अपस्टॉक्स खाता खोलने का शुल्क | Upstox Demat Account Charges in Hindi

जानिए अपस्टॉक्स खाता खोलने का शुल्क (Upstox Demat Account Charges in Hindi) और Upstox डिमैट अकाउंट पर लगने वाले सभी जरूरी charges के बारे में–

अपस्टॉक्स खाता खोलने का शुल्क, Upstox demat account charges in Hindi

अगर आप अपस्टॉक्स पर डीमैट खाता खोलना चाहते हैं या खोल चुके हैं तो आपको अपस्टॉक्स पर खाता खोलने का शुल्क और Upstox के अन्य सभी चार्जेस (Demat Account Charges) के बारे में जरूर पता होना चाहिए।

आज इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि–

  • अपस्टॉक्स पर डीमैट खाता खोलने के लिए कितना शुल्क देना पड़ता है?
  • अपस्टॉक्स app से शेयर खरीदने पर कौन-कौन से चार्जेस लगते हैं?
  • Upstox पर ब्रोकरेज चार्ज और अन्य सभी hidden charges क्या-क्या हैं?
  • Upstox पर इंट्राडे ट्रेडिंग और ऑप्शन ट्रेडिंग का कितना चार्ज लगता है?

तो अगर आप Upstox के सभी charges के बारे में जानना चाहते हैं तो इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़िए मैं वादा करता हूं इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको Upstox charges in hindi के बारे में कहीं और पढ़ने की जरूरत नहीं होगी।

आइये सबसे पहले जानते हैं कि अपस्टॉक्स पर खाता खोलने का चार्ज कितना है–

अपस्टॉक्स खाता खोलने का शुल्क (Upstox Demat Account Charges in Hindi)

अपस्टॉक्स खाता खोलने का शुल्क शून्य ‘0’ है लेकिन Upstox पर अकाउंट खोलने के बाद शेयर खरीदने और बेचने के लिए आपको कुछ ब्रोकरेज चार्जेस (Demat Account Charges) देना पड़ता है जिसका शुल्क प्रत्येक ट्रांजैक्शन के लिए 20 रुपये/ट्रेड देना पड़ता है।

तो अब आप जान गए होंगे कि Upstox Demat Account opening Charges बिल्कुल जीरो हैं मतलब आपको अपस्टॉक पर खाता खोलने के लिए कोई शुल्क नहीं देना पड़ता है यानी Upstox App पर खाता खोलना बिल्कुल फ्री है।

लेकिन अपस्टॉक्स पर खाता खोलने के बाद जब आप stocks या index (निफ्टी और बैंकनिफ्टी) में ट्रेडिंग या इन्वेस्टमेंट करते हैं यानी शेयर खरीदते और बेचते हैं तो आपको काफी सारे चार्जेस (demat account charges) देना पड़ता है जिसके बारे में नीचे बताया है।

🔥 Whatsapp Group👉 अभी जुड़ें
🔥 Telegram Group👉 अभी जुड़ें

Upstox Charges in Hindi

  • Upstox पर Account Maintenance Charge (AMC) देना पड़ता है,
  • मार्जिन (Margin) लेते समय अलग चार्जेस लगते हैं,
  • इसके अलावा Brokerage charges,
  • Currency charges,
  • Commodity charges,
  • Government charges,
  • और कुछ hidden charges भी देना पड़ता है।

इन सभी Upstox Charges के बारे में हम एक-एक करके बात करेंगे. तो सबसे पहले हम hidden charges के बारे में बात कर लेते हैं–

Hidden charges ऐसे चार्जेस होते हैं जो आपको मार्केट में कोई नहीं बताता या जिन charges पर कोई ध्यान नहीं देता लेकिन फिर भी आपको इनके बारे में पता होना चाहिए।

Hidden Charges– (Upstox Demat Account Charges in Hindi)

इसके अंतर्गत Fund deposition charges, Manual order charges, Auto Square off charges और margin charges आते हैं. आइये इनके बारे में एक-एक करके जान लेते हैं;

1. Upstox Fund deposition charges in hindi

इसमें सबसे पहला आता है Fund deposition charge मतलब जब आप अपस्टॉक्स पर शेयर खरीदने के लिए अपने बैंक अकाउंट से डिमैट अकाउंट में पैसा ट्रांसफर करते हैं तो आपको 7Rs/Transaction चार्ज लगता है.

