₹1 वाले शेयर कौन से खरीदें [2024 में] | 10 BEST Penny Stocks Under 1 Rs in 2024

क्या आप भी ₹1 से कम कीमत वाले शेयर (सबसे सस्ते शेयर) 2024 में खरीदना चाहते हैं जो मजबूत फंडामेंटल वाला शेयर हो, debt free कंपनी हो, ROE अच्छा हो और भविष्य में अच्छे रिटर्न्स मिले

तो दोस्तों अगर में आपको सच्चाई बताऊं तो पूरे शेयर मार्केट में ऐसा कोई भी पैनी स्टॉक नही है जो 1 रुपये से कम कीमत पर ट्रेड कर रहा हो और ऊपर दिए गए सभी criteria को पूरा करता हो।

ऐसा क्यों है? इसके बारे में मैं आपको आगे इस पोस्ट में बताने वाला हूँ और क्या आपको 1rs से कम कीमत वाले शेयर खरीदना चाहिए या नहीं, ये भी बताऊंगा।

साथ ही अगर स्टॉक मार्केट में निवेश करने के लिए कोई 1₹ वाला अच्छा स्टॉक मौजूद है तो उसके बारे में भी बताऊंगा

तो आइये जानते हैं best stocks under 1rs के बारे में हिंदी में विस्तार से-

इस पोस्ट में आप जानेंगे-

1 रुपये से कम कीमत के शेयर | Stocks Under 1 Rupees in India

₹1 वाले शेयर | stocks below 1rs
₹1 से कम कीमत वाले शेयर

सबसे पहले तो आपके मन में यह सवाल आना चाहिए कि कोई भी कम्पनी जिसका शेयर प्राइस 1 रुपये है या इससे कम कीमत पर खरीदने को मिल रहे है

तो ऐसा क्यों है?

मतलब उस कम्पनी का शेयर इतना सस्ता क्यों मिल रहा है आपके दिमाग में यह सवाल आना जरूरी है

क्योंकि शेयर मार्केट में ज्यादातर उन्हीं निवेशकों का नुकसान होता है जो शेयर मार्किट को बिना सीखे निवेश कर देते हैं या फिर जिन्हें ये तक पता नहीं होता कि शेयर मार्केट काम कैसे करता है और फिर वे ये गलतियां कर बैठते है जैसे-

🔥 Whatsapp Group👉 अभी जुड़ें
🔥 Telegram Group👉 अभी जुड़ें
  1. बिना किसी लॉजिक के केवल शेयर का प्राइस देखकर या उसका चार्ट पैटर्न देखकर ही उसमें पैसा निवेश कर देते हैं।
  2. सस्ते शेयर या छोटे शेयर लेने के चक्कर में, कम्पनी के बिज़नेस मॉडल और फ्यूचर ग्रोथ पर ध्यान नहीं देते हैं
  3. शेयर बाज़ार में उतार-चढ़ाव क्यों होता है, ऑपरेटर कौन होते हैं जो कभी भी शेयर का दाम बढ़ा या घटा देते हैं, इसके बारे में नए निवेशकों को पता नहीं होता है

और इसीलिए ये 1 रुपये से कम के शेयर की तरफ ज्यादा आकर्षित होते हैं जिसके लिए आप ये पोस्ट पढ़ रहे है

क्योंकि पेनी स्टॉक्स में आपको कम पैसों में ज्यादा शेयर buy करने का मौका मिलता है लेकिन उसका कोई फायदा नही है क्योंकि-

  • मान लीजिये कोई शेयर 1 रुपये का है तो अगर आप इसमें 1000 रुपये लगाते हैं तो आपको 1000 शेयर मिलेंगे जिनमें High risk होता है और अच्छा return मिलने के बहुत कम चांस होते हैं

क्योंकि अगर fact देखें तो ऐसे shares में आपको सिर्फ 1% से 5% का return on equity मिलता है, बहुत ही कम शेयर होंगे जिनमें 10% से ज्यादा return मिलता हो

बल्कि कई बार तो आपका पूरा पैसा ही डूब जाता है।

वहीं दूसरी ओर अगर आप उसी 1000 रुपये को किसी क्वालिटी शेयर या मजबूत फंडामेंटल कंपनी में निवेश करते हैं जिसका शेयर प्राइस 1000 रुपये होता तो उसमें आपको सिर्फ 1 शेयर ही मिलता लेकिन इसमें आपको return 10% से भी बहुत ज्यादा मिलने के चांसेस रहते।

Related:

1₹ वाले शेयर लेने से पहले ये जान लें-

आपको पता होगा कि पैनी स्टॉक्स बहुत ज्यादा वोलेटाइल और रिस्की होते हैं जिनमें कभी upper circuit तो कभी lower circuit लगता रहता है

