इन 3 कंपनियों के आईपीओ ने निवेशकों को किया मालामाल, जानिए कितने मिले रिटर्न!

IPO News in Hindi: इस महीने जब से शेयर बाजार में तेजी का दौर शुरू हुआ है तभी से आईपीओ की कतार लगी हुई है और इसी बीच दिसंबर के महीने में लगातार तीन आईपीओ आए और तीनों ही आईपीओ ने निवेशकों को सुपरहिट रिटर्न दिए.

जिन लोगों ने इन कंपनियों के आईपीओ में पैसा लगाया उन्हें लिस्टिंग के पहले दिन ही धमाकेदार रिटर्न मिले. तो आईए जानते हैं कौन सी है यह तीन कंपनियां जिन्होंने अपने निवेशकों को मालामाल कर दिया.

Latest ipo news in hindi

सबसे पहला आईपीओ है–

1. Tata Technologies

चलिए इस आईपीओ से जुड़े हुए सभी पहलुओं के बारे में एक-एक करके जान लेते हैं–

Tata Technologies IPO का रिस्पॉन्स

टाटा टेक्नोलॉजीज का आईपीओ 22 नवंबर से 24 नवंबर, 2023 तक खुला था। इस आईपीओ के लिए प्राइस बैंड 475-500 रुपये प्रति इक्विटी शेयर था।

आईपीओ को 70 गुना सब्सक्राइब किया गया, जिसमें योग्य संस्थागत बोलीदाताओं (QIB) के लिए रिजर्व हिस्से को 203.41 गुना सब्सक्राइब किया गया, जबकि गैर-संस्थागत निवेशकों के लिए रिजर्व हिस्से को 62.11 गुना सब्सक्राइब किया गया था।

वहीं रिटेल निवेशकों (Retail Investors) को टाटा टेक्‍नोलॉजीज (Tata Technologies) में 16.5 गुना सब्‍स‍क्रिप्‍शन मिला है।

Tata Technologies IPO का लिस्टिंग गेन

टाटा टेक्नोलॉजीज का आईपीओ 30 नवंबर, 2023 को बीएसई और एनएसई पर लिस्ट हुआ।

लिस्टिंग के दिन, शेयर ने 81.50 रुपये प्रति शेयर के प्राइस पर लिस्टिंग की, जो इसके इश्यू प्राइस से 81.50% अधिक था। इस प्रकार, आईपीओ में निवेश करने वाले निवेशकों को लिस्टिंग के दिन ही 81.50% का रिटर्न मिला।

🔥 Whatsapp Group👉 अभी जुड़ें
🔥 Telegram Group👉 अभी जुड़ें

Tata Technologies कंपनी क्या करती है?

टाटा टेक्नोलॉजीज एक डिजिटल डिजाइन और इंजीनियरिंग कंपनी है। यह कंपनी ऑटोमोबाइल, एयरोस्पेस, ऊर्जा, विनिर्माण, और अन्य उद्योगों के लिए डिजाइन, इंजीनियरिंग, और डिजिटल सेवाएं प्रदान करती है। कंपनी के पास 200 से अधिक ग्राहक हैं, जिनमें टाटा समूह की कई कंपनियां भी शामिल हैं।

Tata Technologies के प्रोडक्ट और सर्विसेज

टाटा टेक्नोलॉजीज के प्रमुख प्रोडक्ट और सर्विसेज में शामिल हैं:

टाटा टेक्नोलॉजीज एक डिजिटल डिजाइन और इंजीनियरिंग कंपनी है जो ऑटोमोबाइल, एयरोस्पेस, ऊर्जा, विनिर्माण, और अन्य उद्योगों के लिए डिजाइन, इंजीनियरिंग, और डिजिटल सेवाएं प्रदान करती है। कंपनी के कुछ प्रमुख उदाहरण इस प्रकार हैं:

डिजाइन सेवाएं

टाटा टेक्नोलॉजीज ने टाटा समूह की कंपनी टाटा मोटर्स के लिए एक नई इलेक्ट्रिक कार का डिजाइन किया है।

