ऑप्शन ट्रेडिंग के नियम | Best Option Trading Rules in Hindi

अधिकतर ट्रेडर्स को ऑप्शन ट्रेडिंग में नुकसान इसीलिए होता है क्योंकि वह बिना किसी स्ट्रेटजी या नियम को फॉलो किये सिर्फ प्रीमियम का प्राइस बढ़ता हुआ देखकर पैसा लगा देते हैं। जबकि प्रोफेशनल ट्रेडर्स ऑप्शन ट्रेडिंग के नियम फॉलो करके ही ट्रेड execute करते हैं।

आज मैं आपको कुछ ऐसे ऑप्शन ट्रेडिंग के नियम (Option trading rules in hindi) बताने वाला हूं जिन्हें फॉलो करके आप ऑप्शन्स buy और sell करके प्रॉफिट कमा सकते हैं।

अगर आप नीचे दिए गए सभी नियम फॉलो करते हैं तो मुझे पूरा विश्वास है कि ऑप्शन ट्रेडिंग में आप कभी भी गलती नहीं करेंगे। मतलब इन ऑप्शन ट्रेडिंग नियमों को अप्लाई करने से option trading में मुनाफा होने के चांसेस बढ़ जाएंगे।

ऑप्शन ट्रेडिंग के नियम

ऑप्शन ट्रेडिंग के नियम, Option trading rules in hindi
ऑप्शन ट्रेडिंग के नियम – Rules of option trading in hindi

चलिए एक-एक करके सभी नियमों के बारे में विस्तार से जान लेते हैं–

1. ऑप्शन ट्रेडिंग में पूरा पैसा कभी मत लगाएं

ऑप्शन ट्रेडिंग का सबसे पहला नियम है कि एक साथ पूरा पैसा निवेश ना करें. कुछ लोग एक ही बार में पूरे पैसे से ऑप्शंस को ट्रेड करते हैं और जब उन्हें नुकसान हो जाता है तो उनके पास कुछ नहीं बचता। आपको ऐसी गलती कभी नहीं करनी चाहिए।

मान लीजिए- अगर आपके पास 10000 रुपये हैं और आप भी पूरा पैसा लगाकर ट्रेड करते हैं तो अगर आपको पहली बार में ही 100% प्रॉफिट होता है और 10000 rs के 20000 rs बन जाते हैं।

तो ऐसे में अब आप लालची हो जाएंगे। जिसके बाद आप दोबारा पूरा पैसा 20000 रुपये लगाएंगे ताकि वह भी कुछ बढ़ जाए।

अब मान लो अगर आपकी किस्मत अच्छी होती है तो दूसरी बार भी आपको मुनाफा होता है और आपका पैसा 40000 रुपये हो जाता है।

तो अब आप क्या करेंगे? सोच कर देखिए….

जी हां, आपको और अधिक लालच आ जाएगा इसलिए आप और अधिक buy करने की सोचेंगे ना कि इसमें से कुछ पैसा बचाने की।

और ऐसा ही बहुत सारे लोग करते हैं कि जब तक उन्हें मुनाफा होता रहता है तब तक वह ट्रेड करते रहते हैं जब तक कि पूरा पैसा ना डूब जाए।

खुद सोच कर देखिए अगर वह ट्रेडर 10000 rs का 40000 रुपये हो जाने के बाद जब तीसरी बार ट्रेड करता है तो अगर इस बार उसे 20000 रुपये का नुकसान होता है तो वह क्या करेगा?

