क्या शेयर बाजार की भविष्यवाणी 2022 में करना संभव है?

क्या आप भी शेयर बाजार की भविष्यवाणी 2022 पर यकीन करते हैं? क्या आपने भी कभी शेयर मार्केट में की गई भविष्यवाणी के आधार पर निवेश किया है?

  • क्या आपको पता है शेयर मार्केट में भविष्यवाणी आखिर होती कैसी है और कौन करता है?
  • क्या सच में शेयर बाजार की भविष्यवाणी से कुछ हद तक आप लाभ कमा सकते हैं अगर हां तो कैसे?

और सबसे जरूरी बात क्या कुछ ऐसे उदाहरण हैं जिन्होंने शेयर मार्केट की भविष्यवाणी के आधार पर किसी शेयर में किसी ने निवेश किया हो और वह शेयर मार्केट से करोड़पति बन गया हो….

आज मैं इस पोस्ट में आपके इन सभी सवालों के जवाब उदाहरण के साथ विस्तार से देने वाला हूं तो आइए जानते हैं―

Contents

क्या होती है शेयर बाजार की भविष्यवाणी 2022? ― What is Stock Market Prediction in Hindi?

शेयर बाजार की भविष्यवाणी 2022
क्या शेयर बाजार की भविष्यवाणी करना संभव है?

शेयर बाजार की भविष्यवाणी करने का मतलब है कि आप किसी कंपनी के शेयर की फ्यूचर वैल्यू का अंदाजा पहले से ही लगाना चाहते हैं मतलब भविष्य में शेयर का दाम बढ़ेगा या घटेगा इसका पता लगाने को ही शेयर मार्केट की भविष्यवाणी या Stock market prediction कहते हैं.

अगर कोई व्यक्ति शेयर बाजार की भविष्यवाणी करता है या करने का दावा करता है तो आपके मन में सबसे पहला सवाल यह आना चाहिए कि आखिर यह कैसे संभव है?

और कोई भी व्यक्ति अगर किसी शेयर का प्राइस पहले से ही प्रिडिक्ट (Predict) कर पा रहा है तो वह ऐसा कैसे कर पा रहा है?

  • कहीं ऐसा तो नहीं है कि वह आपके साथ फ्रॉड कर रहा हो
  • कहीं ऐसा तो नहीं है कि शेयर बाजार के भविष्यफल के आधार पर वह अपनी निवेश की हुई कंपनियों में आप से निवेश करने को बोल रहा हो.
  • कहीं ऐसा तो नहीं है कि वह ऑपरेटर हो जो शेयर के प्राइस को मैनिपुलेट करता हो.
  • कहीं वह आपके पैसों से खुद पैसा तो नहीं कमा रहा है?

ऐसा मैं इसलिए बोल रहा हूं क्योंकि अगर आप स्टॉक मार्केट की हिस्ट्री उठा कर के देखे तो आज तक ना जाने कितने शेयर मार्केट स्कैम, घोटाले और फ्रॉड हो चुके हैं जिनमें 99% वही लोग पैसा गंवाते हैं जो शेयर मार्केट को बिना सीखे निवेश करते हैं।

क्या शेयर बाजार की भविष्यवाणी करना संभव है? (Is Stock Market Prediction Possible)

एक बात मैं आपको बिल्कुल सच-सच बता दूं कि अगर कोई व्यक्ति शेयर मार्केट में भविष्यवाणी करने का दावा करता है तो क्यों नहीं वह खुद भविष्यवाणी करके अरबपति खरबपति बन जाता…

क्यों वह आपको अमीर बनाना चाहता है… क्योंकि अगर ऐसा कुछ होता तो जो व्यक्ति शेयर का दाम पहले से प्रेडिक्ट कर पाता वह आज दुनिया का सबसे अमीर आदमी होता.

तो सबसे पहले तो आपको यह समझने की कोशिश करनी है कि स्टॉक मार्केट की भविष्यवाणी जैसी कोई चीज नहीं होती है.

लेकिन यह भी सच है कि शेयर के प्राइस का कुछ हद तक अंदाजा लगाया जा सकता है लेकिन इसके लिए आपको शेयर की फंडामेंटल और टेक्निकल रिसर्च करना सीखना होगा.