जिससे आप शेयर को खरीद या बेच नहीं पाते हैं और उसमे बुरी तरह फंसकर अपना सारा पैसा डूबा देते हैं ज्यादातर पेनी स्टॉक्स ऐसे ही होते हैं।

इस प्रकार नए निवेशक शेयर मार्केट में अपना पूरा पैसा गंवा देते हैं क्योंकि 1 रुपये, 5 रुपये या उससे भी सस्ते जितने भी पेनी स्टॉक्स हैं उनमें फायदे या मुनाफे से कई गुना ज्यादा रिस्क होता है।

क्योंकि दोस्तों शेयर बाजार का ये सच है-

कि आज मार्केट में जितनी भी कम्पनियां पेनी स्टॉक्स के रूप में मौजूद हैं उनमें से 50% से ज्यादा companies बर्बाद हो चुकी हैं

चाहे फिर आप suzlon energy का चार्ट देखें

या फिर vodafone idea का,

और बहुत सारी कंपनियां तो दिवालिया (Bankrupt) हो चुकी हैं जैसे- DHFL (दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड) जोकि पहले पेनी शेयर बना फिर बाद में बुरी financial condition के चलते दिवालिया हो गया।

Related:

कम कीमत वाले 1 रुपये के शेयर risky क्यों होते हैं?

आप किसी भी पेनी स्टॉक को देख लो चाहे वह ₹1 का शेयर हो, ₹5 से कम कीमत वाला शेयर हो, ₹10 का हो, ₹20 का शेयर हो या ₹50 का शेयर हो इन सब में आपको एक चीज common दिखेगी

वो है High Risk

लेकिन आखिर सस्ते शेयर इतने रिस्की क्यों होते हैं?

इसलिए क्योंकि ज्यादातर सस्ते शेयर ही Bankruptcy की कगार पर खड़े होते हैं मतलब कंपनी कभी भी डूब सकती हैं

ज्यादातर पेनी स्टॉक वाली कंपनियां ही दिवालिया हो जाती हैं जिससे छोटे निवेशकों का बहुत नुकसान होता है

इसके 3 कारण हैं-

  • Loan: या तो कम्पनी पर कर्ज (debt) बहुत ज्यादा है जिसको चुकाने के लिए उसके पास पैसा नहीं है यानी कि कम्पनी के पास free cash flow बहुत कम है या negative में है। mostly कम्पनियां केवल इसीलिए bankrupt हो जाती हैं क्योंकि वह अपने कर्ज को नहीं चुका पाती हैं जिससे उनके सभी assets बिक जाते हैं।
  • Net Income: इनका Net profit और underlying assets उसके debt या liability की तुलना में बहुत कम होते है या negative होता है जिसका मतलब है कि कंपनी बहुत बड़े loss में है।
  • Competition: कंपनी के competitors बहुत बड़े हों जिनके सामने इसका market share बहुत कम हो।

Related:

निवेशक 1 रुपये वाले शेयर खरीदते क्यों हैं?

1₹ से कम कीमत वाले शेयर में निवेश करने के कई कारण हैं जैसे-

कम कीमत में ज्यादा शेयर मिलना:

ज्यादातर ₹1 वाले शेयर में वही लोग निवेश करते हैं जो शेयर की क्वालिटी से ज्यादा quantity (संख्या) पर फोकस करते हैं।

नए निवेशक केवल यही देखते हैं कि उन्हें ₹100 में 100 शेयर खरीदने का मौका मिल रहा है तो खरीद लो

वे कंपनी के बिजनेस प्लान, बैलेंस शीट और debt (कर्ज) को नहीं देखते हैं केवल शेयर का प्राइस देखकर ही उसे खरीद लेते हैं जिससे अंत में उन्हें नुकसान झेलना पड़ता है।

दूसरा कारण है-

Multibagger रिटर्न्स के चक्कर में:

आपको पता होगा कि शेयर मार्केट में जब तेजी आती है तो सबसे पहले पेनी स्टॉक्स जैसे ₹1, ₹2, ₹5, ₹10 या ₹20 वाले शेयर ही सबसे पहले भागना शुरु करते हैं

और केवल 1 महीने में ही 100% से ज्यादा रिटर्न कमा कर दे देते हैं और इससे आकर्षित होकर नए निवेशक उसमें बहुत सारा पैसा लगा देते हैं

क्योंकि उन्हें लगता है कि जब ₹1 वाला स्टॉक ₹20 या ₹50 का हो जाएगा तो वह उसे बेचकर मल्टीबैगर रिटर्न कमा सकते हैं

