शेयर मार्केट में ट्रेडिंग कैसे करें? – (Step by Step समझें)

जानिए शेयर मार्केट ट्रेडिंग कैसे करें, मोबाइल से ट्रेडिंग कैसे करें, ऑनलाइन ट्रेडिंग कैसे करते है, घर बैठे ट्रेडिंग कैसे की जाती है, नए लोग ट्रेडिंग की शुरुआत कैसे करें.

Trading kaise kare in hindi

आजकल घर बैठे ट्रेडिंग करना बहुत पॉपुलर हो गया है क्योंकि लोग मोबाइल से ऑनलाइन ट्रेडिंग करके हर दिन का लाखों रुपए कमा रहे हैं। इनमें से कुछ लोग शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करते हैं तो कुछ लोग कमोडिटी या फॉरेक्स मार्केट में ट्रेड करते हैं और वहीं कुछ लोग ऐसे हैं जो क्रिप्टोकरंसी मार्केट में भी ट्रेड करते हैं।

मतलब अगर देखा जाए तो एक बार अगर आप ट्रेडिंग करना सीख जाते हैं तो आप भी प्रोफेशनल ट्रेडर्स की तरह घर बैठे लाखों रुपए कमा सकते हैं. लेकिन ट्रेडिंग करना इतना आसान नहीं है जितना हमें लगता है।

इसलिए आज मैं इस पोस्ट में आपको बताने वाला हूं कि ट्रेडिंग कैसे करें, मोबाइल से ऑनलाइन ट्रेडिंग कैसे करते हैं और घर बैठे ट्रेडिंग करने के लिए आपको क्या करना पड़ता है? इसके अलावा हम आपको यह भी बताएंगे कि ट्रेडिंग करने से पहले आपको कौन-कौन सी बातों का ध्यान रखना चाहिए.

तो अगर आप भी ट्रेडिंग करना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को पूरा ध्यान से पढ़ें.

इस पोस्ट में आप जानेंगे-

शेयर बाजार में ट्रेडिंग कैसे करें?

शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करने के लिए आपको तीन चीजों की जरूरत पड़ती है डीमैट खाता, ट्रेडिंग खाता और बैंक अकाउंट. जब आपके पास यह तीनों चीजें हो जाती हैं तो आप ऑनलाइन शेयर बाजार में ट्रेडिंग कर सकते हैं.

नीचे हमने कुछ सिंपल स्टेप्स बताए हैं जिनके जरिए आप आसानी से शेयर बाजार में ट्रेडिंग कर सकते हैं आइए जान लेते हैं―

1. एक अच्छा ब्रोकर सिलेक्ट करें

ट्रेडिंग करने के लिए सबसे पहला स्टेप होता है सही ब्रोकर का चुनाव करना. क्योंकि अगर आपने एक बार गलत ब्रोकर चुन लिया तो आपको ट्रेडिंग में हमेशा नुकसान ही होगा। जैसा कि आपको पता है आजकल ऑनलाइन ट्रेडिंग का जमाना है इसीलिए ट्रेडिंग करने के लिए भी ऑनलाइन ब्रोकिंग एप्स मौजूद हैं जैसे–

🔥 Whatsapp Group 👉 अभी जुड़ें
🔥 Telegram Group 👉 अभी जुड़ें
  • Zerodha,
  • Upstox,
  • Angel Broking,
  • 5paisa आदि।

लेकिन इनमें से किसी भी ब्रोकर ऐप में डिमैट या ट्रेडिंग अकाउंट खोलने से पहले इनके ब्रोकरेज चार्जेस जरूर चेक कर लेना चाहिए। क्योंकि जब आप शेयर मार्केट में ट्रेड करते हैं तो आपको प्रत्येक trade (buy और sell) पर कुछ ब्रोकरेज फीस देना पड़ता है।

अधिकतर trading apps में यह ब्रोकरेज फीस 20rs/trade के हिसाब से लगती है चाहे फिर आप डिलीवरी ट्रेडिंग करें, स्विंग ट्रेडिंग करें या इंट्राडे ट्रेडिंग.