लोग स्टॉक मार्केट की भविष्यवाणी कैसे करते हैं?

हो सकता है कि आप में से ही कुछ लोग ज्योतिष विद्या वगैरह पर विश्वास करते होंगे.

वैसे अगर आप इंटरनेट पर खोजेंगे तो आपको कुछ आर्टिकल पैसे मिल जाएंगे जिसमें शेयर बाजार में इन कंपनियों के शेयर का भाव बढ़ने या घटने वाला है इसकी जानकारी ज्योतिष विद्या के आधार पर बताई जाती है।

मतलब लोग कुंभ, मकर, मीन आदि राशियों के द्वारा शेयर का प्राइस कम या ज्यादा होने का दावा करते हैं.

सुनने में तो यह बिल्कुल मजाक लगता है…

लेकिन मैं किसी की भावनाओं को ठेस नहीं पहुंचाना चाहता क्योंकि आप में से ही कुछ लोग ज्योतिष (Astrology) पर यकीन करते होंगे।

कुछ लोगों के लिए Astrology या प्रेडिक्शन (Prediction) सही भी निकली होगी।

लेकिन मैं आपसे एक सवाल पूछता हूं कि;

  • अगर शेयर बाजार में भविष्यवाणी करके ही शेयर का दाम पता लगाया जा सकता है तो फिर फंडामेंटल टेक्निकल रिसर्च की क्या जरूरत है?
  • क्यों इतने सारे टेक्निकल इंडिकेटर्स बनाए गए हैं?
  • क्यों अलग-अलग कैंडलेस्टिक चार्ट पेटर्न्स बनाए गए हैं?

सच्चाई तो यह है कि अगर शेयर मार्केट में कोई भविष्यवाणी काम आती है तो वह सिर्फ शेयर मार्केट प्रिडिक्शन के आधार पर आ सकती है जो सिर्फ टेक्निकल और फंडामेंटल रिसर्च सीखने के बाद संभव है।

टेक्निकल रिसर्च में आपको शेयर के अलग-अलग चार्ट पैटर्न के बारे में बताया जाता है और अलग-अलग इंडिकेटर्स के बारे में समझाया जाता है जिनके आधार पर ही आप यह निर्णय ले पाते हैं कि आने वाले समय में कोई भी शेयर का प्राइस बढ़ने वाला है या घटने वाला है।

मैंने कुछ लोगों को देखा है जो इस प्रकार के आर्टिकल इंटरनेट पर पोस्ट करते हैं जैसे कि―

  • इस हफ्ते आईटी कंपनियों (TCS, Infosys, Wipro) में मंदी आने वाली है,
  • इस महीने स्टील सेक्टर पर खतरा मंडरा रहा है,
    कृषि रसायन के उद्योगों के शेयर में उछाल आने की संभावना है,
  • तांबा का व्यापार करने वाले उद्योगों पर संकट मंडरा रहा है,
  • सेमीकंडक्टर कंपनियों राहु और केतु का खतरा मंडरा रहा है,

अगर आपने भी इस प्रकार के किसी भी आर्टिकल के बारे में इंटरनेट खड़ा हो तो कमेंट में जरूर बताना क्योंकि यह एक बहुत बड़ी समस्या बन चुका है जिससे निवेशकों का शेयर मार्केट में काफी नुकसान हो रहा है।

क्या शेयर बाजार में की गई भविष्यवाणी के आधार पर शेयर में निवेश करना चाहिए?