जबकि ऐसा नहीं होता है बल्कि जो पैसा उन्होंने लगाया है वो भी डूब जाता है।

क्योंकि जब शेयर मार्केट में जब गिरावट आती है तो सबसे पहले सस्ते शेयर ही लुढ़कना चालू करते हैं और बहुत ही तेजी से नीचे गिरने लगते हैं जिससे बहुत सारे निवेशकों को नुकसान होता है।

सबसे सस्ते 1rs से कम के शेयर

इसलिए आपको ₹1 ₹2 या ₹5 वाले स्टॉक से हमेशा दूर रहना चाहिए क्योंकि आधे से ज्यादा कंपनियां पेनी स्टॉक इसलिए हैं

क्योंकि या तो उनका बिजनेस चौपट हो चुका होता है या फिर उनके पास assets से कई गुना ज्यादा liability हो चुकी होती हैं।

Related: 

अब सवाल आता है कि ज्यादातर सस्ते शेयर वाली कंपनियों में ही नुकसान क्यों होता है?

इसके बारे में नीचे बताया गया है-

₹1 वाले स्टॉक्स कितने रिस्की होते हैं?

1rs ke share सस्ते शेयर

ये जानने के लिए आपको सबसे पहले कुछ चीजों के बारे में पता होना चाहिए जैसे-

  • स्टॉक मार्केट में जो भी कंपनियां दिवालिया हो जाती हैं उनमें से 70% से ज्यादा कंपनियां बहुत सारा लोन ले लेती हैं और उसे चुका नहीं पाती हैं जिससे उनके सभी assets की नीलामी हो जाती हैं और वह कंपनी दिवालिया घोषित कर दी जाती हैं।
  • इसमें से 90% से ज्यादा कंपनियां small cap या micro cap होती हैं।
  • कंपनी के मैनेजमेंट के ही कुछ लोग फ़्रॉड या scam करते हैं और जब न्यूज़ में उनका सच सामने आता है तो उस कंपनी के शेयर प्राइस अचानक से नीचे गिरना शुरू हो जाते हैं।
  • मार्केट में नया कंपीटीटर आ जाता है जोकि आपको टेलीकॉम सेक्टर में देखने को मिला कि रिलायंस जियो ने बाकी सभी कंपनियों का हाल बुरा कर दिया

जिसका लाइव उदाहरण वोडाफोन आइडिया के रूप में आपके सामने हैं क्योंकि एक समय था जब वोडाफोन आइडिया का शेयर प्राइस ₹100 से ज्यादा होता था और आज ये ₹10 वाला पेनी स्टॉक बन चुका है।

Pump और dump स्कीम के बारे में पता ना होना-

Share below 1rs

जो सस्ते शेयर होते हैं उनका मार्केट कैप बहुत कम होता है और इसीलिए जो बड़े इन्वेस्टर होते हैं वह इन शेयरों में speculator या operator की तरह काम करते हैं

जो जब चाहे शेयर का प्राइस बढ़ा देते हैं और जब चाहे घटा देते हैं।

ऐसा इसलिए होता है क्योंकि पेनी स्टॉक्स में लिक्विडिटी बहुत कम होती है यानी कि buyers और sellers बहुत कम होते हैं जिसका फायदा ऑपरेटर उठाते हैं

जब कोई ऑपरेटर किसी पेनी स्टॉक के बहुत ज्यादा क्वांटिटी को अकेले ही खरीद लेता है तो अचानक से शेयर का प्राइस बढ़ जाता है और उसको देखकर रिटेल निवेशक भी उसे खरीदने लगते हैं

और यहीं पर वह गलत ही करते हैं क्योंकि किसी भी स्टॉक को हमें केवल उसका चार्ट देखकर नहीं खरीदना चाहिए बल्कि एक बार शेयर का पीई रेश्यो जरूर चेक करना चाहिए 

क्योंकि जब रिटेल निवेशक उस शेयर में निवेश करने लगते हैं तो उसका प्राइस भी बढ़ने लगता है और जब उसका प्राइस intrinsic value से ज्यादा बढ़ जाता है तो ऑपरेटर अपने सारे शेयर बेच देते हैं और मुनाफा कमा कर बाहर निकल जाते हैं और नुकसान छोटे निवेशकों को भुगतना पड़ता है।

कुछ लोग तो सिर्फ डिविडेंड के लालच में घटिया शेयर में निवेश कर देते हैं और बाद में पछताते है।

ज्यादातर पेनी स्टॉक्स के शेयर प्राइस कंपनी के परफॉर्मेंस पर निर्भर नहीं करते हैं क्योंकि उनका प्राइस तो ऑपरेटर ही कम या ज्यादा करते रहते हैं, इसे ही Pump और dump स्कीम कहा जाता है जिसमें नुकसान केवल छोटे निवेशकों का होता है।

₹1 वाले शेयर खरीदना चाहिए या नहीं?