और Upstox में यह 7 रुपये का charge प्रत्येक ट्रांजैक्शन पर आपको केवल तब देना पड़ता है जब आप नेट बैंकिंग के जरिए डिमैट अकाउंट में पैसा ट्रांसफर करते हैं। लेकिन जब आप UPI के द्वारा अपने बैंक अकाउंट से डिमैट अकाउंट में पैसा ट्रांसफर करते हैं तो आपको कोई चार्ज नहीं देना पड़ता।

मैं आपको बता दूं कि Tansaction value से कोई फर्क नहीं पड़ता मतलब चाहे आप 10000 रुपये डिपॉजिट करें या 1 लाख या फिर 10 लाख रुपए डिपॉजिट करें, आपको केवल 7 रुपये ही देना पड़ता है।

तो अब आप समझ गए होंगे कि Upstox में अपने बैंक अकाउंट से नेट बैंकिंग के जरिए पैसा डिपॉजिट करने पर हर बार 7 rs ही लगता है जबकि UPI से पैसा deposit करने पर कोई चार्ज नहीं लगता।

2. Upstox Manual order charges in hindi

अगर आप अपस्टॉक्स की टीम को कॉल करके कोई trade place करते हैं मतलब upstox की manual team के द्वारा order place करवाते हैं तो आपको 50Rs + GST चार्ज देना पड़ता है जो कुल मिलाकर 59 रुपये के आसपास होता है।

3. Upstox Auto Square off charges in hindi

अगर आप इंट्राडे ट्रेडिंग करते हैं लेकिन किसी दिन व्यस्त होने की वजह से आप कोई आर्डर लगाने के बाद उसे close करना भूल गए मतलब आपने उस दिन शेयर मार्केट बंद होने से पहले अपनी किसी buy और sell position को square off नहीं किया तो भी आपको 50 रुपये + GST चार्ज देना पड़ेगा।

4. Upstox Margin charges in hindi

मान लीजिये आपने upstox में कोई मार्जिन लिया था जो अभी तक आपने repay नहीं किया है मतलब ब्रोकर को मार्जिन का पैसा आपने अभी तक वापस नहीं लौटाया है और अब आपके डिमैट अकाउंट में भी कोई पैसा नहीं बचा है

तो क्या आप जानते हैं ऐसे में ब्रोकर आपसे अपना मार्जिन का पैसा कैसे वसूलेगा?

चलिए मैं बता देता हूं–

अगर आपका डिमैट अकाउंट खाली हो चुका है और आपने कोई मार्जिन लिया हुआ था जिसका अभी तक आपने भुगतान नहीं किया है तो हर दिन किसी interest rate के हिसाब से आपके डीमैट खाते में बैलेंस minus (–) होता रहेगा

और जिस दिन आप अपने डिमैट अकाउंट में अपने बैंक अकाउंट से पैसा डिपॉजिट करेंगे तो उस दिन उतना बैलेंस कट जाएगा जितना माइनस (–) हुआ था।

जो माइनस (–) में आपका बैलेंस चला जाता है उस पर daily interest rate अप्लाई होती है।

मेरी आपको advice है कि आपको हमेशा अपने डिमैट अकाउंट में 50 rs या 100 rs पड़े रहने देना चाहिए

ताकि अगर आपसे गलती से कभी ऐसा कोई चार्ज रह भी जाए तो वह आसानी से आपके खाते से deduct हो सके

क्योंकि अगर आपका डिमैट अकाउंट negative में जाता है तो आपको ज्यादा charges देने पड़ेंगे।

अब बात करते हैं कि अपस्टॉक्स में मार्जिन लेने पर चार्जेस कितने लगते हैं?

