म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें? | Mutual fund me invest kaise kare?

म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें, म्यूचुअल फंड में ऑनलाइन निवेश कैसे करें, म्यूचुअल फंड में पैसा कैसे लगाएं, म्यूचुअल फंड में सीधे निवेश कैसे करें, म्यूचुअल फंड में पैसा इन्वेस्ट कैसे करें, How to invest in mutual fund in hindi

म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें, Mutual fund me invest kaise kare in hindi

आजकल म्यूचुअल फंड में निवेश करना हर कोई चाहता है क्योंकि इसके जरिए आप अपने पैसों को बढ़ा सकते हैं। शेयर मार्केट की तुलना में म्यूचुअल फंड बहुत कम रिस्की होते हैं और यह हर साल आपको आपकी इन्वेस्टमेंट पर काफी अच्छा रिटर्न देते हैं।

अगर आप अपने पैसों को तेजी से मल्टिप्लाई करना चाहते हैं तो म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट करना एक बहुत अच्छा तरीका है। आप चाहे तो mutual fund में SIP भी कर सकते हैं जिसमें आपको हर महीने कुछ निश्चित अमाउंट जमा करना होता है और कुछ सालों बाद उस पैसे पर आपको कंपाउंडेड रिटर्न मिलते हैं।

जब हम पहली बार म्यूचुअल फंड में पैसा इन्वेस्ट करने की सोचते हैं तो सबसे पहले हमारे मन में यही सवाल आता है कि आखिर म्यूचुअल फंड में पैसा इन्वेस्ट करने का क्या तरीका है?

तो आज मैं आपको म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें, इसके बारे में स्टेप बाय स्टेप बताने वाला हूं। मुझे पूरी उम्मीद है कि इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको म्यूचुअल फंड में ऑनलाइन निवेश करने के तरीके बारे में पूरी जानकारी मिल जाएगी।

तो चलिए अब सीधा जानते हैं कि Mutual fund me paisa kaise lagaye?

इस पोस्ट में आप जानेंगे-

म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें (Mutual fund me paise invest kaise kare)

म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए आपको तीन चीजों की जरूरत पड़ती है डीमैट अकाउंट, ट्रेडिंग अकाउंट और बैंक अकाउंट. जब आपके पास यह तीनों अकाउंट होते हैं तो आप आसानी से म्यूचुअल फंड में पैसा इन्वेस्ट कर सकते हैं।

नीचे हमने कुछ सिंपल स्टेप्स बताए हैं जिनके जरिए आप आसानी से म्यूचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं आइए जान लेते हैं―

🔥 Whatsapp Group👉 अभी जुड़ें
🔥 Telegram Group👉 अभी जुड़ें

1. सबसे पहले डीमैट अकाउंट खोलें

म्यूचुअल फंड में पैसा निवेश करने का सबसे पहला कदम है डीमैट अकाउंट खोलना. इसके लिए आपको एक भरोसेमंद ब्रोकर चुनना होगा जो मार्केट में बहुत समय से काम कर रहा हों। कुछ भरोसेमंद brokers के नाम नीचे दिए गए हैं जिनमें आप अपना डिमैट खाता खोल कर म्यूचुअल फंड में ऑनलाइन इन्वेस्टमेंट की शुरुआत कर सकते हैं–

  • Angel Broking,
  • Upstox,
  • Zerodha,
  • Groww

ऊपर दिए गए ब्रोकर समय से आप किसी एक के पास अपना डिमैट अकाउंट खोलकर आसानी से म्यूचुअल फंड में पैसा इन्वेस्ट कर सकते हैं।

आपका काम आसान करने के लिए मैं आपको अपस्टॉक्स (Upstox) डिमैट अकाउंट खोलने की सलाह देता हूं क्योंकि यह इंडिया का सबसे भरोसेमंद ब्रोकर है जिसमें खुद रतन टाटा ने इन्वेस्ट किया है। इसके जरिए आप ना सिर्फ म्यूचुअल फंड बल्कि शेयर बाजार में भी पैसा इन्वेस्ट कर सकते हैं.