आपका काम आसान करने के लिए मैं आपको इंडिया के नंबर वन डिस्काउंट ब्रोकर Upstox पर डिमैट अकाउंट खोलने की सलाह देता हूं. क्योंकि upstox को खुद रतन टाटा ने फंड किया है तो आप समझ ही सकते हैं कि यह कितना trusted और भरोसेमंद ऐप है।

अब बात आती है कि upstox पर डिमैट अकाउंट कैसे बनाएं तो उसके लिए नीचे दिया गया अगला स्टेप फॉलो करिए–

2. डिमैट और ट्रेडिंग अकाउंट खोलें

अब आपने ब्रोकर चुन लिया है तो अगला कदम है– उस ब्रोकर के पास अपना डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट खोलना. आइए अब इसके चरण देख लेते हैं–

Upstox पर डिमैट और ट्रेडिंग अकाउंट खोलने के लिए आपको इन चीजों की जरूरत होगी–

  1. आधार कार्ड
  2. पैन कार्ड
  3. बैंक अकाउंट
  4. मोबाइल नंबर
  5. ईमेल आईडी

ध्यान रखिएआपके आधार कार्ड और बैंक अकाउंट से मोबाइल नंबर लिंक होना चाहिए ताकि बाद में जब आप अपने ट्रेडिंग अकाउंट में पैसा ट्रांसफर करें तो कोई दिक्कत ना आए।

जब आपके पास ऊपर दी गई सभी चीजें उपलब्ध हैं तो डिमैट अकाउंट खोलने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें।

  • लिंक पर क्लिक करते ही आप upstox की एप डाउनलोड करने के लिए प्ले स्टोर पर पहुंच जाएंगे।
  • एप डाउनलोड करने के बाद आपको ‘Sign up’ बटन पर क्लिक करना है
  • जिस पर क्लिक करते ही आप अगले पेज पर पहुंच जाएंगे जहां आपको अपनी सारी डीटेल्स भरना है जैसे नाम, date of birth, आधार कार्ड, पैन कार्ड, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि।
  • जैसे जैसे आप सारी डिटेल्स भरते जाएंगे अगला पेज खुलता जाएगा जिन पर बाकी चीजें verify करने को बोला जाएगा, जैसे आपको अपने फोन से फोटो खींचकर वेरीफाई करना होगा, आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नंबर वेरीफाई करना होगा।
  • एक बार जब सभी चीजें verify हो जाती हैं तो 1-2 दिन के अंदर आपके ईमेल आईडी पर Login details और client ID भेज दिया जाएगा जिसकेे द्वारा आप Upstox app में लॉगिन करके ट्रेडिंग की शुरुआत कर सकते हैं।

3. ट्रेडिंग करने के लिए बैंक खाता लिंक करें

अब आपका डिमैट और ट्रेडिंग अकाउंट खुल चुका है. अब आपको आपके ईमेल आईडी पर जो login details भेजी गई है उसे upstox में enter करके login करना है।

अब आपको शेयर मार्केट में ऑनलाइन ट्रेडिंग करने के लिए अपने बैंक अकाउंट को ट्रेडिंग अकाउंट से लिंक करना होगा क्योंकि उसी के जरिए आप अपने बैंक अकाउंट में पैसा send और recieve कर पाएंगे।

बैंक अकाउंट लिंक करने के लिए आपको upstox app के अंदर अपना बैंक अकाउंट नंबर और IFSC code डालकर वेरीफाई करना होगा. अब आप ट्रेडिंग करने के लिए पैसा add कर सकते हैं जिसकी detail आपको अगले स्टेप में मिलेगी

लेकिन ध्यान रहे–

  • आपके द्वारा trading account से जोड़ा गया बैंक अकाउंट चालू हालत में होना चाहिए. बैंक अकाउंट कोई भी हो सकता है saving account हो या फिर current account.
  • जो बैंक अकाउंट आपने ट्रेडिंग अकाउंट से जोड़ा है उस बैंक एकाउंट में वही मोबाइल नंबर लिंक होना चाहिए जिसके जरिए आप ने डिमैट खाता खोला है।

4. ऑनलाइन ट्रेडिंग खाते में पैसा ऐड करें

ऊपर दिए गए सभी steps कंप्लीट करने के बाद आपको अपने ब्रोकर ऐप में जाकर ‘Add fund‘ पर क्लिक करना है और वह अमाउंट डालना है जितना पैसा आप ऐड करना चाहते हैं।

बैंक अकाउंट के अलावा आप नेट बैंकिंग और UPI की मदद से भी trading account में पैसा ऐड कर सकते हैं.