आज एक निवेशक शेयर मार्केट अपने पैसे पर ज्यादा से ज्यादा रिटर्न कमाने के लिए निवेश करता है लेकिन कुछ लोगों के चक्कर में ऐसे बहुत सारे नए निवेशकों का पूरा पैसा डूब जाता है।

जैसे ही मार्केट खुलता है तो लोग यह पता करने की कोशिश करते हैं कि उन्हें आज कौन सा शेयर खरीदना चाहिए? कुछ लोग एक दिन पहले ही शेयर का प्राइस बढ़ेगा या घटेगा इसकी जानकारी पता लगाने की कोशिश करते हैं।

लेकिन मैं हमेशा कहता हूं कि आपको कभी भी किसी भी ब्रोकरेज हाउस या एक्सपर्ट से टिप्स या सलाह लेकर शेयर नहीं खरीदना चाहिए जब तक कि आपको उस कंपनी के बारे में पूरी जानकारी ना हो।

अगर आप किसी कंपनी के शेयर में निवेश कर रहे हैं तो आपको पता होना चाहिए कि आप उस शेयर में नहीं बल्कि उस शेयर के जरिए कंपनी के बिजनेस में निवेश कर रहे हैं इसीलिए आपको उस कंपनी के बिजनेस के बारे में भी थोड़ा बहुत पता होना चाहिए।

ये ऐसी चीजें हैं जो आपको भविष्य में बहुत काम आएगी जब आर्थिक मंदी के वजह से शेयर बाजार डाउन हो जाएगा और जिस समय निफ़्टी सेंसेक्स जैसे सूचकांक नीचे गिर रहे होंगे तो उस समय आप अन्य लोगों की तरह निराश होकर अपने खरीदे हुए शेयर को बेचेंगे नहीं बल्कि अगर आपको कंपनी पर भरोसा है तो और खरीदेंगे।

कंपनी पर भरोसा होने का मतलब है कि आपने उस कंपनी पर अच्छे से रिसर्च की हुई है।

अगर आप ब्लूचिप कंपनियों रिलायंस इंडस्ट्रीज, टीसीएस, इंफोसिस, विप्रो आदि में निवेश करते हैं तो आपको कभी भी घबराने की जरूरत नहीं होगी क्योंकि लॉन्ग टाइम में ऐसी फंडामेंटल मजबूत कंपनियों का प्राइस ऊपर ही जाता है,

समस्या यह है कि लोग अच्छी कंपनियों में निवेश करने की वजह सस्ते शेयर में निवेश करने की सोचते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि कोई 1 रुपए से कम का शेयर बहुत जल्दी 2 रुपए का हो सकता है बजाए की एक 1000 का शेयर 2000 का हो जाए।

अगर देखा जाए तो ऐसे में उनका पैसा डबल हो जाएगा जबकि सच तो यह है कि ऐसा कभी होता ही नहीं है जो पेनी स्टॉक्स वाली कंपनियां होती हैं मतलब जो स्टॉक्स ₹1 या ₹2 या ₹5 के मिलते हैं उनके फंडामेंटल काफी कमजोर होते हैं या फिर उनके बिजनेस पूरी तरह से बर्बाद हो चुके होते हैं और इसीलिए उनके शेयर इतने सस्ते दाम में मिलते हैं।

तो ऐसे में अगर आप किसी से शेयर मार्केट की भविष्यवाणी सुनकर किसी भी ऐसी वैसी कंपनी में निवेश कर देते हैं तो इसमें आपकी ही गलती है क्योंकि आपने कंपनी पर रिसर्च नहीं की हुई है।

अगर आप सोच समझकर शेयर मार्केट के सभी नियमों को सीख कर, कंपनी पर अच्छे से रिसर्च करके, कंपनी के past परफॉर्मेंस और भविष्य की योजनाओं को ध्यान में रखते हुए निवेश करते हैं तो आप उन 5% निवेशकों में शामिल हो जाएंगे जो शेयर बाजार से पैसा कमाते हैं।

क्या शेयर बाजार की भविष्यवाणी झूठी होती है?