Upstox में 40000 रुपये margin लेने पर 20 rs/day के हिसाब से charges लगते हैं।

मतलब अगर आप upstox से 1 रुपये से लेकर 40000 रुपये तक मार्जिन लेते हैं यानी पैसा उधार लेते हैं तो ऐसे में 20 Rs Per Day चार्जेस अप्लाई होते हैं।

उदाहरण के लिए:

मान लीजिए अगर आपने 70000 रुपये margin लिया था मतलब पैसा उधार लिया था upstox से और उसका ट्रेड place किया था

तो ऐसे में पहले जो 40000 रुपये हैं उन पर 20 Rs/day के हिसाब से charges अप्लाई होंगे और जो बचे हुए 30000 रुपये हैं उन पर भी 20 Rs/day के हिसाब से charges अप्लाई होंगे

मतलब Total 40 Rs/day के हिसाब से आपको margin charges देने होंगे।

अब बात करते हैं ब्रोकरेज चार्जेस के अंदर जो गवर्नमेंट चार्जेस लगते हैं उनके बारे में. ब्रोकरेज चार्ज के बारे में हम इसके बाद बात करेंगे लेकिन अभी जानते हैं Government Charges के बारे में–

Government Charges– (Upstox Demat Account Charges in Hindi)

Government Charges वह चार्जेस होते हैं जो गवर्नमेंट यानी सरकार के द्वारा लगाए जाते हैं। ये charges केवल upstox पर ही नहीं बल्कि हर एक ब्रोकर को देने पड़ते हैं क्योंकि इन्हें कोई भी जीरो नहीं कर सकता मतलब यह चार्जेस देना कंपलसरी होता है।

इसके अंतर्गत जितनी भी गवर्नमेंट बॉडीज हैं वह सभी अपने- अपने कुछ ना कुछ charges लगाते हैं जिनमें शामिल हैं–

  1. SEBI charges
  2. Exchange charges (ETT)
  3. Depository charges
  4. Stamp Duty
  5. STT charges

चलिए इनको एक-एक करके समझ लेते हैं;

यहाँ पर मैं आपको 1 लाख रुपये का उदाहरण लेकर समझाता हूं जिससे आपको इन सभी charges के बारे में आसानी से समझ आ जाएगा.

तो Government charges में जो सबसे बड़ा चार्ज आता है वह है– STT यानी Securities Transaction Tax

STT के बारे में बताने से पहले आपको बता दें कि यहां पर आपको अमाउंट का तो ध्यान देना ही है, साथ ही साथ आपको यह भी ध्यान देना है कि Buy side और Sell side में से कौन सी side यह चार्ज अप्लाई हो रहा है. और इसके अलावा आपको देखना है कि क्या यह चार्ज दोनों साइड अप्लाई हो रहा है या फिर एक साइड ही अप्लाई हो रहा है.

Upstox STT Charge in hindi

  • Equity delivery में STT चार्ज दोनों साइड पर अप्लाई होता है मतलब जब आप खरीदेंगे तब भी STT चार्ज लगेगा और जब आप बेचेंगे तब भी लगेगा.
  • लेकिन Equity Intraday, Equity Option और Equity Future के case में STT charge केवल Sell-side पर अप्लाई होता है।

अब अगर बात करें अमाउंट कितना रहता है–

तो मान लीजिए;

  • अगर आप Equity delivery में 1 लाख रुपये का माल खरीदते हैं तो खरीदते समय भी 100 रुपये लगेगा और बेचते समय भी 100 रुपये लगेगा।
  • लेकिन अगर आप Equity Intraday में 1 लाख रुपये का माल खरीदते हैं तो आपको सिर्फ sell side पर 25 रुपये चार्ज देना होगा मतलब खरीदने पर इसमें कोई चार्ज नहीं लगता
  • इसके अलावा Equity Future में 10 रुपये और Equity Option में 50 रुपये लगता है केवल sell साइड में.

उम्मीद करता हूं आप समझ गए होंगे कि इक्विटी डिलीवरी में STT चार्ज buy और sell दोनों साइड लगता है जबकि इक्विटी इंट्राडे, इक्विटी फ्यूचर और इक्विटी ऑप्शंस में यह केवल sell-side लगता है।

Upstox ETT Charge in hindi

ETT का मतलब है Exchange Transaction Tax यह charge स्टॉक एक्सचेंज के द्वारा लगाया जाता है.