जी हां वह दोबारा ट्रेड करेगा। और तब तक ट्रेड करता रहेगा जब तक की पूरा पैसा ना डूब जाए।

आपको ऐसी गलती ऑप्शन ट्रेडिंग में कभी नहीं करनी चाहिए। इस गलती से बचने के लिए आप ट्रेडिंग करने से पहले एक नियम बना लें कि

  • आज मैं XYZ कैपिटल से ज्यादा ट्रेड नहीं करूंगा।
  • और एक fix अमाउंट निर्धारित करने कि इतने रुपये का नुकसान होने के बाद आज आप ट्रेड नहीं करेंगे चाहे कितना भी मन क्यों ना करे।
  • इसके अलावा एक नियम और बनाने कि कल जितना मैंने प्रॉफिट किया था आज मैं उससे अधिक नुकसान नहीं करूंगा।

अगर आप ऊपर दी गई बातों को फॉलो करते हैं तो ऑप्शन ट्रेडिंग में आपके नुकसान होने के चांसेस बहुत कम हो जाएंगे। और ऑप्शन ट्रेडिंग का पहला नियम याद रखे कि कभी भी पूरे पैसे से ट्रेड मत करें, हमेशा थोड़ा थोड़ा पैसा लगाकर ही ट्रेड करें।

Must Read:

2. Trailing stop loss का उपयोग करें

स्टॉपलॉस के बारे में तो आपको पता ही होगा कि यह ट्रेडिंग में कितना जरूरी होता है। लेकिन ट्रेलिंग स्टॉप लॉस इससे भी ज्यादा महत्वपूर्ण होता है। ट्रेलिंग स्टॉप लॉस का मतलब होता है प्राइस बढ़ने पर stop-loss चेंज करते रहना।

मान लीजिए- अगर अभी किसी कॉल ऑप्शन का प्राइस 100 रुपये है और आपका स्टॉप लॉस 90 रुपये पर लगा हुआ है। अब कुछ समय बाद कॉल ऑप्शन का प्राइस बढ़कर 120 rs हो जाता है तो अब आपको भी अपना स्टॉप लॉस बढ़ाकर 110 rs कर देना चाहिए।

इस प्रकार जैसे जैसे शेयर का प्राइस बढ़ता जाए तो आपको भी उसके साथ साथ अपना स्टॉप लॉस बढ़ाते जाना है। ऐसा करने से नुकसान होने की संभावना पूरी तरह से खत्म हो जाएगी मतलब अगर आप ट्रेलिंग स्टॉप लॉस का उपयोग करते हैं तो ऑप्शन ट्रेडिंग में आपको कभी नुकसान नहीं होगा।

इसीलिए ऑप्शन ट्रेडिंग का यह नियम जरूर फॉलो करें।

ये भी पढ़ें,

3. बिना किसी स्ट्रेटजी के ऑप्शंस को ट्रेड मत करें

अगर आप किसी स्टॉक, निफ्टी या बैंकनिफ्टी का call या पुट ऑप्शन सिर्फ यह देखकर खरीदते हैं कि उसका प्राइस बढ़ रहा है। तो अधिकतर cases में आप देखेंगे कि आपके खरीदने के बाद ही उसकी कीमत गिरने लग जाएगी तब आपको समझ नहीं आएगा कि आपके buy करने के बाद ही ऐसा क्यों होता है?

ऐसा इसलिए होता है क्योंकि आपने बिना टेक्निकल एनालिसिस किए सिर्फ प्राइस बढ़ता हुआ देखकर ऑप्शंस को खरीद लिया और इसके बहुत चांसेस है कि आपने उसे रेजिस्टेंस के नजदीक खरीदा होगा।

इसीलिए स्टॉक आपके खरीदने के बाद ही रेजिस्टेंस से टकराकर वापस नीचे गिरने लगता है। इसीलिए किसी भी स्टॉक या ऑप्शंस को खरीदते समय पहले उसके सपोर्ट और रेजिस्टेंस जरूर चेक कर लें।

इसके अलावा किसी ना किसी ऑप्शन स्ट्रेटजी का उपयोग जरूर करें चाहे वह सपोर्ट रेजिस्टेंस हो, कैंडलेस्टिक पेटर्न हो, चार्ट पेटर्न हो या फिर कोई लॉजिक हो। बिना किसी strategy के कभी भी कॉल या पुट ऑप्शन मत खरीदें। मतलब ऑप्शंस को खरीदने के पीछे कुछ ना कुछ valid reason जरूर होना चाहिए।