अगर कोई व्यक्ति शेयर बाजार के सभी नियमों को अच्छे से समझ कर, टेक्निकल और फंडामेंटल एनालिसिस अच्छे से समझता हो और फिर वह अलग-अलग फैक्टर और लॉजिक के आधार पर शेयर मार्केट में प्रेडिक्शन करता है तो वह सही है,

लेकिन वहीं दूसरी ओर अगर दुनिया में कोई भी व्यक्ति जो सिर्फ ग्रह नक्षत्रों के आधार पर शेयर के दाम की गिरावट या उछाल का भविष्य बताता है वह मेरे नजरिए से फ्रॉड है।

यहां पर सिर्फ मैंने अपना नजरिया शेयर किया है हो सकता है कि कुछ लोग ज्योतिष पर बहुत गहरा विश्वास रखते होंगे तो ऐसे लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाना मेरा मकसद नहीं है लेकिन शेयर बाजार में अगर आप केवल लॉजिक के आधार पर निवेश करें तो ही बेहतर है ना कि सिर्फ प्रेडिक्शन के आधार पर।

आजकल शेयर मार्केट में फ्रॉड करने वाले बहुत हैं बहुत ज्यादा स्कैम हो रहे हैं और इसीलिए इस वेबसाइट के जरिए हम शेयर मार्केट को सीखने पर जोर देते हैं ना की किसी अन्य की टिप्स लेकर निवेश करने की।

शेयर मार्केट की भविष्यवाणी कौन कर सकता है?

अगर आपको शेयर बाजार का अच्छा खासा एक्सपीरियंस है और आप काफी लंबे समय से शेयर बाजार में निवेश करते आ रहे हैं तो आप कई हद तक उस कंपनी के शेयर के परफॉर्मेंस का अनुमान लगा सकते हैं जिसकी आपको अच्छी समझ है।

आपने कुछ बड़े और सफल निवेशको जैसे राकेश झुनझुनवाला या राधाकृष्ण दमानी के बारे में सुना होगा जिनके सिर्फ एक ट्वीट पर शेयर का दाम बढ़ या घट जाता है।

ऐसा इसलिए होता है क्योंकि लोगों को उनकी नॉलेज और एक्सपीरियंस के बारे में पता है इसीलिए जब वह किसी भी शेयर में निवेश करते हैं तो बाकी छोटे निवेशक भी उसी शेयर में निवेश कर देते हैं।

लेकिन आपको यह समझना चाहिए कि आपके और बड़े निवेशको के रिस्क झेलने की क्षमता में जमीन आसमान का अंतर है मतलब कि अगर बड़े निवेशकों को 2-4 करोड़ रुपये का नुकसान भी हो गया तो उन्हें कोई फर्क नहीं पड़ेगा

लेकिन वहीं अगर आपको या किसी भी छोटे रिटेल निवेशक को इतना नुकसान हो गया तो आप कंगाल होकर सड़क पर भी आ सकते हैं।

इसलिए आपको किसी के भी कहने पर शेयर में निवेश नहीं करना चाहिए बल्कि अपनी रिस्क लेने की क्षमता के आधार पर ही पेनी स्टॉक्स या ऐसी कंपनियों में निवेश करना चाहिए जिनमें आपको लगता है कि भविष्य में वह अच्छा परफॉर्मेंस दिखा सकती हैं।

स्टॉक मार्केट प्रिडिक्शन किस हद तक सही है?

केवल शेयर मार्केट से नहीं बल्कि कुछ लोग तो सोने या चांदी के दाम बढ़ने या घटने को भी ज्योतिष से जोड़ देते हैं और आश्चर्य की बात तो यह है कि बहुत सारे लोग उन पर विश्वास भी करते हैं।

एक समझदार और इंटेलिजेंट निवेशक कभी भी इस प्रकार की बातों पर यकीन नहीं करेगा।

क्या आपको लगता है कि दुनिया के सबसे अमीर इन्वेस्टर Warren Buffet इंडिया के सबसे सफल निवेशक राकेश झुनझुनवाला शेयर मार्केट की भविष्यवाणी पर यकीन रखते होंगे?

नहीं ना…

तो फिर आप क्यों बिना रिसर्च किए किसी भी स्टॉक में निवेश कर देते हैं. शायद यही रीजन है कि शेयर मार्केट में 90% लोग सिर्फ अपने पैसे का नुकसान करते हैं क्योंकि लोगों को शेयर मार्केट एक खेल लगता है।

आपको समझना चाहिए कि एक समझदार निवेशक कभी भी इस प्रकार की बातों पर यकीन करके या फिर केवल दूसरों के कहने पर किसी भी स्टॉक में निवेश नहीं करता है

बल्कि पहले वह कंपनी के बारे में अच्छे से रिसर्च करता है उसके फंडामेंटल को पढता है, समझता है और फिर अगर उसे कंपनी में ग्रोथ की संभावना दिखती है तो ही वह उस कंपनी के शेयर में निवेश करता है और अंततः वह उससे अच्छा खासा प्रॉफिट भी कमाता है और यही हर एक सफल निवेशक की निशानी होती है।

क्या शेयर मार्केट की भविष्यवाणी सुनकर शेयर में निवेश करना चाहिए?