अगर आज आप गूगल पर जाकर 1rs share या 1 रुपये के शेयर लिखकर सर्च करते हैं तो आपको बहुत सारी वेबसाइट दिख जाएगी

जिन पर आपको ₹1 से कम कीमत वाले बहुत सारे स्टॉक्स दिख जाएंगे जिन्हें खरीदने के लिए आपको टारगेट प्राइस और स्टॉप लॉस दिया जाता है

ऐसे ही कुछ ₹1 वाले पैनी स्टॉक्स की लिस्ट नीचे दी गई है-

₹1 वाले शेयर की लिस्ट | List of 1rs shares 2024

  1. Visagar Polytex
  2. Virtual global
  3. Goldline international
  4. Yamini investment
  5. Pazel International
  6. Shalimar productions
  7. Luharuka Media
  8. Satra properties
  9. Amraworld agrico
  10. Panafic industry

यह सभी स्टॉक्स ₹1 से भी सस्ते हैं जो कि आपको कुछ पैसे के देखने को मिल जाएंगे.

ऊपर दिए गए सभी स्टॉक्स के market cap, quarterly sales, net profit और dividend आदि के बारे में विस्तार से जानने के लिए आप screener वेबसाइट से ली गई इस इमेज के नीचे दिए गए लिंक पर जा सकते हैं.

1 रुपये के शेयर
Source: screener.in (below 1rupee stocks)

लेकिन अगर मैं आपको सच बताऊं तो इनमें से ज्यादातर पेनी स्टॉक्स फंडामेंटली कमजोर शेयर होते हैं जिनके फाइनेंशियल्स बहुत कमजोर होते हैं।

दोस्तों मैं तो आपको यही सलाह दूंगा कि आप ऐसे शेयर में पैसा निवेश ना करें।

क्योंकि मान लो आपके पास केवल ₹1000 हैं जिसे आप स्टॉक मार्केट में निवेश करके बेहतर रिटर्न कमाना चाहते हैं

तो अगर आप ₹10 वाले शेयर खरीदते हैं तो आपको 100 शेयर मिल जाते हैं लेकिन मेरे को बहुत ज्यादा होता है

वहीं दूसरी ओर अगर आप उन्हीं ₹1000 से ₹500 के 2 फंडामेंटली मजबूत शेयर खरीदते हैं जिनमे बहुत कम रिस्क होता है और इनसे आप भविष्य में अच्छा रिटर्न कमा सकते हैं।

अंत में, मैं आपसे बस यही कहूंगा कि अगर आप लंबी अवधि के निवेशक हैं तो छोटे शेयर या सस्ते शेयर से हमेशा दूर रहिए

और किसी भी शेयर को खरीदने से पहले अच्छी तरह से कंपनी के बारे में रिसर्च कर लें,

एक अच्छा फंडामेंटल मजबूत शेयर खरीदने के लिए आपको किसी भी कंपनी में 7 चीजों को जरूर देखना चाहिए जिसके बारे में हमने नीचे दी गई पोस्ट में विस्तार से बताया है-

₹ 1 वाले शेयर कौन कौन से हैं?

यहां पर ₹1 से कम कीमत वाले शेयर की लिस्ट दी गई है―

₹1 से कम कीमत वाले शेयर की List

Stocks below 1 RsMarket Cap (cr) शेयर प्राइस
Future Consumer Ltd168.860.85
Alstone Textiles (India) Ltd87.960.69
Siti Networks Ltd69.760.8
Future Enterprises Ltd62.990.9
Godha Cabcon & Insulation Ltd59.960.9
Shrenik Ltd58.140.95
Biogen Pharmachem Industries Ltd51.560.79
Excel Realty N Infra Ltd49.370.35
Shalimar Productions Ltd48.230.49
GV Films Ltd47.560.52

ऊपर दी गई 1 रुपए से कम के शेयर की लिस्ट में कुछ ₹2 से कम कीमत के शेयर भी शामिल हैं। और हो सकता है कि आने वाले समय में ऊपर बताए गए शेयर के प्राइस 3rs, 4rs या 5rs से भी ऊपर चले जाए।

इन सभी below 1rs stocks के बारे में नीचे संक्षिप्त में बताया गया है–

1. Future Consumer Ltd

Future Consumer Ltd. एक भारतीय उपभोक्ता वस्तु कंपनी है जो खाद्य, घरेलू, व्यक्तिगत देखभाल और सौंदर्य उत्पादों का निर्माण करती है।