तो ऑप्शन ट्रेडिंग का यह तीसरा नियम आपको जरूर फॉलो करना चाहिए जो कि कहता है कि हमेशा किसी ना किसी स्ट्रेटजी का उपयोग करके ही ऑप्शन ट्रेडिंग करें।

4. ऑप्शन ट्रेडिंग में लंबे समय तक पोजीशन मत रखें

ऑप्शन ट्रेडिंग का चौथा नियम है लंबे समय तक पोजीशन होल्ड मत करें. कई बार जब आप ट्रेड लेते हैं तो उसके बाद या तो बाजार sideways चलने लगता है या फिर आप loss में चल रहे होते हैं जिसकी वजह से आप सुबह से शाम तक सिर्फ एक ही ट्रेड में अटके रह जाते हैं।

इसके अलावा कई बार तो लोग अगले दिन के लिए भी ऑप्शंस यह सोचकर होल्ड कर लेते हैं कि शायद कल प्रॉफिट हो जाए लेकिन यह आपकी बहुत बड़ी गलती होती है।

क्योंकि ऑप्शन ट्रेडिंग एक time decaying एसेट है जिसमें टाइम के साथ साथ आपके खरीदे गए ऑप्शंस की वैल्यू भी कम होती जाती है।

इसीलिए जितने लंबे समय तक आप किसी ऑप्शंस को होल्ड करके रखेंगे उतने ही ज्यादा आपके loss होने के चांसेस बढ़ते जाएंगे। क्योंकि ऑप्शन ट्रेडिंग में एक ऑप्शन ग्रीक होता है– ‘थीटा‘ जो समय के साथ-साथ आखिरी खरीदे गए ऑप्शंस के प्रीमियम को कम करता रहता है।

ट्रेडिंग करने से पहले आपको हमेशा एक टाइम फ्रेम निर्धारित करके चलना चाहिए कि अगर इतने समय के बाद भी प्रॉफिट नहीं होगा तो आप अपनी पोजीशन बेच देंगे। और साथ ही आपने स्टॉपलॉस भी लगाया होगा तो किसी भी ट्रेड में फंस कर अपना पूरा पैसा बर्बाद नहीं करना चाहिए बल्कि जितना जल्दी हो सके प्रॉफिट हो चाहे लॉस बुक कर लेना चाहिए।

5. हर समय ट्रेड मत करें

यह तो आपको ही पता होगा कि हर समय ट्रेड करने का अच्छा मौका नहीं होता है क्योंकि कभी-कभी मार्केट बहुत लंबे समय तक एक ही रेंज में घूमता रहता है। अगर मार्केट sideways चल रहा है और आप सिर्फ यह सोचकर ट्रेड करते हैं कि मार्केट ऊपर जाएगा तो शायद आपको नुकसान हो सकता है क्योंकि हो सकता है कि कुछ समय तक मार्केट एक ही रेंज में घूमता रहे और थीटा के कारण आपका प्रीमियम भी कम हो जाए अंत में आपको नुकसान में बेचना पड़े।

इसीलिए मार्केट में कोई मजबूत uptrend या downtrend ट्रेंड होने पर ही ट्रेड करने के अच्छे मौके होते हैं। और आपको उन्हीं मौकों पर ट्रेड करना चाहिए।

अगर आपको अपनी स्ट्रेटेजी पर पूरा विश्वास है कि प्रॉफिट होगा तो ही ट्रेड करें। साथ ही अगर आप प्रॉफिट में चल रहे हैं तो लालच में आकर और ट्रेड मत करें और अगर आप loss में चल रहे है तो loss रिकवर करने के चक्कर में बार-बार ट्रेड मत करें क्योंकि ऐसा करने पर आप अपने इमोशंस पर कंट्रोल नहीं रख पाएंगे और आपका loss भी बढ़ता जाएगा।

इसीलिए यह ऑप्शन ट्रेडिंग का नियम जरूर याद रखें कि हर समय ट्रेड करना जरूरी नहीं है केवल उसी समय ट्रेड करें जब आपको पूरा भरोसा हो कि मार्केट ऊपर ही जाएगा या फिर मार्केट नीचे ही जाएगा।