5. अपने पसंदीदा स्टॉक को ट्रेड करें

एक बार जब आप अपने ट्रेडिंग अकाउंट में पैसा ऐड कर लेते हैं तो अब आप शेयर बाजार में ऑनलाइन ट्रेडिंग करना शुरू कर सकते हैं। आप चाहे तो इंट्राडे ट्रेडिंग कर सकते हैं या स्विंग ट्रेडिंग या फिर ऑप्शन ट्रेडिंग.

मेरी सलाह आपको यही रहेगी कि अगर आप शेयर मार्केट में एक शुरुआती ट्रेडर हैं तो stocks में ट्रेड करने की बजाए index यानी Nifty या Banknifty में ही आपको ट्रेडिंग करना चाहिए।

ऐसा मैं इसलिए बोल रहा हूं क्योंकि Nifty और Banknifty में आपको लिक्विडिटी बहुत ज्यादा मिल जाती है मतलब खरीदने और बेचने वाले लोग बहुत ज्यादा होते हैं इसीलिए इंडेक्स को खरीदने और बेचने में कभी कोई दिक्कत नहीं आती

जबकि शेयर मार्केट में काफी सारे stocks इलिक्विड होते हैं जिससे उन्हें खरीदने और बेचने में काफी प्रॉब्लम का सामना करना पड़ता है क्योंकि उनमें buyers और sellers की संख्या बहुत कम होती है।

उम्मीद करता हूं अब आप समझ चुके होंगे कि ट्रेडिंग कैसे करते हैं और ऑनलाइन ट्रेडिंग करने के लिए क्या-क्या करना पड़ता है. चलिए अब जानते हैं कि–

निफ़्टी और बैंक निफ्टी इंडेक्स में ट्रेडिंग कैसे करें

  1. Nifty क्या बैंक निफ्टी इंडेक्स में ट्रेडिंग करने के लिए ब्रोकर ऐप ओपन करें.
  2. अब प्रोफाइल सेक्शन में जाकर फ्यूचर एंड ऑप्शंस सेगमेंट को एक्टिवेट करें।
  3. F&O सेगमेंट एक्टिवेट होने में 24 से 48 घंटे का समय लगेगा.
  4. F&O सेगमेंट एक्टिव हो जाने के बाद सर्च बॉक्स में बैंक निफ्टी ऑप्शन सर्च करें.
  5. जिस स्ट्राइक प्राइस पर आप ऑप्शन खरीदना चाहते हैं उस पर क्लिक करें.
  6. अब लोट साइज सिलेक्ट करें और क्वांटिटी डालें।
  7. कंफर्म बटन पर क्लिक करें।
  8. इन स्टेप्स को पूरा करने के बाद आप निफ्टी और बैंक निफ्टी में आसानी से ट्रेडिंग कर सकते हैं।

ऊपर मैंने आपको निफ्टी और बैंक निफ्टी में ट्रेडिंग करने के सभी स्टेप्स को बिल्कुल शार्ट में बताया है. अगर आप इनके बारे में details में एक- एक चीजें बारीकी से समझना चाहते हैं तो नीचे दी गई पोस्ट पढ़ सकते हैं–

मोबाइल से ट्रेडिंग कैसे करें?

  • मोबाइल से ट्रेडिंग करने के लिए सबसे पहले ब्रोकर ऐप डाउनलोड करें.
  • अब ब्रोकर ऐप में साइनअप या लॉगइन करके डिमैट अकाउंट खोलें।
  • डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट खोलने के बाद ऑनलाइन बैंक खाता लिंक करें।
  • फिर बैंक अकाउंट से ट्रेडिंग अकाउंट में पैसा ट्रांसफर करें।
  • अब आप जिस स्टॉक को ट्रेड (buy या sell) करना चाहते हैं उसे सर्च करें।
  • तो इस प्रकार आप मोबाइल से ट्रेडिंग कर सकते हैं।

ट्रेडिंग की शुरुआत कैसे करें?