आपको शेयर बाजार की भविष्यवाणी के बजाए शेयर की इंटरिंसिक वैल्यू को समझने की कोशिश करना चाहिए। आपको पता होना चाहिए कि उस शेयर की एक्चुअल वैल्यू क्या हो सकती है।

  • कोई शेयर कितना महंगा है या सस्ता यह पता लगाने के लिए आपको शेयर के PE Ratio को अच्छे से समझना होगा
  • आपको स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्टेड कंपनियों के प्राइस ऊपर नीचे क्यों होते हैं, इसके बारे में पता करना चाहिए।
  • किसी भी शेयर में अगर अचानक से गिरावट आ जाती है तो आपको उसका कारण जानने की कोशिश करनी चाहिए।

इसी प्रकार अगर कोई शेयर केवल ऊपर ही ऊपर जा रहा है मतलब उसमें रोजाना अपर सर्किट लग रहे हैं तो आपको सिर्फ उसमें इसलिए पैसे निवेश नहीं कर देना चाहिए क्योंकि आपको लगता है कि आपका पैसा भी कुछ ही दिनों बाद मल्टिप्लाई हो जाएगा

बल्कि आपको उसके पीछे का कारण पता लगाने की कोशिश करना चाहिए कि अगर कोई शेयर सिर्फ ऊपर ही ऊपर जा रहा है तो कंपनी ने ऐसा क्या किया है जिसके आधार पर उसका शेयर इतनी तेजी से ऊपर जा रहा है।

आपको यह पता होना चाहिए कि क्या कंपनी का शेयर प्राइस या उसका वैल्यूएशन कंपनी का परफॉर्मेंस और उसके बिजनेस को justify करता है या नहीं…

इन सभी चीजों के बारे में जानना हर एक शेयर मार्केट निवेशक के लिए बहुत जरूरी है।

  • सच्चाई तो यह है कि ज्यादातर लोग जो शेयर मार्केट में निवेश करने के लिए आते हैं वह सिर्फ लोगों से सलाह लेकर ही किसी भी शेयर में अपना पैसा निवेश कर देते हैं और जब उनका पैसा डूब जाता है तो शेयर मार्केट को दोष लगाते हैं।

आपको सिर्फ फैक्ट पर विश्वास करना चाहिए ना कि लोगों की बातों पर।

  • Moneycontrol और Screener.in जैसे उपयोगी वेबसाइट पर जाकर कंपनी के शेयर की परफॉर्मेंस की जांच करें.
  • कंपनी की बैलेंस शीट फॉर इनकम स्टेटमेंट देखें.
    जांच करें कि कंपनी कितना नेट प्रॉफिट या रेवेन्यू कमा रही है.
  • कहीं ऐसा तो नहीं है कि कंपनी ने बहुत ज्यादा कर्ज लिया हुआ हो जिसे चुकाने में वह सक्षम ना हो।

ऐसा करने से आपको पता चलेगा कि आखिर कंपनी में कितना दम (Potential) है.

आपको हर्षद मेहता स्कैम के बारे में तो पता ही होगा इस scam के ऊपर एक बहुत ही पॉपुलर वेब सीरीज “Scam 1992” भी बनी है। यह वेब सीरीज आपको बताती है कि किस प्रकार से करोड़ों रुपया का घोटाला हुआ और कैसे लोगों ने इस स्कैम में शेयर मार्केट में अपने पैसे डूबा दिए।

लेकिन अगर आपने इस scam को ध्यान से समझा होगा तो आपको पता होगा कि ACC सीमेंट कंपनी के प्राइस को inflate करके इतना ज्यादा बढ़ा दिया गया था जितना कि उसका बिज़नेस था ही नहीं.