6. Loan लेकर ऑप्शन ट्रेडिंग कभी मत करें

यह ऑप्शन ट्रेडिंग का नियम सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है कि आपको कभी ही Loan लेकर ट्रेडिंग नहीं करनी चाहिए। काफी सारे नए ट्रेडर्स को जब थोड़ा बहुत प्रॉफिट होता है तो वह Loan लेकर ऑप्शन ट्रेडिंग करने की गलती करते हैं और जब उन्हें loss होता है तो वह बहुत बड़ी मुसीबत में फंस जाते हैं।

जरा खुद सोच कर देखिए अगर आप किसी से पैसे उधार लेकर ट्रेड करेंगे और उस ट्रेड में आपको loss हो रहा होगा तो क्या आप अपनी इमोशंस को कंट्रोल कर पाएंगे, नहीं ना…

क्योंकि उस loss को रिकवर करने के चक्कर में आप डर की वजह से निर्णय लेंगे जो कि अधिकतर गलत ही होगा और इस तरह आपको अधिकतर बार अपने इमोशंस की वजह से बार-बार नुकसान झेलना पड़ेगा। इसीलिए कभी भी Loan लेकर ट्रेडिंग नहीं करनी चाहिए क्योंकि इससे आप बहुत बड़ी मुसीबत में फंस सकते हैं।

Option Trading Rules in Hindi – FAQ’s

क्या ऑप्शन ट्रेडिंग के नियम फॉलो करना जरूरी है?

जी हां, अगर आप ऑप्शंस को ट्रेड करके पैसा कमाना चाहते हैं तो ऊपर दिए गए सभी नियमों को फॉलो करना प्रत्येक ऑप्शन ट्रेडर के लिए जरूरी है।

ऑप्शन ट्रेडिंग करते समय क्या ध्यान रखना चाहिए?

ऑप्शन ट्रेडिंग करते समय कभी भी बिना किसी स्ट्रेटजी के ट्रेड मत करें, लोन लेकर ट्रेडिंग मत करें, स्टॉप लॉस जरूर लगाएं, एक साथ पूरा पैसा कभी मत लगाएं और अधिक लंबे समय तक पोजीशंस होल्ड मत करें तो ऑप्शन ट्रेडिंग करते वक्त इन सभी बातों का ध्यान रखना चाहिए।

ऑप्शन ट्रेडिंग में कौन सा नियम सबसे जरूरी है?

सभी ट्रेडर्स के लिए ऑप्शन ट्रेडिंग का सबसे महत्वपूर्ण नियम है कि कभी भी पैसे लोन पर लेकर ट्रेडिंग मत करें क्योंकि ऐसा करने से नुकसान होने पर आप अपना उधार नहीं चुका पाएंगे जिससे आप बहुत बड़ी मुसीबत में फंस सकते हैं

ऑप्शन ट्रेडिंग के नियम – निष्कर्ष

इस लेख (Option Trading Rules in Hindi) में मैंने आपको ऑप्शन ट्रेडिंग के नियम बताए हैं. अगर आप इन नियमों को फॉलो करते हैं तो मुझे पूरा विश्वास है कि ऑप्शन ट्रेडिंग में आप बहुत सारी गलतियां करने से बच सकेंगे जिससे आपके नुकसान होने की संभावना कम और प्रॉफिट होने की संभावना बढ़ जाएगी।

Also Read: Option Trading Tips in Hindi

अगर आप ऑप्शन ट्रेडिंग में beginner हैं तो ऊपर बताए गए सभी नियम आपके लिए बहुत ही उपयोगी साबित होंगे। उम्मीद करता हूं आपको इस आर्टिकल में दी गई जानकारी उपयोगी लगी होगी।

4.4/5 - (9 votes)
Deepak SenAbout Author
मेरा नाम दीपक सेन है और मैं इस ब्लॉग का Founder हूं। यहां पर मैं अपने पाठकों के लिए नियमित रूप से शेयर मार्केट, निवेश और फाइनेंस से संबंधित उपयोगी जानकारी शेयर करता हूं। ❤️

Leave a Comment