Zee Entertainment और Sony की 10 बिलियन डॉलर की डील हुई कैंसिल, क्या अब अडानी खरीदेंगे कंपनी?

Zee sony merger news hindi

दोस्तों आज हम बात करेंगे जी एंटरटेनमेंट और सोनी की एक बहुत ही बड़ी डील के बारे में जो आज हमें कैंसिल होते हुए देखने को मिली और उसके चलते जी एंटरटेनमेंट के शेयर में 30% की Mega गिरावट हुई. आईए जानते हैं क्या है यह पूरा मामला और Adani group से क्या है इसका संबंध?

Zee Entertainment Share Latest News in Hindi

क्यों कैंसिल हुई जी एंटरटेनमेंट और सोनी की डील– Zee एंटरटेनमेंट और सोनी की 10 बिलियन डॉलर की मर्जर डील के कैंसिल होने की खबर के बाद कंपनी के शेयरों में आज गिरावट आई। इस गिरावट के कई कारण हैं, जिनमें शामिल हैं:

  1. मर्जर डील के कैंसिल होने से कंपनी के भविष्य के विकास की संभावनाएं कम हो गई हैं। मर्जर के जरिए कंपनी को सोनी की तकनीक और वित्तीय ताकत मिलनी थी, जो उसके लिए बहुत फायदेमंद होता। अब जब मर्जर नहीं हो रहा है, तो कंपनी को अपने दम पर आगे बढ़ना होगा।
  2. मर्जर डील के कैंसिल होने से कंपनी की वैल्यूएशन कम हो गई है। मर्जर डील के तहत सोनी ने Zee एंटरटेनमेंट को 27.25 रुपये प्रति शेयर की कीमत पर खरीदने की बात कही थी। अब जब मर्जर नहीं हो रहा है, तो कंपनी के शेयरों की कीमत इस कीमत से कम हो जाएगी।
  3. मर्जर डील के कैंसिल होने से कंपनी के निवेशकों को भारी नुकसान हुआ है। जिन निवेशकों ने Zee एंटरटेनमेंट के शेयरों में मर्जर की उम्मीद में निवेश किया था, उन्हें अब भारी नुकसान हुआ है।

Sony ने Zee एंटरटेनमेंट की मर्जर डील को रद्द करने का कारण “डिमांड का न मिलना” बताया है। इसका मतलब है कि Sony को Zee एंटरटेनमेंट के शेयरधारकों से मर्जर के लिए पर्याप्त समर्थन नहीं मिला। Zee एंटरटेनमेंट के शेयरधारकों में से कुछ ने मर्जर का विरोध किया था, क्योंकि उन्हें लगता था कि इससे उनकी कंपनी का नियंत्रण Sony के हाथ में चला जाएगा।

Zee एंटरटेनमेंट के शेयरों की गिरावट से कंपनी के निवेशकों को भारी नुकसान हुआ है। कंपनी के भविष्य के विकास की संभावनाएं भी कम हो गई हैं।

ब्रोकरेज हाउसेज ने की रेटिंग डाउन

दोस्तों यह जी इंटरटेनमेंट के लिए इतनी बड़ी डील थी कि इस कंपनी का भविष्य पूरी तरह से इस डील के होने पर निर्भर था क्योंकि देखा जाए तो एक बिलियन डॉलर यानी 85000 करोड़ की डील कोई छोटी-मोटी deal नहीं है.

और इस डील के कैंसिल होने के बाद बहुत सारे ब्रोकरेज हाउस ने आग में घी डालने का काम किया मतलब जी इंटरटेनमेंट के शेयर की रेटिंग को डाउनग्रेड कर दिया, मतलब टारगेट कम कर दिए और sell के कॉल देना शुरू कर दिए इसके बाद यह शेयर लगातार गिरता ही चला गया।

क्या है पूरा मामला?