2. सही म्यूचुअल फंड सिलेक्ट करें

डिमैट अकाउंट खुलवाने के बाद आपको अपनी Login details की मदद से ब्रोकर ऐप में लॉग इन करना होगा। अब इस step में आपको एक अच्छा म्यूचुअल फंड सिलेक्ट करना हैं जो आपके इन्वेस्टमेंट पर बेहतर रिटर्न दे सके।

  • म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए अपनी ब्रोकर ऐप में जाकर ‘Mutual fund’ पर क्लिक करें.
  • अब आपको अलग-अलग कैटेगरी के म्यूचुअल फंड दिखने लगेंगे जैसे; Top Rated, High Return, Low Risk आदि।
  • इनमें से आपको अपनी पसंद के अनुसार किसी एक fund को सिलेक्ट करना है.
  • इसके अलावा आप किसी पार्टिकुलर म्यूचुअल फंड का नाम डालकर सर्च भी कर सकते हैं।
    उदाहरण के लिए– ‘Parag Parikh flexi cap fundएक काफी पॉपुलर म्यूचुअल फंड है जो small cap और large cap सभी में इन्वेस्ट करते हैं।
  • इस फंड के बारे में और अधिक जानने के लिए आप इस पर क्लिक करके अगले पेज पर उसकी डिटेल्स देख सकते हैं।
  • अगले पेज पर आपको उस म्यूचुअल फंड की ‘Ratings’ देखना है कि कौन-कौन सी कंपनियों ने उस फंड को कितनी रेटिंग दी हैं।
  • इसके बाद उस म्यूचुअल फंड के पिछले 3 से 5 सालों के return चेक करें, अगर Annual 12% के लगभग या उससे ज्यादा रिटर्न है तो ही पैसा इन्वेस्ट करें।
  • अब उस फंड का लॉक इन पीरियड देखें. इससे आपको पता चलता है कि आप कितने समय बाद उस म्यूचुअल फंड से अपना पैसा बाहर निकाल सकते हैं।

3. म्यूचुअल फंड मैनेजर की होल्डिंग चेक करें

जब आप म्यूचुअल फंड एक अच्छा mutual fund चुन लें तो अब आपको उस fund की holdings चेक करना है। Holdings का मतलब है कि वह फंड निवेशकों का पैसा कहां कहां इन्वेस्ट करता है।

अगर कोई म्यूचुअल फंड आपका पैसा ग्रोथ कंपनियों में निवेश करता है तो इसका मतलब है कि आपका पैसा भी भविष्य में तेजी से बढ़ेगा.

लेकिन इसके विपरीत अगर कोई फंड आपका पैसा ऐसी कंपनियों में लगाता है जो प्रॉफिट भी नहीं कमा पा रही हैं तो आपको ऐसे म्यूचुअल फंड में पैसा invest नहीं करना चाहिए।

  • इसके लिए आपको उस mutual fund की holdings की लिस्ट देखना होगा।
  • इसके बाद आपका Fund Manage की details चेक करना है.
  • इससे आपको पता चलेगा कि आप जैसे म्यूचुअल फंड में निवेश कर रहे हैं वह किसके द्वारा मैनेज किया जा रहा है, उसका बैकग्राउंड क्या है और उसे बाजार में इन्वेस्ट करने का कितना एक्सपीरियंस है।

4. म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए टाइम पीरियड सिलेक्ट करें

जब आप एक सही mutual fund सिलेक्ट कर लें और उसकी होल्डिंग्स और फंड मैनेजर के बारे में पता कर लें तो अब आपको वह ‘Time period’ सिलेक्ट करना है जितने समय के लिए आप अपना पैसा उस म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहते हैं।

टाइम पीरियड आप अपने अनुसार कुछ भी select कर सकते हैं जैसे– 1 साल, 3 साल, 5 साल, 10 साल आदि।

  • अगर आप लंबे समय (Long term) के लिए म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो 5 से 10 साल या उससे ज्यादा का ‘Time period’ सिलेक्ट करें. इससे आपको भविष्य में जबरदस्त मिलेंगे।
  • लेकिन अगर आप कम समय के लिए म्यूचुअल फंड इन्वेस्टमेंट करना चाहते हैं तो आप 1 साल या 6 महीने के लिए भी mutual fund में पैसा निवेश कर सकते हैं.