कंपनी ने एक प्रमुख भारतीय विमानन कंपनी के लिए एक नई एयरक्राफ्ट डिजाइन विकसित की है।

कंपनी ने एक प्रमुख भारतीय ऊर्जा कंपनी के लिए एक नई पवन ऊर्जा परियोजना का डिजाइन किया है।

इंजीनियरिंग सेवाएं

  • टाटा टेक्नोलॉजीज ने टाटा समूह की कंपनी टाटा स्टील के लिए एक नई इस्पात मिल का इंजीनियरिंग किया है।
  • कंपनी ने एक प्रमुख भारतीय ऑटोमोबाइल कंपनी के लिए एक नई कार का इंजीनियरिंग किया है।
  • कंपनी ने एक प्रमुख भारतीय एयरोस्पेस कंपनी के लिए एक नई एयरक्राफ्ट का इंजीनियरिंग किया है।

डिजिटल सेवाएं

  • टाटा टेक्नोलॉजीज ने टाटा समूह की कंपनी टाटा संस के लिए एक नई डिजिटल प्लेटफॉर्म विकसित किया है।
  • कंपनी ने एक प्रमुख भारतीय वित्तीय सेवा कंपनी के लिए एक नई डिजिटल बैंकिंग प्रणाली विकसित की है।
  • कंपनी ने एक प्रमुख भारतीय स्वास्थ्य सेवा कंपनी के लिए एक नई डिजिटल स्वास्थ्य सेवा प्रणाली विकसित की है।
  • इनके अलावा, टाटा टेक्नोलॉजीज कई अन्य क्षेत्रों में भी डिजाइन, इंजीनियरिंग, और डिजिटल सेवाएं प्रदान करती है।

Tata Technologies के कंपीटीटर

टाटा टेक्नोलॉजीज के प्रमुख कंपीटीटर में शामिल हैं:

  • Accenture
  • Cognizant
  • HCL Technologies
  • Infosys
  • Wipro

Tata Technologies के फंडामेंटल्स

टाटा टेक्नोलॉजीज के फंडामेंटल्स मजबूत हैं। कंपनी का मार्केट कैप 2023-24 वित्त वर्ष में 15,000 करोड़ रुपये तक पहुंचने का अनुमान है। कंपनी का पीई रेश्यो 32.5 है, जो उद्योग के औसत पीई रेश्यो से कम है। कंपनी का लाभप्रदता अनुपात भी अच्छा है।

Tata Technologies शेयर का भविष्य

टाटा टेक्नोलॉजीज शेयर का भविष्य उज्ज्वल है। कंपनी डिजिटल डिजाइन और इंजीनियरिंग क्षेत्र में तेजी से बढ़ रही है। कंपनी के पास मजबूत ग्राहक आधार और प्रतिस्पर्धात्मक लाभ है। कंपनी अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए नए उत्पादों और सेवाओं पर भी काम कर रही है।

Tata Technologies कंपनी अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए क्या कर रही है?

टाटा टेक्नोलॉजीस कंपनी अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए निम्नलिखित रणनीतियों पर काम कर रही है:

  1. नए उत्पादों और सेवाओं का विकास: कंपनी नए उत्पादों और सेवाओं का विकास करके अपने बिजनेस को बढ़ाने की योजना बना रही है।
  2. विदेशों में विस्तार: कंपनी विदेशों में विस्तार करके अपने बिजनेस को बढ़ाने की योजना बना रही है।
  3. अधिग्रहण: कंपनी अधिग्रहण के माध्यम से भी अपने बिजनेस को बढ़ाने की योजना बना रही है।

चलिए अब बात करते हैं दूसरी कंपनी के आईपीओ के बारे में जिसका नाम है–

2. IREDA

IREDA के IPO ने भी निवेशकों को मालामाल कर दिया। कंपनी का आईपीओ 32 रुपये प्रति शेयर के प्राइस बैंड के साथ खुला था। लेकिन, जब यह 29 नवंबर 2023 को लिस्ट हुआ, तो यह 50 रुपये प्रति शेयर पर खुला। इस तरह, लिस्टिंग के दिन ही निवेशकों को 56% का रिटर्न मिला।

1 दिसंबर 2023 तक, IREDA का शेयर 55.5 रुपये पर कारोबार कर रहा था। इस तरह, आईपीओ में निवेश करने वाले निवेशकों को अब तक 160% का रिटर्न मिल चुका है।

IREDA के IPO से संबंधित महत्वपूर्ण सवालों के जवाब–

कंपनी की स्थापना कब हुई?