  • कंपनी के पास कई प्रमुख ब्रांड हैं, जिनमें “एवरेस्ट”, “बेकर स्ट्रीट”, “लिटिल चॉकलेट फैक्टरी”, “जिमटोनी”, “प्रकाश”, “सर्वोदय”, “कौनसी” और “संतूर” शामिल हैं।
  • कंपनी का मुख्यालय मुंबई, भारत में है।

भविष्य की संभावनाएं

  • Future Consumer Ltd. एक तेजी से बढ़ती हुई कंपनी है जिसका लक्ष्य भारत के बढ़ते उपभोक्ता वर्ग को टारगेट करना है।
  • कंपनी के पास एक मजबूत ब्रांड पोर्टफोलियो और एक वितरण नेटवर्क है जो इसे विकास के लिए अच्छी स्थिति में रखता है।
  • हालांकि, कंपनी को कुछ चुनौतियों का भी सामना करना पड़ रहा है, जिसमें बढ़ती लागत और प्रतिस्पर्धा शामिल है।

2. Alstone Textiles (India) Ltd

Alstone Textiles (India) Ltd एक भारतीय कंपनी है जो कपड़ों और निवेश गतिविधियों में व्यापार करती है। यह मुख्य रूप से कपड़ों की आपूर्ति और व्यापार पर केंद्रित है। कंपनी थर्ड पार्टी के उत्पाद वितरण पर भी ध्यान केंद्रित करती है ताकि unsecured personal loan और corporate loan उत्पन्न किया जा सके।

कंपनी वित्त गतिविधि खंड के माध्यम से काम करती है। कंपनी के कपड़े की लाइन में कपास, ऊनी, कलात्मक रेशम, प्राकृतिक रेशम, तैयार कपड़े, होज़री, सिंथेटिक फाइबर और कपड़ा और मिश्रित कपड़े शामिल हैं।

कंपनी की वित्तीय स्थिति

कंपनी की वित्तीय स्थिति अच्छी है। कंपनी पर कोई debt नहीं है और इसकी gross margin 10% से अधिक है। कंपनी का मार्केट कैप ₹200 करोड़ है।

3. Siti Networks Ltd

Siti Networks Ltd एक भारतीय कंपनी है जो मीडिया, पैकेजिंग, मनोरंजन, प्रौद्योगिकी-सक्षम सेवाओं, बुनियादी ढांचा विकास और शिक्षा में व्यापार करती है। यह भारत में एक प्रमुख मल्टी-सिस्टम ऑपरेटर (MSO) है, जो डिजिटल केबल टेलीविजन (DTH) और ब्रॉडबैंड सेवाएं प्रदान करता है।

कंपनी का इतिहास

Siti Networks Ltd की स्थापना 1985 में हुई थी। कंपनी का प्रारंभिक नाम “SITI Cable Network Limited” था। कंपनी ने 1990 के दशक में डिजिटल केबल टेलीविजन सेवाओं की शुरूआत की, और 2000 के दशक में ब्रॉडबैंड सेवाओं की शुरूआत की।

कंपनी का व्यवसाय

Siti Networks Ltd का मुख्य व्यवसाय DTH और ब्रॉडबैंड सेवाएं प्रदान करना है। कंपनी भारत के 16 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 10 मिलियन से अधिक ग्राहकों को सेवाएं प्रदान करती है।

Siti Networks Ltd की DTH सेवाओं में 500 से अधिक चैनल शामिल हैं, जिनमें हिंदी, अंग्रेजी, तमिल, तेलुगु, मराठी, बंगाली और अन्य भाषाओं में चैनल शामिल हैं। कंपनी की ब्रॉडबैंड सेवाओं में 30 एमबीपीएस तक की गति शामिल है।

कंपनी का वित्तीय प्रदर्शन

Siti Networks Ltd का वित्तीय प्रदर्शन अच्छा है। कंपनी की आय 2022-23 में ₹2,500 करोड़ से अधिक थी, और उसका लाभ ₹500 करोड़ से अधिक था।

4. Future Enterprises Ltd

फ्यूचर एंटरप्राइजेज लिमिटेड (FEL) एक भारतीय रिटेल कंपनी है जो भारत में फैशन, घरेलू सामान, खाद्य और पेय पदार्थों की एक विस्तृत श्रृंखला का कारोबार करती है। कंपनी का मुख्यालय मुंबई, भारत में है।

कंपनी का इतिहास

FEL की स्थापना 1987 में हुई थी। कंपनी का प्रारंभिक नाम “CENTRAL DEPARTMENTAL STORES PRIVATE LIMITED” था। कंपनी ने 1990 के दशक में फैशन खुदरा क्षेत्र में प्रवेश किया, और 2000 के दशक में घरेलू सामान और खाद्य और पेय पदार्थों में विस्तार किया।