लेकिन ध्यान रखिए– अगर आप Short term के लिए mutual fund में पैसा लगाते हैं तो आपको returns भी कम ही मिलेंगे. लेकिन अगर आप Long term के लिए म्यूचुअल फंड में निवेश करते हैं तो आपको भविष्य में इन्वेस्टमेंट राशि पर बहुत अच्छे रिटर्न मिलेंगे।

5. कितना पैसा इन्वेस्ट करना चाहते हैं वह अमाउंट डालें

अब आपको केवल वह अमाउंट डालना है जितना पैसा आप म्यूचुअल फंड में निवेश करना चाहते हैं। इसके लिए आपको SIP और Lumpsum में से किसी एक को सिलेक्ट करना है।

  • अगर आप एक निश्चित राशि हर महीने या हर हफ्ते म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो SIP पर क्लिक करें.
  • आप चाहे तो सिर्फ 100 रुपये से भी म्यूचुअल फंड में SIP की शुरुआत कर सकते हैं।
  • इस प्रकार आपके 100 रुपये हर महीने या हर हफ्ते सीधा आपके बैंक अकाउंट से म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट होते रहेंगे और आपका इन्वेस्टमेंट grow होता रहेगा।

इसी स्क्रीन पर आपको नीचे की ओर एक म्यूचुअल फंड केलकुलेटर नजर आएगा जिसमें आपको अपने टाइम पीरियड के अनुसार estimated return दिखाई दे जाएगा.

6. पैसा निवेश करने के लिए इन्वेस्ट बटन पर क्लिक करें

म्यूचुअल फंड में निवेश करने का आखिरी स्टेप है अपने बैंक अकाउंट के द्वारा पेमेंट करना.

  • जब आप फंड की सभी details पता कर ले तो अब आपको ‘Invest’ बटन पर क्लिक लगाना है.
  • क्लिक करते ही आप अगले पेज पर पहुंच जाएंगे जहां आपको UPI, Net Banking या Debit card में से किसी एक पेमेंट ऑप्शन को सेलेक्ट करना है और वहां से पेमेंट करना है।
  • अगर आपने ‘lumpsum’ सिलेक्ट किया होगा तो आपका पैसा एक ही बार में deduct हो जाएगा और अगर आपने ‘SIP’ सिलेक्ट किया है तो आपका पैसा हर हफ्ते या हर महीने अपने आप आपके बैंक अकाउंट से deduct होकर म्यूचुअल फंड में invest होता रहेगा।

आशा करता हूं अब आप समझ चुके होंगे कि म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें.

जानिए– शेयर कैसे खरीदे और बेचे जाते हैं?

म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पहले जरूरी बातें जान लें

म्यूचुअल फंड में पैसा निवेश करते समय इन्वेस्टर बहुत सारी गलतियां करते हैं जिससे उन्हें नुकसान झेलना पड़ता है. खराब म्यूचुअल फंड में निवेश करने से आपका मेहनत से कमाया हुआ पैसा डूब सकता है इसीलिए म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पहले नीचे दी गई आवश्यक बातों पर विचार करें―

1. अपने रिस्क के अनुसार म्यूचुअल फंड चुनें

म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पहले आपको अपनी रिस्क कैपेसिटी को देखना होगा. आपको यह सोचना होगा कि आप कितना Risk ले सकते हैं और उसी के अनुसार आपको म्यूचुअल फंड सिलेक्ट करना है।

अगर अधिक returns के लिए ज्यादा रिस्क लेना चाहते हैं तो उन कंपनियों के म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट करें जो स्मॉल कैप वाली कंपनियों में पैसा इन्वेस्ट करते हैं