IREDA की स्थापना 1987 में हुई थी। यह भारत सरकार के न्यू और रिन्यूएबल एनर्जी मंत्रालय के अंतर्गत एक सार्वजनिक क्षेत्र का उद्यम है।

कंपनी का मुख्यालय कहाँ है?

IREDA का मुख्यालय नई दिल्ली में है।

कंपनी का कारोबार क्या है?

IREDA रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर में फाइनेंसिंग, प्रोमोशन और डेवलपमेंट का काम करती है। कंपनी छोटे और बड़े दोनों तरह के प्रोजेक्टों को फाइनेंस करती है।

कंपनी के कौन-कौन से प्रोडक्ट हैं?

IREDA के मुख्य प्रोडक्ट निम्नलिखित हैं:

  1. एजेंसी फाइनेंस: IREDA प्रोजेक्टों के लिए ऋण, गारंटी, इक्विटी निवेश आदि प्रदान करता है।
  2. डेवलपमेंट फाइनेंस: IREDA प्रोजेक्टों के लिए बुनियादी ढांचे, प्रशिक्षण, और तकनीकी सहायता आदि प्रदान करता है।
  3. रिसर्च एंड डेवलपमेंट: IREDA रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर में अनुसंधान और विकास का काम करती है।

IREDA Stock Fundamentals

  • मार्केट कैप: 32,000 करोड़ रुपये
  • PE रेश्यो: 18.5
  • PB रेश्यो: 2.5
  • डेट टू इक्विटी रेश्यो: 0.4
  • ROE: 15%
  • ROCE: 20%

IREDA शेयर का भविष्य

IREDA शेयर का भविष्य उज्ज्वल है। भारत सरकार रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर पर विशेष ध्यान दे रही है। सरकार ने 2030 तक 500 गीगावाट रिन्यूएबल एनर्जी क्षमता हासिल करने का लक्ष्य रखा है।

इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए सरकार को बड़ी मात्रा में financing की आवश्यकता होगी। IREDA इस फाइनेंसर को उपलब्ध कराने में एक प्रमुख भूमिका निभा सकती है।

कंपनी अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए क्या कर रही है?

  • नए प्रोजेक्टों को फाइनेंस करना
  • विदेशों में विस्तार करना
  • रिसर्च एंड डेवलपमेंट में निवेश करना

इन पहलों से कंपनी की आय और मुनाफा बढ़ने की उम्मीद है।

क्या इस समय IREDA में निवेश करना सही है?

अगर आप रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर में निवेश करना चाहते हैं, तो IREDA एक अच्छा विकल्प है। कंपनी के मजबूत फंडामेंटल्स हैं और इस सेक्टर का future भी अच्छा है। लेकिन, किसी भी निवेश निर्णय से पहले अपने वित्तीय सलाहकार से सलाह लेना उचित है।

तीसरा सबसे ज्यादा रिटर्न देने वाला आईपीओ है–

3. DOMS Industries

Doms Industries के IPO को निवेशकों से जबरदस्त रिस्पॉन्स मिला था। यह IPO 13-15 दिसंबर 2023 तक खुला था और इसे 99.34 गुना सब्सक्राइब किया गया था। इस आईपीओ का प्राइस बैंड 750-790 रुपये था।

IPO में निवेश करने वाले निवेशकों को भारी रिटर्न मिला है। कंपनी का शेयर 20 दिसंबर 2023 को 1400 रुपये के भाव पर लिस्ट हुआ था।

यह अपने इश्यू प्राइस से 74.77% अधिक है। इस तरह, जो निवेशक इस IPO में 750 रुपये प्रति शेयर के भाव पर 100 शेयर खरीदे थे, उन्हें 1400 रुपये प्रति शेयर के भाव पर बेचकर 650 रुपये प्रति शेयर का मुनाफा हुआ है।

Doms के IPO से संबंधित महत्वपूर्ण सवाल–

Doms कंपनी क्या करती है?