ट्रेडिंग की शुरुआत करने के लिए आपको अपना डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट खोलना होगा। फिर अपने ट्रेडिंग अकाउंट को बैंक अकाउंट से लिंक करना होगा। अब अपनी ट्रेडिंग खाते में पैसा ऐड करके आप शेयर बाजार में ऑनलाइन ट्रेडिंग की शुरुआत कर सकते हैं।

अब यह तो बात हो गई शार्ट में कि ट्रेडिंग कैसे करते हैं जिसके बारे में हम ऊपर भी बता चुके हैं लेकिन ट्रेडिंग करने से पहले पहले आपको नीचे दी गई बातें जानना बहुत जरूरी है जो आपको सफल ट्रेडर बनने में मदद करेंगी–

ट्रेडिंग करने से पहले ये जरूरी बातें जान लें

शेयर बाजार में नए ट्रेडर्स trading करते समय अक्सर बहुत सारी गलतियां करते हैं जिससे उन्हें शुरुआत में काफी पैसा खोना पड़ता है. लेकिन अगर आप पहले ही उन सभी गलतियों से सीख लेते हैं तो आप ट्रेडिंग में अपना नुकसान करने से बच पाएंगे।

इसलिए आपको ट्रेडिंग करने से पहले नीचे दी गई बातों को जरूर अप्लाई करना चाहिए जैसे–

1. ट्रेडिंग करते समय स्टॉप लॉस जरूर लगाएं

हर ट्रेडर के लिए ट्रेडिंग करते समय स्टॉप लॉस लगाना बहुत जरूरी होता है. Stop loss लगाने का मतलब होता है अपने नुकसान को सीमित कर देना.

मतलब जब आप स्टॉप लॉस लगा देते हैं तो आपको एक amount के बाद loss होना बंद हो जाता है और वह अमाउंट आप अपनी Risk के अनुसार खुद डिसाइड कर सकते हैं।

  • मान लीजिये: अगर आपने कोई शेयर 100 रुपये का खरीदा है और आप चाहते हैं कि जब वह 85 रुपये पर आये तो अपने आप sell हो जाए क्योंकि आप इससे ज्यादा नुकसान नहीं लेना चाहते हैं तो इसके आप 85 रुपये पर stop-loss आर्डर लगाकर सकते हैं।
  • अब मान लीजिये किसी कारण से कुछ समय बाद वह शेयर 55 रुपये पर आ जाता है तो आपको केवल 15 रुपये का ही नुकसान होगा क्योंकि आपने 85 रुपये पर stop-loss आर्डर लगा दिया था
  • इसका मतलब है कि अगर आपने स्टॉपलॉस ना लगाया होता तो आपको बहुत ज्यादा नुकसान हो जाता इसीलिए ट्रेडिंग करते समय स्टॉपलॉस लगाना बहुत जरूरी है।

Also Read: स्टॉप लॉस क्या है और कैसे लगाते हैं?

2. कम वॉल्यूम वाले शेयर को ट्रेड मत करें

कम वॉल्यूम वाले शेयर का मतलब है कि उसमें खरीदने और बेचने वाले लोग बहुत कम है मतलब वह सिर्फ इतना पॉपुलर नहीं है इसी कारण उसमें लोग buy और sell बहुत कम करते हैं, ऐसे शेयरों को illiquid stocks कहते हैं.

आपको इस प्रकार के कम वॉल्यूम वाले illiquid शेयर में ट्रेडिंग नहीं करना चाहिए क्योंकि इनमें आपको upper या lower सर्किट लगते हुए देखने को मिल जाएंगे.

मतलब शेयर खरीदने के बाद आपको उसे बेचने में दिक्कत आएगी इसलिए इस प्रकार के स्टॉक्स से हमेशा दूर रहे और जब भी किसी स्टॉक में ट्रेड करें तो उसका वॉल्यूम जरूर चेक कर ले।

3. ट्रेडिंग में एक साथ पूरा पैसा मत लगाएं

ट्रेडिंग में बहुत सारे नए ट्रेडर यह गलत ही करते हैं कि वह अपना पूरा पैसा एक ही बार में ट्रेडिंग में लगा देते हैं। अगर आप शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करते हैं तो यह गलती आपको बर्बाद कर सकती है।

मान लीजिये– अभी आपके पास 20000 रुपये हैं तो पूरा पैसा एक ही बार में लगाने की बजाए आपको अपने पैसों को 5 बराबर भागों में डिवाइड करना चाहिए. मतलब 20000÷5 = 4000 रुपये ही आप एक बार में ट्रेडिंग में लगा सकते हैं।