चूंकि यह चार्ज एक्सचेंज के द्वारा लगाया जाता है तो यह इस बात पर निर्भर करेगा कि आप NSE से खरीद रहे है या BSE से, लेकिन सामान्यतः दोनों एक्सचेंज पर बराबर charges ही लगते हैं.

तो ETT चार्ज buy और sell दोनों साइड पर लगता है.

  • Equity delivery में 1 लाख रुपये पर यह 3 रुपये 45 पैसा लगता है,
  • Equity Intraday में भी 3 रुपये 45 पैसा प्रति 1 लाख रुपये पर अप्लाई होता है,
  • Equity Futures में यह 2 Rs प्रति 1 लाख रुपये पर अप्लाई होता है।
  • और Equity Options में यह 53 Rs प्रति 1 लाख रुपये पर अप्लाई होता है।

अब आप देख पा रहे होंगे कि चाहे ETT हो या STT, Equity Options में बाकियों की तुलना में ज्यादा charges लगते हैं।

Upstox Depository Charges in hindi

यह चार्ज तब लगता है जब आपका शेयर डिमैट अकाउंट में जाता है यानी कि जब डिपॉजिटरी का रोल आता है. तो जब आप डिलीवरी में शेयर को खरीदते हैं तो ही आपके जो स्टॉक्स हैं वह डिमैट अकाउंट में जाते हैं।

Depository charge केवल डिलीवरी में ही लगता है और यह सिर्फ sell साइड पर अप्लाई होता है।

इसमें आपको 18.5 Rs/ scrip लगते हैं मतलब अगर आप सिर्फ ITC के शेयर बेच रहे हैं तो क्वांटिटी से फर्क नहीं पड़ता है यानी कि चाहे आप ITC के 10 शेयर खरीदें, 100 खरीदें या 1000 लगेगा केवल 18.5 Rs ही

लेकिन अगर आप ITC के साथ कोई दूसरा शेयर भी बेच रहे हैं, मान लीजिए Reliance का शेयर भी बेच रहे हैं तो ऐसे में आपके पास दो scrip हो गई तो दोनों scrip पर (18.5 + 18.5) यानी Total 37 रुपये Depository charge लगेगा।

Upstox GST Charge in hindi

अब बात करते हैं GST चार्ज की. यह 18% के रेट से लगता है।

Brokerage charges, STT, ETT और Depository charge इन चारों को मिलाकर जो अमाउंट बनता है उस पर यह 18% GST charge लगता है।

Upstox SEBI Charge in hindi

अब बात करते हैं SEBI यानी (सिक्योरिटी एंड एक्सचेंज बोर्ड ऑफ इंडिया) कितना चार्ज लेता है.

तो SEBI charge इक्विटी डिलीवरी इंट्राडे फ्यूचर ऑप्शन सभी के लिए एक समान रहता है जो 1 लाख रुपये पर सिर्फ 10 पैसा लगता है। जी हां सिर्फ 10 पैसा.

Stamp duty charges in Upstox

  • Stamp duty का चार्ज इक्विटी डिलीवरी में 1 लाख रुपये पर 15 रुपये लगता है,
  • इसके अलावा इक्विटी इंट्राडे में 3 रुपये,
  • इक्विटी फ्यूचर में 2 रुपये
  • और इक्विटी ऑप्शन में 3 रुपये स्टांप ड्यूटी अप्लाई होती है।

Note: अब तक आपने जाना कि इन सभी government charges में इक्विटी ऑप्शंस में आपको सबसे ज्यादा charges देने पड़ते हैं और इक्विटी फ्यूचर्स में सबसे कम charges देने पड़ते हैं और डिलीवरी में भी डिपॉजिट और stamp duty चार्जेस थोड़े ज्यादा देने पड़ते हैं।

दोस्तों यहां तक हमने आपको upstox के सभी hidden charges, margin charges और government charges बता दिए हैं। उम्मीद करता हूं यह सभी चार्जेस आपको समझ आ गए होंगे। अब बात करते हैं ब्रोकरेज चार्जेस के बारे में–