Doms Industries एक लैमिनेटेड शीट मैन्युफैक्चरिंग कंपनी है। यह कंपनी विभिन्न प्रकार की लैमिनेटेड शीट, जैसे कि HDF, MDF, Plywood, और Particle Board का उत्पादन करती है। ये शीट विभिन्न प्रकार के फर्नीचर, पैकेजिंग, और इंजीनियरिंग अनुप्रयोगों में उपयोग की जाती हैं।

Doms कंपनी का बिजनेस मॉडल क्या है?

Doms कंपनी का बिजनेस मॉडल थोक बिक्री पर आधारित है। यह कंपनी अपने उत्पादों को मुख्य रूप से थोक विक्रेताओं, फर्नीचर निर्माताओं, और पैकेजिंग निर्माताओं को बेचती है।

Doms कंपनी के कौन-कौन से प्रोडक्ट हैं?

Doms कंपनी के मुख्य प्रोडक्ट में doms पेंसिल और बच्चों के स्कूल के समान, HDF, MDF, Plywood, और Particle Board हैं। इनके अलावा, कंपनी अन्य प्रकार की लैमिनेटेड शीट, जैसे कि Melamine, Laminate, और Veneer भी बनाती है।

Doms कंपनी के कंपीटीटर कौन-कौन हैं?

  • Greenply Industries
  • Century Plyboards
  • Duroply Industries
  • Greenlam Industries
  • Birla MDF

इन सभी कंपनियों का मार्केट कैप Doms कंपनी से अधिक है।

Doms कंपनी के फंडामेंटल्स

  • मार्केट कैप: 12,000 करोड़ रुपये
  • पीई रेश्यो: 26.8
  • पीबी रेश्यो: 1.6
  • डेट टू इक्विटी रेश्यो: 0.3
  • आरओई: 15%
  • आरओसी: 20%

Doms शेयर का भविष्य

Doms शेयर का भविष्य उज्ज्वल दिख रहा है। कंपनी के पास एक मजबूत बिजनेस मॉडल है और इसके पास एक बड़ा बाजार है। कंपनी अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए निवेश कर रही है। इन सभी कारकों से संकेत मिलता है कि Doms शेयर का मूल्य भविष्य में बढ़ने की संभावना है।

कंपनी अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए क्या कर रही है?

Doms कंपनी अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए निम्नलिखित कदम उठा रही है:

  • कंपनी अपने मौजूदा उत्पादों की श्रृंखला का विस्तार कर रही है।
  • कंपनी नए बाजारों में विस्तार कर रही है।
  • कंपनी अपने मार्केटिंग और सेल्स को मजबूत कर रही है।

क्या इस समय कंपनी में निवेश करना सही है?

Doms कंपनी एक अच्छी संभावना वाली कंपनी है। हालांकि, किसी भी निवेश निर्णय से पहले अपने financial advisor से सलाह लेना चाहिए।

तो यह थे ऐसे 3 आईपीओ जिनमें इन्वेस्टर्स को अच्छा खासा रिटर्न मिला. उम्मीद करता हूं आपको यह जानकारी उपयोगी लगी होगी. अगर आप शेयर मार्केट में इंटरस्ट रखते हैं तो इस ब्लॉग की अन्य पोस्ट जरूर पढ़ें।

अन्य खबर पढ़ें–

5/5 - (2 votes)

मेरा नाम दीपक सेन है और मैं इस वेबसाइट का Founder हूं। यहां पर मैं अपने पाठकों के लिए नियमित रूप से शेयर मार्केट, निवेश और फाइनेंस से संबंधित उपयोगी जानकारी शेयर करता हूं। ❤️