इसी प्रकार अगर आपके पास 1 लाख रुपये हैं तो केवल 20000 रुपये ही ट्रेडिंग लगाइए जैसे जैसे आपको प्रॉफिट होता जाए तो अपनी कैपिटल को बढ़ाते जाएं।

फिर जैसे-जैसे आप का ट्रेडिंग में अनुभव बढ़ता जाएगा तो आप अधिक पैसे लगाकर भी ट्रेड कर सकते हैं लेकिन शुरुआत में कोशिश यही करें कि अपने कैपिटल का पांचवा हिस्सा ही ट्रेडिंग में इन्वेस्ट करें।

4. लोन लेकर कभी भी ट्रेडिंग मत करें

शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करने वालों की यह सबसे बड़ी गलती होती है कि वह लोन लेकर ट्रेडिंग करते हैं. अगर आप भी ऐसा करते हैं तो आज से ही इसे छोड़ दीजिए क्योंकि इसके कारण दुनिया में बहुत सारे ट्रेडर कंगाल हो चुके हैं।

जब आप लोन लेकर ट्रेडिंग करते हैं तो आप loss नहीं ले सकते, इस माइंडसेट से ट्रेड करते हैं और लॉस होने पर आपकी जो साइकोलॉजी है वह उस नुकसान को बर्दाश्त नहीं कर पाती जिस कारण आप थोड़ी सी स्टॉक मूवमेंट से ही घबरा जाते हैं और अंत में उस trade से आपको नुकसान में ही बाहर निकलना पड़ता है।

अगर आपको trading का थोड़ा बहुत एक्सपीरियंस है तो आपको पता होगा कि ट्रेडिंग करना पूरा का पूरा साइकोलॉजी का खेल है मतलब अगर आपको एक सफल ट्रेडर बनना है तो आपको अपने माइंडसेट और emotions पर कंट्रोल करना होगा।

5. टेक्निकल रिसर्च करके ही स्टॉक्स को ट्रेड करें

जितने भी प्रोफेशनल ट्रेडर्स आपने देखे होंगे, उन सभी में एक चीज कॉमन होती है कि उन्हें टेक्निकल एनालिसिस का अच्छा ज्ञान होता है. अगर आप सच में ट्रेडिंग से पैसा कमाना चाहते हैं तो technical analysis सीखने के अलावा दूसरा कोई ऑप्शन नहीं है।

MUST READ: Technical Analysis in Hindi

टेक्निकल एनालिसिस के अंतर्गत आपको सीखना होगा कि–

इसके अलावा भी टेक्निकल रिसर्च के अंतर्गत काफी चीजें सीखना पड़ता है जैसे– प्राइस एक्शन, तकनीकी इंडिकेटर, सपोर्ट रेजिस्टेंस, मूविंग एवरेज आदि।

उम्मीद करता हूं अब आप समझ चुके होंगे कि ऑनलाइन ट्रेडिंग कैसे करते हैं और ट्रेडिंग करने से पहले आपको कौन-कौन सी बातों का ध्यान रखना चाहिए.

आइए अब ट्रेडिंग से जुड़े हुए कुछ important सवाल और उनके जवाब जान लेते हैं–

FAQ’s (Share Market me trade kaise kare)

ट्रेडिंग का काम कैसे करें?

ट्रेडिंग का काम करने के लिए आपके पास डिमैट अकाउंट, ट्रेडिंग अकाउंट और बैंक अकाउंट होना चाहिए. इसके अलावा आपका मोबाइल नंबर आधार कार्ड, पैन कार्ड और बैंक अकाउंट से लिंक होना चाहिए क्योंकि तभी आप अपनी ट्रेडिंग खाते में पैसा भेज कर ट्रेडिंग का काम कर सकते हैं।

ट्रेडिंग करने के लिए क्या चाहिए?

ऑनलाइन ट्रेडिंग करने के लिए आपको इंटरनेट कनेक्शन और एक मोबाइल की जरूरत पड़ती है. जब आप डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट खोल लेते हैं तो आपको यह सोचना चाहिए कि किस स्टॉक को ट्रेड करना है ताकि अधिक से अधिक प्रॉफिट हो और नुकसान को कम किया जा सके।

शेयर मार्केट में ट्रेडिंग कैसे शुरू करें?