Upstox Brokerage Charges in Hindi

ब्रोकरेज चार्जेस की अगर बात करें तो,

  • इक्विटी डिलीवरी में आपको 20 Rs या टोटल टर्नओवर का 0.05% (इनमें से जो भी कम होगा) वह देना पड़ता है.
  • इक्विटी इंट्राडे और इक्विटी फ्यूचर्स में भी आपको 20 Rs या टोटल टर्नओवर का 0.05% (जो भी minimum होगा) वह देना पड़ता है.
  • जबकि ऑप्शंस में आपको flat 20 रुपये चार्ज देना पड़ता है।

Upstox Currency and Commodity charges in hindi

  • अगर आप Currency and Commodity के futures में ट्रेड करते हैं तो आपको 20 Rs या टोटल टर्नओवर का 0.05% (जो lower होगा) वह देना पड़ेगा.
  • लेकिन अगर आप Currency and Commodity के options में ट्रेड करते हैं तो आपको 20 Rs Flat चार्ज देना पड़ेगा।

Upstox AMC charges in hindi

AMC का मतलब है Account Maintenance Charges. यह चार्जेस हर साल लगते हैं।

आपको बता दें कि अगर आपने Upstox पर अगस्त 2021 से पहले डिमैट अकाउंट खुलवाया था तो आपको 300 Rs हर साल AMC charges देना पड़ेगा

लेकिन अगर आपने अगस्त 2021 के बाद Upstox पर डीमैट अकाउंट खोला है तो कोई AMC charge नहीं देना पड़ेगा

मतलब अगर आप अभी भी अपस्टॉक्स पर डिमैट अकाउंट खोलते हैं तो AMC charges बिल्कुल फ्री है और साथ ही account opening charges भी जीरो है

तो अगर आपने अभी तक डिमैट अकाउंट नहीं खोला है तो अभी upstox पर अपना फ्री demat अकाउंट खोल लीजिये और अप स्टॉक्स पर फ्री में डिमैट अकाउंट कैसे खोलना है इसके बारे में नीचे दी गई पोस्ट में हमने बहुत अच्छे से step by step बताया है–

अपस्टॉक्स पर खाता खोलने का शुल्क क्या है?

अभी इस समय 2023 में आप upstox पर बिना किसी शुल्क के फ्री डीमैट खाता खोल सकते हैं।

अपस्टॉक्स बेचने के लिए कितना चार्ज करता है?

अपस्टॉक्स पर शेयर खरीदने और बेचने के लिए आपको हर ट्रांजैक्शन पर 20 रुपये या 0.05% ब्रोकरेज चार्ज देना पड़ता है।

अपस्टॉक में ट्रेडिंग करने पर कितना चार्ज लगता है?

अगर आप अपस्टॉक्स में इक्विटी इंट्राडे या फ्यूचर्स में ट्रेडिंग करते हैं तो आपको 20 rs/ ट्रेड के हिसाब से चार्ज लगता है जबकि upstox में ऑप्शन ट्रेडिंग करने पर प्रत्येक ट्रेड पर 20 Rs का फ्लैट चार्ज देना पड़ता है।

इस लेख में हमने आपको बताया है कि अपस्टॉक्स खाता खोलने का शुल्क क्या है (Upstox demat account charges in hindi) इसके अलावा हमने अपस्टॉक्स में डीमैट खाता खोलने के बाद लगने वाले सभी जरूरी charges के बारे में बताया है।

अगर आपको ऊपर बताएंगे किसी भी Upstox charges के बारे में समझ ना आया हो तो नीचे कमेंट करके जरूर बताइए।

और अगर आपको upstox charges in hindi के बारे में यह जानकारी उपयोगी लगी हो तो कृपया इसे सोशल मीडिया पर भी जरूर शेयर करें।

5/5 - (7 votes)

मेरा नाम दीपक सेन है और मैं इस वेबसाइट का Founder हूं। यहां पर मैं अपने पाठकों के लिए नियमित रूप से शेयर मार्केट, निवेश और फाइनेंस से संबंधित उपयोगी जानकारी शेयर करता हूं। ❤️