लेकिन अगर आप बहुत कम रिस्क लेना चाहते हैं और 12% सालाना return से संतुष्ट हैं तो आप लार्ज कैप म्यूचुअल फंड के पैसा इन्वेस्ट कर सकते हैं।

मेरा सुझाव है कि आपको डायवर्सिफाइड म्यूचुअल फंड चुनना चाहिए ताकि आपका पैसा अलग-अलग sectors में डायवर्सिफाई हो सके। क्योंकि इस प्रकार के fund में आपको किसी एक सेक्टर पर डिपेंड नहीं रहना पड़ता है और इस प्रकार की म्यूचुअल long-term में बेहतरीन रिटर्न देते हैं।

2. पिछले 3 साल के म्यूचुअल फंड के रिटर्न चेक करें

म्यूचुअल फंड में पैसा लगाने से पहले उस फंड के पिछले 3 साल के रिटर्न चेक करना हर निवेशक के लिए अनिवार्य है। इससे आपको पता चलता है कि उसने past में कैसा परफॉर्म किया है और वह भविष्य में आपको कितने रिटर्न दे सकता है।

आपको यह देखना चाहिए कि अगर कोई mutual fund बहुत ज्यादा ऊपर नीचे हो रहा है मतलब कहीं बहुत ज्यादा रिटर्न तो कभी बहुत कम रिटर्न, इस प्रकार के रिटर्न दे रहा है तो आपको उसमें इन्वेस्ट नहीं करना चाहिए।

लेकिन अगर कोई म्यूचुअल फंड ऐसा है जो पिछले 5 सालों से उससे ज्यादा समय से इन्वेस्टर्स को कंसिस्टेंट रिटर्न दे रहा है तो आप ऐसे म्यूचुअल फंड में ऑनलाइन निवेश कर सकते हैं।

3. Mutual fund का लॉक इन पीरियड चेक करें

किसी भी म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पहले आपको उसका Lock-in-period जरूर देखना चाहिए. लॉक इन पीरियड का मतलब होता है कि म्यूचुअल फंड में आपका पैसा कितने समय के लिए लॉक हो जाएगा मतलब आप कितने समय तक आप उस fund से अपना पैसा बाहर नहीं निकाल सकते।

अगर Lock-in-period 5 साल या 10 साल है तो इसका मतलब है कि आप इतने समय से पहले अपना इन्वेस्ट किया होगा पैसा mutual fund से नहीं निकाल सकते।

4. म्यूचुअल फंड की रेटिंग देखें

म्यूचुअल फंड की रेटिंग चेक करना भी बहुत इंपोर्टेंट स्टेप्स में से एक है। जी हां आपको अपना पैसा किसी भी म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट करने से पहले उसकी Ratings जरूर चेक कर लेना चाहिए।

आपको यह देखना चाहिए कि कौन-कौन से फंड ने या कौन-कौन सी कंपनियों ने उस mutual fund को कितने Ratings दिए हुए हैं।

अगर किसी बड़ी कंपनी ने इसी म्यूचुअल फंड को 5 Star रेटिंग दी है तो उसका मतलब है कि वह उसके भविष्य में बढ़ने का संकेत दे रही है। इसलिए आपको केवल उन्हें म्यूचुअल फंड में पैसा इन्वेस्ट करना चाहिए जिनकी रेटिंग बहुत शानदार (4 star से ज्यादा) हैं।

5. Expense Ratio और Exit Load जरूर चेक करें

Expense Ratio म्यूचुअल फंड हाउस को दी जाने वाली सालाना फीस होती है. अगर एग्जिट लोड की बात करें तो

जब आप म्यूचुअल फंड को कम समय रख कर Redeem करते है यानी बेचते हैं तो AMC आपसे पेनल्टी के रूप में एक छोटा से चार्ज लेती है जिसे Exit Load कहते है।

मान लीजिए आप किसी म्यूचुअल फंड में पैसा इन्वेस्ट करते हैं और 1 साल से पहले उसे रिडीम करते हैं यानी पैसे वापस निकालते हैं तो आपको 1% एग्जिट लोड देना होगा और अगर आप 1 साल के बाद पैसे बाहर निकालते हैं तो आपको कोई एग्जिट लोड फीस नहीं देना होगा।