शेयर बाजार में ट्रेडिंग शुरू करने के लिए आपको पेपर ट्रेडिंग से शुरुआत करनी चाहिए. जब आप पेपर ट्रेडिंग में एक्सपर्ट हो जाएं उसके बाद ही आपको लाइव मार्केट में ट्रेडिंग की शुरुआत करना चाहिए। इस प्रकार आपका जोखिम बिल्कुल ना के बराबर हो जाता है और प्रॉफिट की संभावना बहुत बढ़ जाती है।

ट्रेडिंग करना चाहिए या नहीं?

इंडिया में ऑनलाइन ट्रेडिंग करना चाहिए या नहीं यह सवाल काफी जाता पूछा जाता है. इसका जबाब है कि आपको ट्रेडिंग तभी करना चाहिए जब आपको टेक्निकल एनालिसिस का थोड़ा बहुत ज्ञान हो, प्राइस एक्शन के बारे में पता हो, बाजार का ट्रेंड देखना आता हो. अगर आपको इन सभी के बारे में नहीं पता है तो ट्रेडिंग नहीं करना चाहिए।

ट्रेडिंग करने के लिए कितनी उम्र चाहिए?

ट्रेडिंग करने के लिए आपकी उम्र कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए। क्योंकि जब आप डिमैट अकाउंट खुलवाते हैं तो उसमें आपको पैन कार्ड और आधार कार्ड की डिटेल्स भरना पड़ता है जिसके लिए आपकी उम्र 18 वर्ष होना अनिवार्य है।

ट्रेडिंग करने के क्या लाभ हैं?

ट्रेडिंग करने के कई फायदे (लाभ) हैं जैसे– आपको कहीं ऑफिस बगैरा नहीं जाना पड़ता घर पर बैठकर ऑनलाइन स्टॉक ट्रेड (buy और sell) कर सकते हैं, इंडिया की सबसे बड़ी कंपनियों में पैसा लगा सकते हैं, ट्रेडिंग के जरिए कम समय में अधिक पैसा कमा सकते हैं आदि।

क्या मैं ट्रेडिंग को करियर बना सकता हूं?

जी हां आप ट्रेडिंग में करियर बना सकते हैं. इंडिया में बहुत सारे लोग हैं जो रोजाना केवल ट्रेडिंग करके दिन का लाखों रुपए कमा रहे हैं। अगर आप ट्रेडिंग को करियर बनाना चाहते हैं तो आपको प्रोफेशनल ट्रेडिंग करना सीखना होगा जिसके लिए आप सोशल मीडिया पर प्रोफेशनल ट्रेडर्स को फॉलो कर सकते हैं या फिर ऑनलाइन ट्रेडिंग के कोर्स खरीद सकते हैं।

इंडिया में कितने लोग ट्रेडिंग करते हैं?

इंडिया में लगभग 1.2 करोड़ लोग ट्रेडिंग करते हैं जोकि भारत की आबादी का कुल 4% से भी कम है. इनमें से कुछ लोग शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करते हैं जबकि कुछ लोग अन्य सेगमेंट जैसे; म्यूच्यूअल फंड, बॉन्ड, इक्विटी, कमोडिटी, forex आदि में ट्रेडिंग करते हैं।

ट्रेडिंग कैसे करते हैं – निष्कर्ष

मैं उम्मीद करता हूं आपको यह आर्टिकल शेयर मार्केट में ट्रेडिंग कैसे करें (Trading kaise kare in hindi) जरूर पसंद आया होगा. इसे पढ़ने के बाद आप समझ चुके होंगे कि ट्रेडिंग कैसे की जाती है.

अगर आपके मन में ‘ट्रेडिंग कैसे करते हैं‘ इस टॉपिक से संबंधित कोई भी doubt या सवाल है तो नीचे हमसे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं.

ये भी पढ़ें,

और अगर आपको यह लेख ऑनलाइन ट्रेडिंग कैसे करें उपयोगी लगा हो तो इसे सोशल मीडिया पर भी जरूर शेयर करें.

4.8/5 - (121 votes)
🔥 Whatsapp Group 👉 यहां क्लिक करें
🔥 Telegram Group 👉 यहां क्लिक करें

मेरा नाम दीपक सेन है और मैं इस वेबसाइट का Founder हूं। यहां पर मैं अपने पाठकों के लिए नियमित रूप से शेयर मार्केट, निवेश और फाइनेंस से संबंधित उपयोगी जानकारी शेयर करता हूं। ❤️