सभी लोगों से सिर्फ यह कहकर निवेश करवाया जा रहा था कि उनका पैसा कल दुगना या 4 गुना हो जाएगा और ऐसा हो भी रहा था इसीलिए लोग इस scam में भागीदार बन गए थे।

और ऐसे ही लोगों ने इस फ्रॉड में अपना सब कुछ बेच कर भी पैसे इन्वेस्ट किये और फिर कंगाल हो गए।

लेकिन वहीं दूसरी और कुछ लोग जो समझदार थे (जिसमें राधाकृष्ण दमानी का नाम भी शामिल है) उन्होंने इस scam  को पहले ही परख लिया था क्योंकि वह कंपनी के बारे में रिसर्च करते थे इसीलिए उन्हें पता था कि अगर कोई शेयर का प्राइस बेवजह बढ़ रहा है तो कभी भी उस कंपनी में निवेश नहीं करना चाहिए।

  • बल्कि यह पता लगाना चाहिए कि आखिर ऐसा क्यों हो रहा है?

इसीलिए राधाकृष्ण दमानी को पता था कि एक ना एक दिन यह शेयर मार्केट बबल जरूर फटेगा और ऐसा ही हुआ, 1992 में सारा सच सामने आ गया और सबको पता चल गया कि एक साथ बहुत सारा पैसा शेयर मार्केट में डाला जा रहा था और इसीलिए शेयर के प्राइस बढ़ रहे थे।

अगर आपने यह वेब सीरीज देखी है तो आप इन सभी बातों को समझ रहे होंगे।

इसीलिए मैं तो आपको यही सलाह देता हूं कि स्टॉक मार्केट में निवेश करने से पहले आपको इसे सीखना होगा। कुछ लोग जो ट्रेडिंग करते हैं वह रोजाना इंट्राडे ट्रेडिंग करते समय शेयर के चार्ट पेटर्न की मूवमेंट से पता लगाते हैं कि शेयर ऊपर जाएगा या नीचे..

यह बात ट्रेडर लोगों पर अप्लाई होती है जिसमें रिस्क भी बहुत ज्यादा है और उन्हें बहुत सारी टेक्निकल इंडिकेटर को ध्यान में रखना पड़ता है वरना ट्रेडर्स एक ही झटके में बहुत सारा नुकसान कर सकते हैं।

लेकिन अगर आप ट्रेडर की बजाए एक सफल इन्वेस्टर बनना चाहते हैं तो आपको कंपनी के फंडामेंटल एनालिसिस पर ध्यान देना होगा और शेयर मार्केट के बेसिक नियमों को जानना होगा।

  • आपको पता होना चाहिए कि स्टॉक मार्केट में निवेश करने से पहले कौन कौन सी सावधानियां रखनी चाहिए?
  • शेयर मार्केट में किस समय पैसा निवेश करना चाहिए?
  • शेयर कब खरीदना और बेचना चाहिए?
  • सेंसेक्स और निफ्टी की हिस्ट्री के बारे में आपको पता होना चाहिए.
  • शेयर बाजार में लोगों को नुकसान क्यों होता है इसके कारण जानने की कोशिश करना चाहिए।
  • सिर्फ दूसरों से टिप्स लेकर उसकी बताई गयी कंपनी में निवेश नहीं करना चाहिए क्योंकि हो सकता है कि वह अपने फायदे के लिए उस कंपनी में आपसे निवेश करवा रहा हो और बाद में जब उस शेयर का प्राइस बढ़ जाए तो वह उसके सभी खरीदे हुए सभी शेयर बेचकर बाहर निकल जाए और आपका सारा पैसा डूब जाए।

यही वो कारण हैं जो एक आम निवेशक को सफल निवेशक बनाते हैं और अगर आप शेयर बाजार के सभी नियमों को ध्यान में रखकर निवेश करते हैं तो आपको भी जरुर सफलता मिलेगी।

FAQ (शेयर बाजार की भविष्यवाणी 2022)

शेयर बाजार की भविष्यवाणी कितनी सच होती है?