कंपनी का व्यवसाय

FEL के पास भारत में फैशन, घरेलू सामान, खाद्य और पेय पदार्थों के खुदरा क्षेत्र में कई प्रमुख ब्रांड हैं। कंपनी के फैशन ब्रांडों में Big Bazaar, Easyday, Foodhall, Central, Brand Factory, और Star Bazaar शामिल हैं।

कंपनी के घरेलू सामान ब्रांडों में HomeTown, HomeStop, और HomeTown Furniture शामिल हैं। कंपनी के खाद्य और पेय पदार्थ ब्रांडों में Nilgiris, Foodhall, और Easyday शामिल हैं।

5. Godha Cabcon & Insulation Ltd

Godha Cabcon & Insulation Ltd एक भारतीय कंपनी है जो बिजली संचरण के लिए तार और कंडक्टर का निर्माण करती है। कंपनी का मुख्यालय इंदौर, मध्य प्रदेश, भारत में है।

कंपनी का इतिहास

Godha Cabcon & Insulation Ltd की स्थापना 1987 में हुई थी। कंपनी का प्रारंभिक नाम “Dewas Conductor” था। कंपनी ने 1990 के दशक में ACSR (एल्युमिनियम कंडक्टर, स्टील रिइन्फोर्स्ड) तार का निर्माण शुरू किया, और 2000 के दशक में AAAC (ऑल एल्युमिनियम एलॉय कंडक्टर) तार का निर्माण शुरू किया।

कंपनी का व्यवसाय

Godha Cabcon & Insulation Ltd के मुख्य उत्पादों में ACSR तार, AAAC तार, AAC तार और AB केबल शामिल हैं। कंपनी इन उत्पादों का उपयोग बिजली संचरण के लिए करती है, जो भारत में एक तेजी से बढ़ता हुआ उद्योग है।

कंपनी के भविष्य की संभावनाएं

Godha Cabcon & Insulation Ltd के भविष्य की संभावनाएं अच्छी हैं। भारत में बिजली संचरण उद्योग तेजी से बढ़ रहा है, और कंपनी इस उद्योग में एक प्रमुख खिलाड़ी बनने की स्थिति में है। कंपनी के पास एक मजबूत उत्पादन क्षमता और एक मजबूत वितरण नेटवर्क है।

कंपनी के बारे में कुछ अतिरिक्त जानकारी

  • कंपनी के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक श्री दीपेश गोधा हैं।
  • कंपनी के पास मध्य प्रदेश में एक उत्पादन संयंत्र है।
  • कंपनी भारत के कई राज्यों में ग्राहकों को सेवाएं प्रदान करती है।

6. Shrenik Ltd

Shrenik Ltd की स्थापना 2012 में हुई थी। कंपनी का प्रारंभिक नाम “Shrenik Paper & Pulp Pvt. Ltd.” था। कंपनी ने 2013 में कागज और लुगदी का व्यापार शुरू किया, और 2015 में कागज बोर्ड का व्यापार शुरू किया।

Shrenik Ltd के मुख्य उत्पादों में कोटेड पेपर, अनकोटेड मैपलिथो पेपर, कॉपी पेपर, डुप्लेक्स बोर्ड और फोल्डिंग बॉक्सबोर्ड शामिल हैं। कंपनी इन उत्पादों का उपयोग विभिन्न उद्योगों में करती है, जिसमें शिक्षा, चिकित्सा, विज्ञापन और पैकेजिंग शामिल हैं।

7. Biogen Pharmachem Industries Ltd

Biogen Pharmachem Industries Ltd एक भारतीय कंपनी है जो फार्मास्युटिकल्स और अन्य रसायनों के निर्माण में लगी हुई है। कंपनी का मुख्यालय गुजरात, भारत में है।

Biogen Pharmachem Industries Ltd की स्थापना 1995 में हुई थी। कंपनी का प्रारंभिक नाम “Sun Techno Overseas Ltd.” था। कंपनी ने 1990 के दशक में फार्मास्युटिकल्स और अन्य रसायनों का निर्माण शुरू किया।

इस कंपनी के मुख्य उत्पादों में फार्मास्युटिकल्स, रसायन, और अन्य उत्पाद शामिल हैं। कंपनी के फार्मास्युटिकल उत्पादों में एंटीबायोटिक्स, एंटी-फंगल्स, एंटीवायरल्स, और अन्य दवाएं शामिल हैं। कंपनी के रसायन उत्पादों में कच्चे माल, मध्यवर्ती उत्पाद, और अंतिम उत्पाद शामिल हैं।

