। अब मैं उम्मीद करता हूं कि आप समझ चुके होंगे कि मोबाइल से ऑनलाइन ट्रेडिंग कैसे की जाती है।

इस पोस्ट में हमने पूरा प्रयास किया है कि आपको मोबाइल से ट्रेडिंग करने के बारे में स्टेप बाय स्टेप समझा सकें। मैं आशा करता हूं आपको यह पोस्ट उपयोगी लगी होगी।

ये भी पढ़ें,

अगर आपके मन में ‘मोबाइल से ट्रेडिंग कैसे करें‘ इस टॉपिक से संबंधित कोई सवाल है तो नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर पूछें।

4.1/5 - (18 votes)

मेरा नाम दीपक सेन है और मैं इस वेबसाइट का Founder हूं। यहां पर मैं अपने पाठकों के लिए नियमित रूप से शेयर मार्केट, निवेश और फाइनेंस से संबंधित उपयोगी जानकारी शेयर करता हूं। ❤️