जैसा कि मैंने कहा कि आपको शेयर बाजार की किसी भी भविष्यवाणी पर यकीन नहीं करना चाहिए बल्कि खुद से कंपनी पर रिसर्च करना चाहिए और फिर आपको खुद ब खुद पता चल जाएगा कि उस कंपनी के बारे में जो लोग भविष्यवाणी कर रहे हैं वह कितनी सच है।

क्या सच में शेयर बाजार में भविष्यवाणी करके अमीर बना जा सकता है?

इसका सीधा जवाब है बिल्कुल नहीं. क्योंकि अगर ऐसा संभव होता तो हर एक निवेशक सिर्फ स्टॉक मार्केट प्रिडिक्शन करके या भविष्यवाणी के आधार पर निवेश कर देता और अमीर बन जाता इसीलिए ऐसा संभव नहीं है।

क्या Stock market prediction करना संभव है?

Share market prediction करना बिल्कुल ना के बराबर है लेकिन फिर भी जो लोग शेयर मार्केट में काफी लंबे समय से इन्वेस्ट कर रहे हैं और वह फंडामेंटल और टेक्निकल रिसर्च को अच्छे से समझते हैं तो वह काफी हद तक मतलब 40- 50% शेयर का प्राइस बढ़ने या घटने का सही तरीका अंदाजा लगा सकते हैं।

शेयर बाजार की भविष्यवाणी पर कौन भरोसा करता है?

जो लोग शेयर बाजार में नए होते हैं और बिना सीखे स्टॉक मार्केट को जल्दी पैसा कमाने की मशीन की तरह देखते हैं केवल वही लोग इस प्रकार के भविष्यवाणियों पर यकीन करते हैं और फिर ऐसे ही लोग शेयर मार्केट में नुकसान कर कंगाल हो जाते हैं।

शेयर बाजार की भविष्यवाणी 2022 की पूरी जानकारी

इस पोस्ट में हमने आपको शेयर मार्केट की भविष्यवाणी 2022 (Stock Market Prediction in Hindi) के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश की है।

क्योंकि आज भी इंडिया में कुछ नए निवेशक सिर्फ दूसरों के कहने पर ऐसे शेयर में लालच में आकर निवेश कर देते हैं जिनके फंडामेंटल काफी कमजोर हैं।

शेयर बाजार में पैसा कई गुना करने के चक्कर में बहुत सारे लोगों के साथ फ्रॉड किया जाता है, लोगों का बहुत सारा पैसा शेयर बाजार में सिर्फ इसीलिए डूब जाता है क्योंकि लोग इसे बिना सीखे निवेश करते हैं।

अब मैं आपसे जानना चाहता हूं कि क्या आपने कि कभी किसी के कहने पर किसी भी कंपनी के शेयर में निवेश किया है अगर हां तो आप अपना एक्सपीरियंस कमेंट बॉक्स में मुझे बता सकते हैं।

अगर आपको इस पोस्ट में दी गई जानकारी उपयोगी लगी हो तो आप इसे अपने अन्य दोस्तों के साथ भी शेयर कर सकते हैं।

शेयर मार्केट में एक्सपर्ट बनने के लिए आप इस ब्लॉग की अन्य पोस्ट भी पढ़ सकते हैं।

4/5 - (36 votes)
Deepak SenAbout Author
मेरा नाम दीपक सेन है और मैं इस ब्लॉग का Founder हूं। यहां पर मैं अपने पाठकों के लिए नियमित रूप से शेयर मार्केट, निवेश और फाइनेंस से संबंधित उपयोगी जानकारी शेयर करता हूं। ❤️

1 thought on “क्या शेयर बाजार की भविष्यवाणी 2022 में करना संभव है?”

  1. पहले पहले सभी फोन कालों पर विश्वास करता हुआ पैसा लगाता गया जब नुकसान 1 लाख के लगभग हो चुका था तो सोचा किसी की गाईडेन्स में काम करते हैं पिछले 4 से 5 महीने से काम कर रहा हूँ सन्तोष प्रद नहीं रहा ।

    Reply

Leave a Comment