आपको बता दें कि भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (SEBI) की एक जांच में पता चला है कि Zee एंटरटेनमेंट के पूर्व प्रबंध निदेशक (MD) और CEO पुनीत गोयनका ने कंपनी से 800-1,000 करोड़ रुपये निकाल लिए हैं।

SEBI ने इस मामले में जांच शुरू की थी, जब Zee एंटरटेनमेंट के शेयरधारकों ने कंपनी पर आरोप लगाया था कि पुनीत गोयनका ने कंपनी के धन का दुरुपयोग किया है।

SEBI की जांच में पता चला है कि पुनीत गोयनका ने कंपनी के पैसे को अपने निजी खर्चों के लिए इस्तेमाल किया है। उन्होंने कंपनी के पैसे से अपनी पत्नी और बच्चों के लिए महंगी कारें, घर और अन्य संपत्तियां खरीदीं। इसके अलावा, उन्होंने कंपनी के पैसे से अपने राजनीतिक और सामाजिक संबंधों को मजबूत करने के लिए भी इस्तेमाल किया है।

🔥 Whatsapp Group👉 अभी जुड़ें
🔥 Telegram Group👉 अभी जुड़ें

SEBI की इस जांच से Zee एंटरटेनमेंट और पुनीत गोयनका दोनों के लिए मुश्किलें बढ़ गई हैं। SEBI पुनीत गोenka पर आरोप लगा सकता है और उन्हें जुर्माना या जेल की सजा भी हो सकती है। इसके अलावा, इस मामले से कंपनी की छवि पर भी खराब असर पड़ा है।

यह मामला भारतीय मीडिया उद्योग के लिए भी एक झटका है। Zee एंटरटेनमेंट भारत की सबसे बड़ी मीडिया कंपनियों में से एक है। इस मामले से यह साबित हुआ है कि मीडिया उद्योग में भी भ्रष्टाचार की समस्या है।

इस मामले के संभावित परिणाम निम्नलिखित हैं:

  • SEBI पुनीत गोयनका पर आरोप लगा सकता है और उन्हें जुर्माना या जेल की सजा भी हो सकती है।
  • इस मामले से Zee एंटरटेनमेंट की छवि पर खराब असर पड़ा है।
  • यह मामला भारतीय मीडिया उद्योग के लिए एक झटका है।

यह देखना होगा कि SEBI इस मामले में क्या कार्रवाई करती है और इससे Zee एंटरटेनमेंट और पुनीत गोयनका पर क्या प्रभाव पड़ता है।

क्या अदानी खरीद सकता है जी एंटरटेनमेंट को

बता दें कि अडानी ग्रुप Zee Entertainment Enterprises (ZEE) को खरीदने में दिलचस्पी दिखा रहा है। यह खबर उस समय आई है जब Zee Entertainment और Sony Pictures Networks India (SPNI) के बीच 10 अरब डॉलर की मर्जर डील रद्द हो गई थी।

  • Pitchonnet की रिपोर्ट के मुताबिक, अदानी समूह Zee Entertainment को 20 अरब डॉलर में खरीदने के लिए तैयार है।
  • रिपोर्ट में कहा गया है कि अदानी समूह Zee Entertainment के डिजिटल कारोबार में विशेष रूप से दिलचस्पी रखता है।

Zee Entertainment भारत का सबसे बड़ा डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म है और अदानी समूह के Zee Entertainment को खरीदने की खबर से मीडिया उद्योग में हलचल मच गई है। अगर यह डील होती है, तो यह भारतीय मीडिया उद्योग में एक बड़ा बदलाव होगा।

अदानी समूह भारत का सबसे बड़ा निजी समूह है। यह समूह ऊर्जा, बुनियादी ढांचा, परिवहन, रिटेल और मीडिया सहित विभिन्न क्षेत्रों में कारोबार करता है।

  • अदानी समूह ने हाल के दिनों में मीडिया क्षेत्र में कई बड़े सौदे किए हैं।
  • इसने 2022 में Times of India समूह के डिजिटल कारोबार को खरीदा था।
  • इसने 2023 में Network 18 मीडिया समूह के 49% हिस्सेदारी भी खरीदी थी।

अगर अदानी समूह Zee Entertainment को खरीदता है, तो यह समूह भारत के मीडिया उद्योग में एक प्रमुख खिलाड़ी बन जाएगा।

ये भी पढ़ें

5/5 - (1 vote)

मेरा नाम दीपक सेन है और मैं इस वेबसाइट का Founder हूं। यहां पर मैं अपने पाठकों के लिए नियमित रूप से शेयर मार्केट, निवेश और फाइनेंस से संबंधित उपयोगी जानकारी शेयर करता हूं। ❤️