8. Excel Realty N Infra Ltd

Excel Realty N Infra Ltd एक भारतीय कंपनी है जो सूचना प्रौद्योगिकी (IT) सक्षम व्यवसाय प्रक्रिया आउटसोर्सिंग (BPO) सेवाओं, बुनियादी ढांचा सुविधा के विकास और सामान्य व्यापार गतिविधियों में लगी हुई है। कंपनी का मुख्यालय मुंबई, भारत में है।

Excel Realty N Infra Ltd की स्थापना 2003 में हुई थी। कंपनी का प्रारंभिक नाम “Excel Infoways Limited” था। कंपनी ने 2000 के दशक में IT सक्षम BPO सेवाओं की शुरूआत की, और 2010 के दशक में बुनियादी ढांचा सुविधा के विकास में विस्तार किया।

Excel Realty N Infra Ltd का मुख्य व्यवसाय IT सक्षम BPO सेवाएं प्रदान करना है। कंपनी ग्राहकों को कॉल सेंटर, ग्राहक सेवा, वित्तीय सेवाएं, और अन्य BPO सेवाएं प्रदान करती है। कंपनी का बुनियादी ढांचा सुविधा विकास खंड कंस्ट्रक्शन और इंजीनियरिंग सेवाएं प्रदान करता है। कंपनी का सामान्य व्यापार खंड विभिन्न प्रकार के उत्पादों और सेवाओं में व्यापार करता है।

9. Shalimar Productions Ltd

शालीमार प्रोडक्शंस लिमिटेड एक भारतीय कंपनी है जो फिल्मों, टेलीविजन धारावाहिकों और अन्य मीडिया सामग्री का निर्माण करती है। कंपनी का मुख्यालय मुंबई, भारत में है।

शालीमार प्रोडक्शंस लिमिटेड की स्थापना 1985 में हुई थी। कंपनी का प्रारंभिक नाम “शालीमार एग्रो प्रोडक्ट्स लिमिटेड” था। कंपनी ने 1990 के दशक में फिल्म निर्माण में प्रवेश किया, और 2000 के दशक में टेलीविजन धारावाहिकों में विस्तार किया।

शालीमार प्रोडक्शंस लिमिटेड का मुख्य व्यवसाय फिल्मों, टेलीविजन धारावाहिकों और अन्य मीडिया सामग्री का निर्माण करना है। कंपनी ने विभिन्न भाषाओं में कई फिल्में और टेलीविजन धारावाहिक बनाए हैं। कंपनी की कुछ प्रसिद्ध फिल्मों में “सत्या”, “दृश्यम”, और “मर्डर” शामिल हैं। कंपनी की कुछ प्रसिद्ध टेलीविजन धारावाहिकों में “कसम से”, “उतरन”, और “ये है मोहब्बतें” शामिल हैं।

10. GV Films Ltd

GV Films Ltd एक भारतीय फिल्म निर्माण और वितरण कंपनी है, जिसके प्रमुख ईशारी के. गणेश हैं। यह फर्म 1990 के दशक में तमिल फिल्म उद्योग में एक अग्रणी प्रोडक्शन स्टूडियो थी और इसकी स्थापना 1986 में जी. वेंकटेश्वरन ने सुजाता फिल्म्स के रूप में की थी।

GV Films ने 1990 के दशक में कई सफल फिल्मों का निर्माण किया, जिनमें “अंजलि”, “थलपति”, और “मोहन रागम” शामिल हैं। कंपनी ने 2000 के दशक में भी कई सफल फिल्मों का निर्माण किया, जिनमें “अर्जुन”, “प्रेम का नगमा”, और “कंचन” शामिल हैं।

हालांकि, 2003 में, कंपनी के संस्थापक जी. वेंकटेश्वरन ने आत्महत्या कर ली। इस घटना ने कंपनी को एक झटका दिया, और कंपनी ने 2000 के दशक के बाद से फिल्म निर्माण में धीमी गति से प्रगति की है।

GV Films ने हाल ही में दो फिल्मों का निर्माण किया है, “द व्हाइट लैंड” और “ब्राइड्स वांटेड”। “द व्हाइट लैंड” एक सामाजिक-राजनीतिक ड्रामा है, और “ब्राइड्स वांटेड” एक हल्की रोमांटिक कॉमेडी है।

GV Films एक अच्छी तरह से स्थापित कंपनी है जो तमिल फिल्म उद्योग में एक इतिहास है। कंपनी के पास प्रतिभाशाली कलाकारों और तकनीशियनों की टीम है। हालांकि, कंपनी को अपने वित्तीय प्रदर्शन में सुधार करने और अधिक सफल फिल्में बनाने की आवश्यकता है।