इसीलिए किसी भी म्यूचुअल फंड में पैसा निवेश करने से पहले Expense Ratio और Exit Load देखना बहुत जरूरी होता है।

6. म्यूचुअल फंड में निवेश करने से पहले टैक्स जरूर चेक कर लें

Expense Ratio और Exit Load के अलावा आपको Taxes भी देखना होता है। अगर किसी म्यूचुअल फंड में 15% tax लिखा है तो इसका मतलब है कि अगर आप 1 साल से पहले पैसा बाहर निकालते हैं तो आपको जितना भी प्रॉफिट होगा उस पर 15% टैक्स देना पड़ेगा.

यह short term capital gain tax होता है जो आपको टोटल कैपिटल पर नहीं बल्कि प्रॉफिट पर देना होता है।

अगर आप 1 साल के बाद अपना चल करके कैसे बाहर निकालते हैं तो आपको 10% टैक्स देना होगा जो short term capital gain tax होता है।

FAQs (Mutual fund me paisa kaise lagaye)

म्यूचुअल फंड में निवेश करने के लिए क्या जरूरी है?

म्यूचुअल फंड में पैसा निवेश करने के लिए आपके पास डीमैट अकाउंट और बैंक अकाउंट होना जरूरी है जो आप Zerodhaया Upstox जैसे किसी भी भरोसेमंद ब्रोकर के पास खुलवा सकते हैं।

म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट करने के क्या फायदे हैं?

म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट करने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आपको इसमें बिना किसी जोखिम के अच्छे रिटर्न मिल जाते हैं। इसमें आपको शेयर बाजार की तरह खुद से रिसर्च नहीं करना पड़ता बल्कि एक्सपर्ट फंड मैनेजर आपका पैसा अच्छी जगह इन्वेस्ट करते हैं जिस पर आपको भविष्य में FD, Gold या अन्य किसी इन्वेस्टमेंट से अच्छे रिटर्न मिलते हैं।

म्यूचुअल फंड में कितना पैसा लगा सकते हैं?

म्यूचुअल फंड में आप मिनिमम 100 रुपये से भी SIP की शुरुआत कर सकते हैं। लेकिन अगर आप lumpsum पैसा इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो आपको कम से कम 1000 रुपये की जरूरत होगी।

म्यूचुअल फंड में निवेश करने का सही तरीका क्या है?

म्यूचुअल फंड में निवेश करने का सही तरीका है कि सबसे पहले एक अच्छे रिटर्न देने वाले म्युचुअल फंड को सिलेक्ट करें. उसके सभी फीस और चार्जेस देखें और उसका पास्ट परफॉर्मेंस देखें. इसके बाद ही उस म्यूचुअल फंड में पैसा निवेश करें।

निष्कर्ष (Mutual fund me invest kaise kare in hindi)

मुझे उम्मीद है आपको यह आर्टिकल ‘म्यूचुअल फंड में निवेश कैसे करें‘ जरूर पसंद आया होगा. इसे पढ़ने के बाद आप म्यूचुअल फंड में पैसा लगाने के तरीके के बारे में समझ चुके होंगे.

अगर आपके मन में ‘म्यूचुअल फंड में पैसा इन्वेस्ट कैसे करें’ इस पोस्ट से रिलेटेड कोई doubts है तो नीचे कमेंट में पूछ सकते हैं.

ये भी पढ़ें,

अगर आपको यह लेख ‘Mutual fund me invest kaise kare‘ पसंद आया हो तो कृपया इसे सोशल मीडिया पर भी शेयर करें.

4.8/5 - (11 votes)

मेरा नाम दीपक सेन है और मैं इस वेबसाइट का Founder हूं। यहां पर मैं अपने पाठकों के लिए नियमित रूप से शेयर मार्केट, निवेश और फाइनेंस से संबंधित उपयोगी जानकारी शेयर करता हूं। ❤️