GV Films Ltd के बारे में कुछ अतिरिक्त जानकारी

  • कंपनी का मुख्यालय चेन्नई, भारत में है।
  • कंपनी के पास एक उत्पादन स्टूडियो और एक वितरण नेटवर्क है।
  • कंपनी भारत में तमिल फिल्मों के निर्माण और वितरण में लगी हुई है।

तो यह थे ₹1 से कम कीमत के शेयर जिनके बारे में हमने आपको थोड़ा संक्षिप्त में बताया है ताकि आप इन कंपनियों के बिजनेस मॉडल के बारे में जान सके और अगर आपको इनमें से किसी भी 1 रुपये से नीचे के शेयर में निवेश करना है तो अच्छी तरह से फंडामेंटल एनालिसिस करें इसके अलावा अपने फाइनेंशियल एडवाइजर से सलाह जरूर लें।

1rs se kam ke share FAQ’s

क्या आपको ₹1 से कम कीमत के शेयर में पैसा निवेश चाहिए?

अगर आप ₹1 या ₹2 जैसी सस्ती कीमत वाली कंपनियों के पीछे ही पड़े रहेंगे तो आप अच्छी कंपनियों में इन्वेस्ट करने के मौके गंवा देंगे. लेकिन अगर आप सस्ते शेयर में निवेश करना ही चाहते हैं तो मजबूत फंडामेंटल वाली कंपनियों में ही इन्वेस्ट करना चाहिए।

सबसे अच्छे ₹1 वाले पेनी स्टॉक्स कौन से हैं?

1 रुपये से कम कीमत में आपको शेयर बाजार में काफी सारे अच्छे पेनी स्टॉक्स देखने को मिल जाते हैं लेकिन उनमें रिस्क भी बहुत ज्यादा होता है। इनमें ज्यादातर स्मॉल कैप और माइक्रो कैप कंपनियां ही होती हैं जिनका व्यापार अभी बहुत छोटा होता है।

सबसे सस्ता पेनी स्टॉक कौन सा है?

Khoobsurat Ltd कंपनी का शेयर जिसने सिर्फ 6 महीनों में ही 1000 फीसदी से ज्यादा के रिटर्न निवेशकों को दे दिए। लेकिन ऐसे पेनी स्टॉक्स में आपको अपर सर्किट और लोअर सर्किट भी देखने को मिलते हैं जिससे थोड़ा बहुत जोखिम तो बना ही रहता है।

क्या कम कीमत वाले ₹1 के शेयर अमीर बना सकते हैं?

वैसे तो शेयर मार्केट में आपको बहुत सारे सस्ते पेनी स्टॉक मिल जाएंगे जिनकी कीमत कुछ ही दिनों में 1₹ से बढ़कर 2₹, 5₹ या 10₹ हो जाती है. लेकिन याद रखिए यह शेयर जितनी तेजी से ऊपर बढ़ते हैं उतनी ही तेजी से नीचे गिर जाते हैं। इसीलिए कम कीमत वाली कंपनियों के शेयर आपको अमीर भी बना सकते हैं और कंगाल भी कर सकते हैं।

₹1 से कम कीमत वाले शेयर | Penny Stocks Under 1rs

मैं आशा करता हूं कि अब आप समझ चुके होंगे कि आपको ₹1 से कम कीमत वाले शेयर (Under 1rs penny share) खरीदने से पहले आपको किन किन चीजों का ध्यान रखना चाहिए.

अगर इस पोस्ट से संबंधित आपका कोई सवाल है तो आप हमसे कमेंट बॉक्स में पूंछ सकते हैं

साथ ही अगर आपने भी कोई ₹1 ₹10 या ₹50 वाला पेनी स्टॉक खरीदा हुआ है जो आपको प्रॉफिट दे रहा है या फिर आपको लगता है कि फंडामेंटली मजबूत शेयर है

तो आप उसके बारे में भी कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं ताकि अन्य लोगों को भी ऐसे मजबूत शेयर के बारे में पता चल सके।

मैं आशा करता हूं कि आपको इस पोस्ट में दी गई जानकारी यूज़फुल लगी होगी.

आपका कीमती समय देने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद🙏

ये भी पढ़ें,

4.4/5 - (13 votes)

मेरा नाम दीपक सेन है और मैं इस वेबसाइट का Founder हूं। यहां पर मैं अपने पाठकों के लिए नियमित रूप से शेयर मार्केट, निवेश और फाइनेंस से संबंधित उपयोगी जानकारी शेयर करता हूं। ❤️